1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. 31 tonnes of ammonium nitrate and detonator recovered from nalhati in birbhum district vwt

बीरभूम शहर को तबाह करने की रची जा रही थी साजिश, STF ने नलहाटी से जब्त किए 31 टन अमोनियम नाइट्रेट-डेटोनेटर

गुरुवार को भी बीरभूम के मोहम्मद बाजार से 81,000 डेटोनेटर राज्य पुलिस की एसटीएफ (स्पेशल टास्क फोर्स) ने एक वाहन से जब्त किया था. इस मामले में वाहन के चालक आशीष केउरा को गिरफ्तार किया गया था.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
नलहाटी से बरामद किए गए विस्फोटक
नलहाटी से बरामद किए गए विस्फोटक
फोटो : प्रभात खबर

बीरभूम : पश्चिम बंगाल के बीरभूम जिले में भारी मात्रा में विस्फोटक मिलने से लोगों में हड़कंप मचा हुआ है. गुरुवार को स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने बीरभूम के मोहम्मद बाजार इलाके से एक गाड़ी समेत 81 हजार डेटोनेटर जब्त किया है. इतनी बड़ी मात्रा में विस्फोटक मिलने के बाद लोगों में किसी बड़ी घटना की आशंका के मद्देनजर दहशत बनी हुई है. इसका कारण यह है कि बीरभूम के रामपुरहाट के बागतुई गांव में हुई आगजनी घटना में बड़े पैमाने पर नरंसहार की घटना लोगों के दिलो-दिमाग से उतरी नहीं है. शुक्रवार को एसटीएफ ने नलहाटी से भारी मात्रा में अमोनियम नाइट्रेट और डेटोनेटर बरामद किया. एसटीएफ सूत्रों के मुताबिक करीब 31 टन (27,500 किलो) अमोनियम नाइट्रेट बरामद किया गया है. पुलिस का दावा है कि एसटीएफ को इतनी अधिक मात्रा में विस्फोटक सामान मिले हैं, जिससे एक वक्त में बीरभूम जैसा शहर तबाह किया जा सकता है.

रामपुरहाट हिंसा के बाद से ही पुलिस चला रही है अभियान

बताते चलें कि बीरभूम जिले के रामपुरहाट बागतुई नरसंहार के बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी द्वारा दिए गए सख्त निर्देश के बाद समूचे राज्य भर में पुलिस द्वारा विशेष अभियान चलाकर अस्त्र शस्त्र हथियार और भारी मात्रा में विस्फोटकों को जब्त कर कई नामी गिरामी अपराधियों की नकेल कसी गई थी. लेकिन इस महज तीन माह भी पूरी तरह से नहीं बीते है की एक बार फिर बारूद के ढेर पर बैठे बीरभूम जिले में एक के बाद एक विस्फोटक उद्धार किया जा रहा है.

नलहाटी से अमोनियम नाइट्रेट और डेटोनेटर बरामद

रिपोर्ट के अनुसार, गुरुवार को भी बीरभूम के मोहम्मद बाजार से 81,000 डेटोनेटर राज्य पुलिस की एसटीएफ (स्पेशल टास्क फोर्स) ने एक वाहन से जब्त किया था. इस मामले में वाहन के चालक आशीष केउरा को गिरफ्तार किया गया था. रिमांड पर लेकर आशीष की निशानदेही पर जिले के कई क्षेत्रों से एक के बाद एक भारी मात्रा में विस्फोटक एसटीएफ ने जब्त किया है. एक दिन बाद शुक्रवार को ही राज्य पुलिस की एसटीएफ (स्पेशल टास्क फोर्स) ने नलहाटी से भारी मात्रा में अमोनियम नाइट्रेट और डेटोनेटर बरामद किया. एसटीएफ सूत्रों के मुताबिक करीब 31 टन (27,500 किलो) अमोनियम नाइट्रेट बरामद किया गया है.

बड़ी साजिश नाकाम

पुलिस का मानना ​​है कि इतनी बड़ी मात्रा में विस्फोटकों को किसी बड़ी वारदात के लिए जमा किया जा रहा था. इतना ही नहीं, 81 हजार डेटोनेटर भी बरामद किए गए हैं. इन विध्वंसकारी सामग्री को कौन जमा कर रहा था, इसका पता लगाने के लिए गहन जांच और तलाशी शुरू की गई है. इस बात की जांच की जा रही है कि क्या इसके पीछे कोई उग्रवादी संगठन शामिल है.

इन विस्फोटकों से बीरभूम शहर को किया जा सकता था तबाह

झारखंड से सटे नलहाटी (बीरभूम) के लखनामारा गांव में शुक्रवार को स्पेशल पुलिस टास्क फोर्स ने छापेमारी की. एक गोदाम से 300 क्विंटल अमोनियम नाइट्रेट और 3,000 डेटोनेटर बरामद किए. अमोनियम नाइट्रेट को आरडीएक्स या नाइट्रोजेल के साथ बड़ी मात्रा में मिलाकर गंभीर विस्फोट किया जा सकता है. पुलिस के मुताबिक, बीरभूम में मिले विस्फोटकों की मात्रा पूरे शहर को तबाह कर सकती है. एनआईए ने भी घटना की जांच शुरू कर दी है.

गुरुवार को एक ट्रक से डेटोनेटर हुआ था बरामद

गौरतलब है कि एसटीएफ ने गुरुवार को बीरभूम में एक ट्रक से डेटोनेटर बरामद किया था. आशीष केउरा नाम के एक ट्रक चालक को गिरफ्तार किया गया था. समय-समय पर पूछताछ करने पर पुलिस को शक हुआ. जांचकर्ता समझ गए कि बीरभूम जिले के अन्य स्थानों में और अधिक विस्फोटक छिपा कर रखे हुए हैं. तलाशी लेने के बाद जैसे ही नलहाटी के पत्थर खदान क्षेत्र में एक गोदाम में प्रवेश किया गया एसटीएफ की आंखें भौचक हो गई. गोदाम घर में भारी मात्रा में अमोनियम नाइट्रेट से भरे बैग बिखरे हुए पड़े थे. करीब 600 बोरी अमोनियम नाइट्रेट जब्त की गई. पास के गोदाम से और विस्फोटक मिले हैं.

जांच की जद में बांग्लादेश का आतंकी संगठन जेएमबी

शुरू में संदेह था कि ये विस्फोटक माओवादियों के लिए लाए गए होंगे. हालांकि, इस बात की जांच की जा रही है कि क्या यहां बांग्लादेशी आतंकी संगठन जेएमबी के साथ भी तो कोई लिंक नही है. बर्दवान खगरागढ़ कांड के दौरान बीरभूम में कई मामले सामने आए थे. जिसमे जेएमबी के शीर्ष नेताओं के शामिल होने का सबूत मिला था और जासूसों ने भी स्लिपर सेल की खोज की. भाजपा के बीरभूम जिलाध्यक्ष ध्रुव साहा ने कहा है की बीरभूम बारूद के ढेर पर खड़ा है. कभी भी धमाका हो सकता है. लगातार विस्फोटक बरामद किए जा रहे हैं.

रिपोर्ट : मुकेश तिवारी

Prabhat Khabar App :

देश, दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, टेक & ऑटो, क्रिकेट और राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें