1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. anti kailash vijayvargiya poster at west bengal bjp office in kolkata go back tmc setting master mtj

कैलाश विजयवर्गीय के खिलाफ भाजपा कार्यालय के बाहर लगे पोस्टर, लिखा- टीएमसी सेटिंग मास्टर

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
इंदौर में कैलाश, कोलकाता में विरोध
इंदौर में कैलाश, कोलकाता में विरोध
Prabhat Khabar

कोलकाताः पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव 2021 में भारतीय जनता पार्टी की हार के बाद बीजेपी की राज्य इकाई में उठापटक जारी है. इसी बीच, पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के खिलाफ कोलकाता स्थित भाजपा कार्यालय के बाहर शुक्रवार को वापस जाओ के पोस्टर लगे मिले.

सेंट्रल एवेन्यू स्थित पार्टी के प्रदेश मुख्यालय और हेस्टिंग्स स्थित दूसरे अहम भाजपा कार्यालय में लगे पोस्टरों में पश्चिम बंगाल में भाजपा के प्रभारी विजयवर्गीय की तस्वीर है और उन्हें सेटिंग मास्टर बताया गया है. कुछ पोस्टरों में विजयवर्गीय और मुकुल रॉय के गले मिलते वक्त ली गयी तस्वीर है, जो करीब चार साल तक भाजपा में रहने के बाद इस महीने तृणमूल कांग्रेस में लौट गये.

एक समय मुकुल रॉय तृणमूल कांग्रेस में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के बाद दूसरे सबसे कद्दावर नेता थे. हालांकि, बाद में भाजपा कार्यकर्ताओं ने इन पोस्टरों को हटा दिया. भाजपा के वरिष्ठ नेता राहुल सिन्हा ने इस घटना के लिए तृणमूल कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराया.

राहुल सिन्हा बोले- टीएमसी जिम्मेदार

राहुल सिन्हा ने कहा कि इसके लिए तृणमूल जिम्मेदार है. वे हमारे बीच भ्रम की स्थिति पैदा करना चाहते हैं. हालांकि, तृणमूल कांग्रेस के प्रदेश महासचिव कुणाल घोष ने इन आरोपों को खारिज करते हुए उन्हें आधारहीन करार दिया. उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल भाजपा आंतरिक संघर्ष के दौर से गुजर रही है और पुराने नेताओं तथा पार्टी में आये नये लोगों के बीच द्वंद्व चल रहा है. यह घटना उसी का नतीजा है.

बंगाल बीजेपी का कलह या तृणमूल की साजिश?
बंगाल बीजेपी का कलह या तृणमूल की साजिश?
Prabhat Khabar

गौरतलब है कि वरिष्ठ भाजपा नेता तथागत रॉय ने पूर्व में सार्वजनिक रूप से, कैलाश विजयवर्गीय जैसे दूसरे राज्यों से बंगाल में आये नेताओं के अति हस्तक्षेप को विधानसभा चुनाव में खराब प्रदर्शन के लिए जिम्मेदार ठहराया था. माना जाता है कि मध्यप्रदेश के बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय, मुकुल रॉय के करीब थे और वही उन्हें (मुकुल को) पार्टी में लेकर आये.

राज्य भाजपा के सूत्रों के मुताबिक, कई जिला इकाईयों और कई नेताओं ने कैलाश विजयवर्गीय को पश्चिम बंगाल के प्रभारी पद से हटाने की मांग की है. ज्ञात हो कि पहले ही इस बात की चर्चा शुरू हो चुकी है कि कैलाश विजयवर्गीय की जगह बीजेपी की तेज-तर्रार महिला नेता और पीएम मोदी कैबिनेट की मंत्री स्मृति ईरानी को बंगाल का प्रभारी बनाया जा सकता है.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें