1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. bengal chunav 2021 cm yogi accuses tmc of hooliganism says up model in bengal to control crime bengal election 2021 pwn

Bengal Chunav 2021: CM योगी का TMC पर गुंडागर्दी करने का आरोप, बोले- बंगाल में UP मॉडल से करेंगे क्राइम कंट्रोल

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
CM योगी का TMC पर गुंडागर्दी करने का आरोप
CM योगी का TMC पर गुंडागर्दी करने का आरोप
Twitter

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण के मतदान के लिए चुनाव प्रचार का आज आखिरी दिन है. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बंगाल में हैं. सीएम योगी ने बंगाल की धरती पर कश्मीर का उदाहरण देते हुए कहा कि आज जिस तरह की गुंडागर्दी हम बंगाल में देख रहे हैं, वैसा ही व्यवधान कश्मीर में हुआ करता था. आज कश्मीर में आतंकवाद नहीं बल्कि विकास बढ़ रहा है.

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ जंगीपारा में ने कहा कि बंगाल में भी गुंडो को ठीक करने के लिए यूपी मॉडल अपनाया जायेगा. बंगाल में बीजेपी सरकार बनने के साथ ही टीएमसी के गुंडे भी यूपी के गुंडों की तरह ही मिलेंगे. चुनाव परिणाम के बाद ये गुंडे अपने घुटनों पर होंगे. अगर दीदी फालतू भाषा का इस्तेमाल करती हैं, तो बंगाल के युवा उन्हें करारा जवाब देंगे.

इससे पहले शनिवार को बंगाल में रोड शो के बाद रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस और वामपंथियों को भी निशाने पर रखा. मुख्‍यमंत्री ने कहा कि बंगाल की धरती को टीएमसी के गुंडों ने गुंडागर्दी और अराजकता की धरती बना दिया है. कांग्रेस वामपंथी दलों और टीएमसी ने यहां के पूरे वातावरण को अराजकता में बदलकर तुष्टीकरण की भेंट चढ़ा दिया है.

योगी ने कहा कि रुझान बता रहे हैं कि भारतीय जनता पार्टी भारी बहुमत से बंगाल में सरकार बनाने जा रही है. बंगाल की धरती परिवर्तन की अंगड़ाई ले रही है. परिवर्तन इसलिए भी आवश्यक है क्योंकि ममता दीदी, जो अब तक भाजपा का विरोध करती थीं, वो अब भगवान राम का भी विरोध करने लगी हैं . मुख्‍यमंत्री ने कहा कि हमारे यहां कहा गया है कि "जाके प्रिय न राम वैदेही,तजिये ताहि कोटि बैरी सम,जद्दपि परम सनेही". यानी जो राम का विरोधी है ,मां जानकी का विरोधी है, वह चाहे कितना भी आपका प्रिय क्यों न हो,उसको एक बैरी की तरह पूरी तरह त्याग देना चाहिए.

बंगाल में तुष्टिकरण के नाम पर बहुसंख्यक समुदाय की भावनाओं के साथ खिलवाड़ हो रहा है. दो साल पहले यहां की सरकार ने दुर्गापूजा को प्रतिबंधित करने का कार्य किया था, तब कलकत्ता हाईकोर्ट ने कहा था कि जब दुर्गापूजा उत्तर प्रदेश में हो सकती है तो बंगाल में क्यों नही .

Posted By: Pawan Singh

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें