1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. bengal chunav 2021 deadly attack on bjp leader in alipurduar brother of leader injured accused in police custody tmc bengal election violence pwn

Bengal Chunav 2021: अलीपुरदुआर में BJP नेता पर जानलेवा हमला, भाई जख्मी, हिरासत में आरोपी

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
अलीपुरदुआर में BJP नेता पर जानलेवा हमला, भाई जख्मी, हिरासत में आरोपी
अलीपुरदुआर में BJP नेता पर जानलेवा हमला, भाई जख्मी, हिरासत में आरोपी
Prabhat Khabar

अलीपुरदुआर (जीतेंद्र पांडेय) : अलीपुरदुआर में बीजेपी नेता पर जानलेवा हमला किया गया है. इस दौरान बीचबचाव में आये बीजेपी नेता का भाई गंभीर रुप से जख्मी हो गया है. घटना रविवार की है. बताया जा रहा है कि यह घटना रविवार दोपहर को अलीपुरदुआर के पश्चिम चेपानी गांव में हुई हैं. घटना का आरोप तृणमूल से जुड़े लोगों पर लगाया जा रहा है हालांकि तृणमूल ने भी आरोप को बेबुनियाद बताया है.

चुनाव से हुई इस घटना के बाद अलीपुरदुआर में राजनीतिक पारा गर्म हो गया है. सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि रविवार दोपहर एक व्यक्ति ने भाजपा के जिला सचिव अर्जुन देबनाथ पर धारदार हथियार से हमला करने की कोशिश की. इस दौरान अर्जुन को बचाने के लिए उनके भाई देबनाथ सामने आ गये. फिर उस व्यक्ति ने बीजेपी नेता के भाई पर हमला कर दिया.

इसके बाद मौके पर लोगों की भीड़ जमा हो गयी है और हमलावर की जमकर पिटाई कर दी. घटना का जानकारी मिलने पर सामकुतला थाना की पुलिस मौके पर पहुंची. घटनास्थल पर सामुकतला थाना की पुलिस भी मौके पर और हमले के आरोपी को गिरफ्तार कर लिया. वहीं इस हमले में गंभीर रूप से घायल बीजेपी नेता के भाई असीम देबनाथ को अलीपुरदुआर जिला अस्पताल पहुंचाया गया. जहां उसकी गंभीर हालत को देखते हुए उसे उत्तर बंगाल मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया .

पुलिस सूत्रों से बताया गया कि घटना में शामिल आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है. आरोपी का नाम चिरंजीत देबनाथ है. जो समुकतला थाना के पश्चिम चेपनी गांव का रहने वाला है. इधर चुनावी माहौल में एक पार्टी नेता पर हमला होने पर भाजपा नेताओं में आक्रोश है. रविवार शाम जख्मी हुए असीम को देखने के भाजपा जिला अध्यक्ष गंगा प्रसाद शर्मा, युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष बिप्लब दास और अन्य भाजपा नेता कार्यकर्ता अलीपुरदुआर जिला अस्पताल में पहुंचे हुए थे.

घटना को लेकर भाजपा ने आरोप लगाया कि तृणमूल अब चुनावी लड़ाई हारने के डर से उपद्रवियों का शोषण करके हमारे कार्यकर्ताओं पर हमला करने की योजना बना रही है. इसलिए उन्होंने इसमें विभिन्न असामाजिक तत्वों का इस्तेमाल किया है. इधर तृणमूल कांग्रेस ने भी लगाये गये आरोप से इनकार किया है. तृणमूल पार्टी के नेताओं का दावा है कि इस घटना में शामिल आरोपी से तृणमूल का कोई लेना-देना नहीं है और इस घटना से कोई राजनीतिक संबंध नहीं हो सकता है.

Posted By: Pawan Singh

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें