1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. bengal assembly election 2021 south 24 pargana vidhan sabha seat equation tmc and bjp fight amit shah entry abhishek banerjee stronghold avh

WB Election 2021 : अभिषेक के गढ़ में शाह की एंट्री! किला बचाने के लिए TMC को करनी होगी कड़ी मशक्कत, पढ़ें दक्षिण 24 परगना के इन चार सीटों का समीकरण

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
south 24 parganas election 2021
south 24 parganas election 2021
प्रभात खबर

Bengal Chunav 2021 : दक्षिण 24 परगना जिले की कुल 31 विधानसभा हैं और इन 31 सीटों में से 29 सीटों पर राज्य की सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस का कब्जा है. दक्षिण 24 परगना जिला तृणमूल कांग्रेस का किला माना जाता है, क्योंकि ममता बनर्जी के भतीजे व सांसद अभिषेक बनर्जी भी इसी जिले से सांसद हैं. दक्षिण 24 परगना जिले की 31 सीटों पर चुनाव तीन चरणों में संपन्न होगा. आज अमित दक्षिण 24 परगना में एक जनसभा को संबोधित करेंगे.

चुनाव के दूसरे, तीसरे व चौथे चरण में एक, छह व 10 अप्रैल को मतदान होगा. भाजपा ने यहां तृणमूल कांग्रेस को शिकस्त देने के लिए एड़ी-चोटी एक कर दिया है. पार्टी के वरिष्ठ नेता लगातार जिले का दौरा कर चुनाव प्रचार कर रहे हैं. जानकारी के अनुसार, एक अप्रैल को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी जिले में चुनावी सभा को संबोधित करेंगे. वहीं, तृणमूल कांग्रेस ने भी यहां प्रचार अभियान तेज कर दिया है. हालांकि माना जा रहा है कि तृणमूल कांग्रेेस को यहां अपनी किला बचाने के लिए मशक्कत करनी पड़ेगी. दूसरे चरण में एक अप्रैल को जिले की चार सीटों- गोसाबा (सुरक्षित), पाथरप्रतिमा, सागर व काकद्वीप में मतदान होगा.

वर्ष 2016 के विधानसभा चुनाव में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस (तृणमूल) ने जिले की 31 में से 29 सीटों पर जीत दर्ज कर परचम लहराया था. वहीं, दो सीटों पर माकपा ने जीत दर्ज की थी. भाजपा व कांग्रेस का यहां खाता नहीं खुला था. लेकिन, 2019 के लोकसभा चुनाव में भाजपा की लहर के बाद इस बार परिस्थितियां बदली हैं. इस बार सभी सीटों पर तृणमूल व भाजपा के बीच सीधा मुकाबला है. ऐसे में तृणमूल के सामने इस बार अपना सबसे मजबूत गढ़ बचाने की चुनौती है.

गोसाबा : इस सीट से तृणमूल के निवर्तमान विधायक जयंत नस्कर और भाजपा के चित्त वरुण प्रमाणिक जोर-आजमाइश कर रहे हैं. तृणमूल उम्मीदवार जयंत नस्कर अपनी सीट बचाने के लिए लगातार प्रचार में जुटे हैं. वहीं, भाजपा ने भी अपनी पूरी ताकत झोंक रखी है. वाममोर्चा से यहां आरएसपी के अनिल चंद्र मंडल मैदान में हैं.

पाथरप्रतिमा : इस सीट से तृणमूल के निवर्तमान विधायक समीर कुमार जाना और भाजपा के असित हालदर के बीच इस बार बेहद कड़ा मुकाबला है. श्री जाना 2011 से इस सीट पर जीत हासिल करते आ रहे हैं और उनके सामने सीट बचाने की बड़ी चुनौती है. वहीं, कांग्रेस के सुखदेव बेरा भी यहां मुकाबले को त्रिकोणीय बनाने के लिए मेहनत कर रहे हैं.

सागर: इस सीट पर तृणमूल के निवर्तमान विधायक बंकिम चंद्र हाजरा व भाजपा के विकास चंद्र कामिला के बीच टक्कर है. वरिष्ठ विधायक बंकिम चंद्र हाजरा 2011 से इस सीट से जीत रहे हैं. तीसरी बार जीत सुनिश्चित करने के लिए वे लगातार प्रचार अभियान में जुटे हैं. हालांकि इस बार उनके लिए राह आसान नहीं है. भाजपा यहां कड़ी चुनौती दे रही है. अमित शाह व योगी आदित्यनाथ भी यहां रैली कर चुके हैं. वहीं, माकपा से यहां डॉ शेख मुकुलेश्वर रहमान मैदान में हैं.

काकद्वीप: इस सीट से ममता सरकार में मंत्री और तृणमूल के निवर्तमान विधायक मंटूराम पाखीरा एवं भाजपा से दीपंकर जाना मैदान में हैं. तीन बार के विधायक पाखीरा ने इस सीट पर 2001, 2011 व 2016 में जीत हासिल की थी. वहीं, लगातार तीसरी बार जीत सुनिश्चित करने के लिए पाखीरा लगातार चुनाव प्रचार में जुटे हैं. वहीं, भाजपा के दीपंकर जाना से इस बार उन्हें भी कड़ी टक्कर मिल रही है. इस सीट पर कांग्रेस से इंद्रनील राउत मैदान में हैं

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें