1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. bengal chunav 2021 96 candidates contesting election in seventh phase are debtors biggest 3 debtors are of tmc and congress read full detail here mtj

बंगाल चुनाव 2021: कर्ज में डूबे 96 उम्मीदवार, सबसे बड़े 3 कर्जदारों में 2 तृणमूल के

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
सातवें चरण में चुनाव लड़ रहे कर्ज में डूबे उम्मीदवारों का ब्योरा
सातवें चरण में चुनाव लड़ रहे कर्ज में डूबे उम्मीदवारों का ब्योरा
Prabhat Khabar Graphics

कोलकाता : बंगाल विधानसभा चुनाव के सातवें चरण में 36 सीटों पर चुनावी मैदान में उतरे 284 उम्मीदवारों में से 96 उम्मीदवार कर्जदार हैं. वेस्ट बंगाल इलेक्शन वॉच और एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) की रिपोर्ट में बताया गया है कि सातवें चरण के लगभग 34% उम्मीदवार कर्जदार हैं. उन्होंने अपने हलफनामा में इस देनदारी के बारे में जानकारी दी है.

एडीआर की रिपोर्ट के मुताबिक, सातवें चरण में देनदारी घोषित करने वाले 96 उम्मीदवारों में से सबसे अधिक देनदारी घोषित करने वाले तीन उम्मीदवारों में दो तृणमूल कांग्रेस के हैं. तृणमूल के जाकिर हुसैन, कांग्रेस के दिवंगत नेता रिजाउल हक और मुर्शिदाबाद के सुती से चुनाव लड़ रहे तृणमूल के इमानी विश्वास पर सबसे ज्यादा देनदारी है.

मुर्शिदाबाद जिला के जंगीपुर विधानसभा क्षेत्र से चुनावी मैदान में उतरे तृणमूल के जाकिर हुसैन ने अपनी देनदारी 6,23,03,203 रुपये घोषित की है. हालांकि, इनकी संपत्ति भी 67 करोड़ के ऊपर है. दूसरे नंबर पर सबसे अधिक देनदारी घोषित करने वाले मुर्शिदाबाद जिला के ही शमशेरगंज विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस के प्रत्याशी मोहम्मद रिजाउल हक हैं.

रिजाउल हक अब इस दुनिया में नहीं हैं. पिछले दिनों कोरोना संक्रमण की वजह से उनका निधन हो गया. यही वजह है कि सातवें चरण में शमशेरगंज विधानसभा में मतदान नहीं होगा. यहां 16 मई को अलग से मतदान कराया जायेगा.

उन्होंने अपनी देनदारी 5,20,11,199 रुपये घोषित की थी. वहीं तीसरे नंबर पर मुर्शिदाबाद के सूती विधानसभा क्षेत्र से तृणमूल प्रत्याशी ईमानी विश्वास है, जिन्होंने अपनी देनदारी 2,57,74,415 रुपये घोषित की हैं.

आधे उम्मीदवार कम पढ़े-लिखे

एडीआर की रिपोर्ट के मुताबिक, 143 (50 प्रतिशत) उम्मीदवार कम पढ़े लिखे हैं. इन लोगों ने अपनी शैक्षणिक योग्यता पांचवी और 12वीं के बीच घोषित की है, जबकि 134 (47 प्रतिशत) उम्मीदवारों ने अपनी शैक्षिक योग्यता स्नातक और इससे ज्यादा घोषित किया है. वहीं, 6 उम्मीदवारों ने बताया है कि वे डिप्लोमाधारक हैं.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें