1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. bengal election 2021 corona connection latest update twitter users asking for one nation one election concept as rising covid 19 cases in west bengal and india abk

कोरोना संक्रमण और ‘वन नेशन, वन इलेक्शन’ का कनेक्शन, बढ़ते मामलों के बीच ट्विटर यूजर्स की अनोखी मांग

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
कोरोना संक्रमण और ‘वन नेशन, वन इलेक्शन’ का कनेक्शन
कोरोना संक्रमण और ‘वन नेशन, वन इलेक्शन’ का कनेक्शन
प्रभात खबर

‍Bengal Election 2021: भारत में कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर के चलते हर दिन रिकॉर्ड मामले सामने आ रहे हैं. शुक्रवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के जारी आंकड़ों से पता चलता है कि पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 1,31,968 मामले मिले हैं. कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए कई राज्यों ने पाबंदियों का एलान किया है. महाराष्ट्र ने वीकेंड लॉकडाउन लगाने के निर्देश जारी किए हैं. दिल्ली, बिहार, झारखंड, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ समेत कई राज्यों में भी पाबंदियां लगाई गई हैं.

सोशल मीडिया पर ‘वन नेशन, वन इलेक्शन’ मुद्दा

सोशल मीडिया पर वन नेशन, वन इलेक्शन का मामला भी उठ रहा है. कई ट्विटर यूजर्स बंगाल चुनाव और कोरोना संक्रमण को देखते हुए वन नेशन, वन इलेक्शन को अपनाने की मांग करते दिख रहे हैं. दरअसल, बंगाल चुनाव के बाकी बचे चार चरणों की वोटिंग के लिए प्रचार जारी है. चुनाव प्रचार और रोड शो में उमड़ती भीड़ पर ट्विटर यूजर्स सवाल कर रहे हैं. यूजर्स का मानना है कि भारी भीड़ से कोरोना संकट बेकाबू हो रहा है. आशंका जताई जा रही है कि बंगाल में चुनाव के बाद कोरोना संक्रमण के मामले अचानक बढ़ सकते हैं. इसी आशंका पर वन नेशन, वन इलेक्शन की बात की जा रही है.

बंगाल में बढ़ते मामले और ट्विटर यूजर्स की मांग

ट्विटर यूजर्स की मानें तो देश में सभी चुनाव एक साथ होने चाहिए. इससे बार-बार आचार संहिता नहीं लगेगी. चुनाव आयोग का खर्चा कम होगा. चुनाव के कारण बार-बार जरूरी काम बाधित नहीं होगी. वन नेशन, वन इलेक्शन के मुद्दे पर सभी पार्टियों को एकमत होना होगा. बंगाल में कोरोना संक्रमण की बात करें तो पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 2,783 केस दर्ज किए गए हैं. बंगाल चुनाव के प्रचार से जुड़ी कई तसवीरें सोशल मीडिया पर वायरल होती रहती हैं. इन तसवीरों में उमड़ी भीड़ और कोरोना संक्रमण का कनेक्शन भी ढूंढा जाता है. कई यूजर्स वन नेशन, वन इलेक्शन की बात भी करते हैं.

पीएम मोदी भी ‘वन नेशन, वन इलेक्शन’ के समर्थक

भारत के लिए वन नेशन, वन इलेक्शन का कॉन्सेप्ट नया नहीं है. इस मुद्दे पर बीजेपी, कांग्रेस से लेकर तमाम पार्टियां अपनी राय जाहिर करती रहती हैं. पिछले साल 26 नवंबर को संविधान दिवस के मौके पर भी पीएम मोदी ने संबोधन में वन नेशन, वन इलेक्शन का जिक्र किया था. पीएम मोदी ने कहा था हमें वन नेशन, वन इलेक्शन की दिशा में पॉजिटिव अप्रोच के साथ आगे बढ़ना होगा. ऐसा होने से हर साल होने वाले चुनावों, खर्चों और चुनावों से रुकने वाले कामों से बचा जा सकेगा. अब, बंगाल चुनाव, कोरोना संक्रमण के मुद्दे पर ट्विटर यूजर्स वन नेशन, वन इलेक्शन की जरूरत पर जोर दे रहे हैं.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें