1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. bengal chunav 2021 people of durgapur 34 number ward are tired of electoral promises the mood for change bjp vs tmc gharui ram news pwn

चुनावी वादों से थक चुके हैं दुर्गापुर के 34 नंबर वार्ड के लोग,बना रहे परिवर्तन का मूड

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
चुनावी वादों से थक चुके हैं दुर्गापुर के 34 नंबर वार्ड के लोग,बना रहे परिवर्तन का  मूड
चुनावी वादों से थक चुके हैं दुर्गापुर के 34 नंबर वार्ड के लोग,बना रहे परिवर्तन का मूड
Prabhat Khabar

पानागढ़ (मुकेश तिवारी): पश्चिम बंगाल विदानसभा चुनाव के चौथे चरण का मतदान संपन्न हो चुका है. चुनाव प्रचार के बीच टीएमसी खेला होबे का नारा लगा रही है, बीजेपी आसोल पोरिबोर्तनन का नारा लगा रही है. जबकि सीपीएम का कहना है कि ना खेला होबे ना पोरिवर्तन होबे सुधु विकास होबे.. इस बीच मतदातओ के मन में कइ तरह के सवाल भी हैं और गुस्सा भी है.

दुर्गापुर पश्चिम विधानसभा क्षेत्र के 34 नम्बर वार्ड के गेमन कॉलोनी, तेली पाडा , खटाल पाडा, उड़िया पाडा के मतदाताओं आरोप है कि आज तक मुलभूत सुविधाएं तक नहीं मिल पायी है. पिछले 10 वर्षों में टीएमसी के शासन काल में आज भी इन इलाके के लोगों की समस्याओं को लेकर किसी ने चिंता नहीं की.

इसी नाराजगी को यहां के लोगों ने पोरिवर्तन होबे की मांग करते हुए सोनार बांग्ला के सपने दिखाने वाले भाजपा में शामिल हो गए हैं. इस विधानसभा सीट से बीजेपी ने लखन घरूई को उम्मीदवार बनाया है. यहां आगामी 26 अप्रैल को मतदान होना है. पर इससे पहले ही स्थानीय मतदाताओं का आक्रोश देखा जा रहा है.

हालांकि जिस तरह से टीएमसी के समर्थक बीजेपी में शामिल हुए हैं उससे बीजेपी यहां काफी खुश है. बीजेपी उम्मीदवार लखन घरूई भी इससे काफी उत्साहित है कहा कि अगर यहां से बीजेपी जीतती है तो सबसे पहले यहां की मूलभूत आवश्यकताओं को पूरा किया जाएगा.

इलाके के स्थानीय लोगों का कहना है कि दुर्गापुर शहर के बीच मे मौजूद इस कॉलोनी की हालत काफी जर्जर हो चुकी है. एक ओर जहां दुर्गापुर रात दिन बड़ी बड़ी इमारतों और शॉपिंग मॉल के टॉवर खड़े कर रहा है वही इसी दुर्गापुर में गैमन कॉलोनी की तरह कई इलाके है जहां आज भी मूलभूत सुविधाओं का अभाव है.

इसके कारण इलाके के लोगों में आक्रोश है. गैमन कॉलोनी के तीन पाडा के लोगों ने भाजपा उम्मीदवार को बताया कि विगत पांच वर्षों में जीतने के बाद विधायक ने इनकी सुध तक नही ली. इस बार यहां के इन तीन पाडा के लोगों ने परिवर्तन का मूड बना लिया है.

हालांकि भाजपा उम्मीदावर को स्थानीय मतदाताओं के समर्थन करने से यहां के मतदाताओं ने थोड़ी उम्मीद की किरण जगी है, लेकिन स्थानीय कुछ मतदाताओं का कहना है कि इस बार भी संभवत: हम लोगों की यही दशा होगी. यह परिवर्तन के नेता यदि जीत जाते है तो वह भी जीतकर यहां से नदारद हो जाएंगे और हमारी समस्याएं जस की तस बनी रह जाएगी.

दूसरी ओर तृणमूल के प्रार्थी और विधायक विश्वनाथ पड़ियाल ने भाजपा उम्मीदवार पर कटाक्ष करते हुए कहा कि जो अपना घर खुद नहीं संभाल पाते हैं वह दूसरों की समस्या का हल क्या करेंगे. भाजपा प्रत्याशषी के भतीजे खुद रेप केस में फरार है भाजपा प्रत्याशी के खिलाफ उन्हीं के दल की एक बागी उम्मीदवार उनके खिलाफ खड़ी है, इसी से अंदाजा लगाया जा सकता है कि दुर्गापुर में भाजपा की आंतरिक हालत कैसी है.

Posted By: Pawan Singh

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें