1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. asansol
  5. kidnapper jumped into canal in siwan district of bihar to escape from bengal police accused fired on police

बंगाल पुलिस से बचने के लिए सीवान में किडनैपर ने नहर में लगा दी छलांग, पुलिस पर की फायरिंग

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
जमशेदपुर के अशोक भारती की बेटी पलक भारती को बनाया गया है अशोक कानू अपहरणकांड का आरोपी.
जमशेदपुर के अशोक भारती की बेटी पलक भारती को बनाया गया है अशोक कानू अपहरणकांड का आरोपी.
Image for Representation Only.

आसनसोल : पश्चिम बंगाल में अशोक कानू अपहरणकांड का मुख्य आरोपी अनूप यादव की गिरफ्तारी को लेकर सीवान मुफस्सिल थाना की पुलिस ने शनिवार देर रात को उसके चाचा कृष्णा यादव की ससुराल में छापामारी की. अनूप किसी तरह पुलिस को चकमा देकर वहां से भाग निकला. पुलिस ने उसका पीछा किया. पुलिस से बचने के लिए वह नहर में कूद गया. उसने पुलिस पर फायरिंग भी की.

उसे गिरफ्तार करने के लिए पुलिस भी पानी में उतरी, लेकिन बहाव तेज होने के कारण वह भागने में सफल रहा. भागने के क्रम में अनूप ने पुलिस पर एक राउंड फायरिंग भी की. पुलिस उसके दो चाचा को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है. अनूप की गिरफ्तारी को लेकर छापेमारी जारी है. संभावना है कि वह जल्द पकड़ा जायेगा.

सनद रहे कि आसनसोल साऊथ थाना क्षेत्र के बलतोड़िया बिहारीपाड़ा निवासी व इसीएल नरसमुंदा कोलियरी के कर्मी अकल कानू के पुत्र अशोक कानू (24) 15 फरवरी, 2020 से लापता है. आसनसोल साऊथ थाना में गुमशुदगी की शिकायत दर्ज करायी गयी. नौ मार्च को श्री कानू ने अपने बेटे के अपहरण की शिकायत दर्ज गयी.

शिकायत में उन्होंने जमशेदपुर (झारखंड) जिला के परसुडीह थाना अंतर्गत हरहरगुट्टू जेल रोड इलाके के निवासी अशोक भारती की बेटी पलक भारती को आरोपी बनाया. शिकायत के आधार पर आसनसोल साऊथ थाना कांड संख्या 92/2020 में आईपीसी की धारा 363/365 के तहत मामला दर्ज हुआ.

पुलिस ने आरोपी पलक भारती को 12 मई को उसके आवास से गिरफ्तार किया. 13 मई को अदालत में पेश कर 10 दिन की रिमांड पर लिया. पुनः तीन दिन की रिमांड ली. इस बीच प्रभात खबर ने पलक और मुख्य आरोपी सीवान निवासी अनूप यादव और उसके सहयोगियों के साथ हुई बातचीत के ऑडियो क्लिपिंग का खुलासा किया.

तीन बार हुई अनूप के घर छापेमारी

अशोक के अपहरण में पलक के बयान पर अनूप यादव की संलिप्तता सामने आने पर पुलिस आयुक्त सुकेश कुमार जैन ने सीवान के पुलिस अधीक्षक अभिनव कुमार को फोन कर अनूप की गिरफ्तारी के बारे में बातचीत की. इसके बाद सीवान पुलिस ने उसके घर पर छापेमारी की. वह फरार हो गया.

आसनसोल साऊथ थाना पुलिस ने अनूप के घर पर छापेमारी की. उस वक्त भी वह पुलिस की गिरफ्त में नहीं आया. सीवान के एसपी श्री कुमार ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए मुफस्सिल थाना के प्रभारी को सात दिनों के अंदर गिरफ्तारी का आदेश दिया. इस आदेश के आलोक में कार्रवाई करते हुए शनिवार शाम को पुलिस ने अनूप यादव के विशुनपुर स्थित आवास पर छापेमारी की. अनूप वहां नहीं था.

अनूप का पिता जयराम यादव वहां से फरार हो गया. पुलिस ने उसके दो चाचा को पूछताछ के लिए अपने साथ थाना लायी. पूछताछ में चाचा कृष्णा यादव ने बताया कि अनूप को उन्होंने अपने ससुराल में शरण दी गयी. उसकी निशानदेही पर शनिवार रात को ही उसके ससुराल में छापेमारी हुई. पुलिस को देख अनूप वहां से भाग निकला. पुलिस ने उसका पीछा किया. बचने के लिए अनूप ने नहर में छलांग लगा दी. सूत्रों के अनुसार भागने के क्रम में उसने एक राउंड फायरिंग भी की.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें