1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. bengal election 2021 mamata banerjee viral audio in sitalkuchi incident mamata accepted her voice in tape said cid to probe matter all detail here pwn

शीतलकुची मामले में Viral Audio पर CM ममता ने तोड़ी चुप्पी, कहा- मेरा फोन टैप हुआ है, CID से कराएंगे जांच

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
शीतलकुची मामले में Viral Audio पर CM ममता ने तोड़ी चुप्पी
शीतलकुची मामले में Viral Audio पर CM ममता ने तोड़ी चुप्पी
social media

कोलकाता : पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के पांचवें चरण की वोटिंग हो रही है. पर इस बीच चौथे चरण में घटी घटना को लेकर सियासत तेज हो रही है. दलअसल चौथे चरण के मतदान वाले दिन कूचबिहार जिले के सीतलकुची में सेंट्रल फोर्स की फायरिंग में चार लोगों की मौत के बाद उनकी लाशों को लेकर रैली करने के वायरल ऑडियो को लेकर ममता बनर्जी ने आखिरकार अपनी चुप्पी तोड़ी है.

शुक्रवार को भाजपा की ओर से ऑडियो जारी किए जाने के बाद शनिवार को हो रहे पांचवें चरण के मतदान वाले दिन पूर्व बर्दवान के गलसी में छठे चरण का चुनाव प्रचार करने पहुंची मुख्यमंत्री ने स्वीकार किया कि आवाज उन्हीं की है. पर इसके साथ ही उन्होंने यह कहते हुए एक नया विवाद को जन्म दे दिया है कि उनका फोन टैप किया जा रहा है. उन्होंने आरोप लगाया कि उनका फोन टैप किया जा रहा है.

गलसी में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने फोन टैपिंग मामले को लेकर कई ऐसे दावें किये जो उनके भाषण से बिल्कुल विपरीत हैं. पहले उन्होंने कहा कि उनका फोन टैप हो रहा है और उन्होंने पता लगा लिया है कि ऐसा कौन कर रहा है. हालांकि थोड़ी देर बाद उन्होंने कहा कि वह अपने फोन टैपिंग की जांच सीआईडी के जरिए जांच कराएंगी.

इसके बाद ममता बनर्जी ने फिर से सेंट्रल फोर्स के जवानों को निशाने पर लिया और धमकी देते हुए वह उन्हें छोड़ेंगी नहीं, सब के खिलाफ कार्रवाई होगी. चुनाव आयोग के ‌ धमकाने वाली भाषा का इस्तेमाल नहीं करने की नसीहत को धत्ता बताते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि वह छोड़ेंगी नहीं तोड़ देंगी.

कोविड-19 के तेजी से प्रसार के बीच चुनाव आयोग द्वारा शाम 7:00 बजे से सुबह 10:00 बजे तक सभी पार्टियों चुनाव प्रचार पर प्रतिबंध लगाए जाने को लेकर भी उन्होंने नाराजगी जताई और आरोप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी के कहने पर ऐसा किया गया है. ममता ने अपने संबोधन के दौरान कहा कि उनके (भाजपा) प्रचार करने वाले नेता दिल्ली से आ रहे हैं जो दिन में प्रचार करते हैं, इसलिए दिन में कोई प्रतिबंध नहीं लगाया गया. लेकिन हमारी पार्टी रात के समय ग्रामीण क्षेत्रों में जनसंपर्क करती है इसीलिए रात को प्रतिबंध लगाया गया है.

उल्लेखनीय है कि कोविड-19 के प्रसार के बीच शुक्रवार को चुनाव आयोग ने सर्वदलीय बैठक की थी जिसके बाद शाम 7:00 बजे से सुबह 10:00 बजे तक चुनाव प्रचार पर रोक लगाई गई है. शुक्रवार को ही भाजपा ने एक ऑडियो जारी किया था जिसमें मुख्यमंत्री सीतलकुची से अपनी पार्टी के उम्मीदवार पार्थ प्रतिम राय से बात कर रही हैं और सीतलकुची में मारे गए लोगों के शव को लेकर रैली करने का निर्देश दे रही हैं. इसे लेकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ममता पर हमला बोला है और कहा है कि दंगाइयों के साथ खड़े होने और लाश पर राजनीति करने की ममता की पुरानी आदत है.

ऑडियो वायरल होने के बाद तृणमूल कांग्रेस ने बयान जारी कर कहा था कि यह फर्जी ऑडियो है और आवाज ममता बनर्जी की नहीं है. इसके बाद जब शनिवार को जनसभा में ममता कहती हैं कि उनके फोन को टैप किया जा रहा है और जिन्होंने भी ऐसा किया है उनके खिलाफ सीआईडी जांच का आदेश देंगी, तब स्पष्ट है कि वह मान रही हैं कि वायरल आवाज उन्हीं की है.

उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर भी हमला बोला और कहा कि कोरोना महामारी से बचाव के लिए पीएम केयर्स फंड में जो धनराशि जमा की गई थी उसका एक रुपया भी खर्च नहीं किया गया है. प्रधानमंत्री केवल झूठ बोलते हैं.

Posted By: Pawan Singh

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें