1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. another aid of jmb terrorists preparing sleeper cell and bengal module of terrorism arrested from barasat of north 24 parganas mtj

बंगाल में आतंकवाद का स्लीपर सेल तैयार कर रहे जेएमबी सदस्यों का एक और साथी गिरफ्तार

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
लालू को एसटीएफ ने बारासात से दबोचा
लालू को एसटीएफ ने बारासात से दबोचा
Prabhat Khabar

कोलकाता (विकास गुप्ता): कोलकाता पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने जमात-उल-मुजाहिद्दीन बांग्लादेश (जेएमबी) के एक और संदिग्ध आतंकी को गिरफ्तार किया है. एसटीएफ ने बुधवार रात को उत्तर 24 परगना के बारासात से जेएमबी के संदिग्ध सदस्य लालू सेन उर्फ राहुल सेन उर्फ राहुल कुमार (38) को धर दबोचा. उसके पास से दो लैपटॉप, एक आइपैड, दो मोबाइल फोन और काफी दस्तावेज जब्त किये गये हैं.

हाल ही में दक्षिण कोलकाता के हरिदेवपुर से गिरफ्तार जेएमबी के तीन बांग्लादेशी आतंकवादियों नाजी-उर रहमान उर्फ पावेल उर्फ जोसेफ उर्फ जयराम बापारी (33), शेख शब्बीर उर्फ मेकाइल खान (33) और रबी-उल इस्लाम (22) से पूछताछ के बाद एसटीएफ ने बारासात में लालू सेन के आवास पर छापा मारा और उसे गिरफ्तार कर लिया.

रुपये जुगाड़ करने से कागजात बनाने तक में करता था मदद

गिरफ्तार आरोपियों ने पूछताछ में एसटीएफ को बताया कि भारत में जेएमबी के संगठन का विस्तार करने के लिए धनराशि का जुगाड़ करने के मकसद से आतंकियों के लिए भारतीय नकली पहचान पत्र तैयार करने का काम लालू सेन करता था. सीमा पार से संगठन के कौन सदस्य कब आयेंगे, उन्हें किन रास्तों से शहर के किस जगह पर रखना है, ताकि पुलिस की नजर उन पर न पड़े, इसकी जिम्मेदारी लालू पर थी. समय-समय पर जेएमबी के बड़े आतंकियों के संपर्क में लालू रहता था. ‘हुंडी’ के जरिये रुपये का इंतजाम होता था.

क्या है हुंडी

किसी विशेष व्यक्ति के द्वारा बनाया हुआ वह दस्तावेज, जिस पर एक राशि और इस रुपये को पाने वाले किसी व्यक्ति विशेष का नाम अंकित होता है. इस कागजात को दिखाकर जिस तीसरे व्यक्ति से रुपये लेना होता है, इस कागजात पर उस तीसरे व्यक्ति के लिए यह लिखा होता है कि अमुक व्यक्ति को नकद या अन्य तरीके से लिखी गयी राशि की भुगतान कर दें.

क्या कहते हैं पुलिस अधिकारी

कोलकाता पुलिस के संयुक्त आयुक्त (एसटीएफ) वी सोलोमन नेशा कुमार ने बताया कि जेएमबी सदस्य लालू सेन के पास से जब्त दो लैपटॉप में मौजूद जानकारियों को खंगाला जा रहा है. उम्मीद है कि इससे कई नयी जानकारियां मिलेंगी. कोलकाता एवं राज्यभर में कहां-कहां इनके सदस्य छिपे हैं, इन सभी से पूछताछ कर इस बारे में भी पता लगाने की कोशिश की जा रही है. जल्द इस मामले में और भी गिरफ्तारियां हो सकती हैं.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें