1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. bengal chunav 2021 coronavirus bengal amit malviya attacks mamata banerjee over letter to pm questioning new vaccine policy pwn

कोरोना से बेकाबू हालात के बीच जुबानी जंग तेज, अमित मालवीय ने ममता बनर्जी की गंभीरता पर उठाये सवाल

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
अमित मालवीय ने ममता बनर्जी की गंभीरता पर उठाये सवाल
अमित मालवीय ने ममता बनर्जी की गंभीरता पर उठाये सवाल
Twitter

बीजेपी आईटी सेल के प्रमुख और बंगाल बीजेपी सह प्रभारी अमित मालवीय ने कोरोना प्रबंधन पर बंगाल मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की गंभीरता पर सवाल उठाएं हैं. अमित मालवीय ने ट्वीट कर कहा है कि बंगाल में जिस तरह से कोरोना संक्रमण के मामले आ रहे हैं यह कोरोना प्रबंधन के प्रति ममता बनर्जी की गंभीरता को दर्शाता है. जबकि स्वास्थ्य विभाग भी ममता बनर्जी के ही पास है.

कोरोना प्रबंधन के संबंध में केंद्र की बैठकों में ममता बनर्जी के नहीं शामिल होने पर हमला बोलते हुए अमित मालवीय ने कहा कि ममता बनर्जी पिछले ने तीन महीनों में पीएम और सीएम के बीच कोरोना प्रबंधन पर आयोजित एक भी बैठक में भाग नहीं लिया है. ममता बनर्जी चुनाव प्रचार में व्यस्त हैं.

कोरोना वैक्सीन को ममता बनर्जी पर आरोप लगाते हुए अमित मालवीय ने कहा कि पश्चिम बंगाल की सरकार राज्य को भेजे गये कोरोना वैक्सीन का कोटा का भी उपयोग करने में विफल रही. साथ ही कहा किया कोरोना बेड की संख्या भी राज्य में घटायी गयी है. उन्होंने बताया कि पहले राज्य भर में 13,588 बेड थे जो अप्रैल महीने में घटकर 7,776 हो गयी है. इसके अलावा कोरोना संक्रमण के उपचार की सुविधाओं को भी घटाया गया है.

गौरतलब है कि नयी वैक्सीन पॉलिसी को लेकर ममता बनर्जी ने पीएम मोदी को पत्र लिखा था. पत्र में ममता बनर्जी ने पीएम मोदी पर आरोप लगाते हुए कहा था कि पीएम मोदी संकीर्ण राजनीति करते हैं. इसपर पलटवार करते हुए अमित मालवीय ने कहा कि मुख्यमंत्री वही सब करती हैं जो संकीर्ण राजनीति के लिए प्रधानमंत्री को पत्र लिखती हैं .

इससे पहले ममता बनर्जी ने मंगलवार को केंद्र सरकार को चिट्ठी लिखी थी. चिट्ठी में कहा गया है कि 19 अप्रैल को सरकार ने वैक्सीन पॉलिसी की घोषणा की है, पर इसमें सोच का आभाव है. साथ ही केंद्र सरकार की जिम्मेदारी का भी जिक्र नहीं है. आगे लिखा गया है कि बंगाल सरकार ने 24 फरवरी को भी केंद्र को एक चिट्ठी लिखी थी जिसमें कहा गया था कि केंद्र सरकार राज्यों को वैक्सीन खरीदने की इजाजत दें. ताकि राज्य सरकार जनता को मुफ्त में कोरोना वैक्सीन दे सकें.

Posted By: Pawan Singh

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें