1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. varanasi
  5. varanasi latest news city of tents to be settled in varanasi sht

Varanasi News: घाटों के शहर बनारस में अब टेंट सिटी का उठा सकेंगे लुत्फ, मिलेगा भरपूर एडवेंचर

दुनिया के सबसे प्राचीन और जीवंत शहर काशी में अब टेंट सिटी बसने जा रहा है. गंगा के किनारे इस तम्बुओं के शहर से आप ख़ूबसूरत अर्धचंद्राकार 84 घाटों का नजारा देख सकेंगे.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Varanasi
Updated Date
बनारस में अब टेंट सिटी का उठा सकेंगे लुत्फ
बनारस में अब टेंट सिटी का उठा सकेंगे लुत्फ
Social media

Varanasi News: वाराणासी शहर पर्यटन और सौंदर्यीकरण के क्षेत्र में दिन प्रतिदिन नई ऊंचाइयों को छूने की ओर अग्रसर है. नित नए परिवर्तन और योजनाओं ने दुनिया के इस सबसे प्राचीन और जीवंत शहर काशी को एक नई पहचान के रूप में स्थापित कर दिया है. घाटों के शहर बनारस में अब टेंट सिटी बसने जा रहा है.

टेंट सिटी से देख सकेंगे 84 घाटों का नजारा

टेंट सिटी काशी के ऐतिहासिक घाटों के ठीक सामने रेत पर करीब नवरात्री से शिवरात्री तक बसेगा. गंगा के किनारे इस तम्बुओं के शहर से आप ख़ूबसूरत अर्धचंद्राकार 84 घाटों का नजारा देख सकेंगे. इस टेंट सिटी को नवरात्रि से शिवरात्रि तक बसाने की तैयारी है. गंगा के उस पार अस्सी घाट के सामने रेत पर रामनगर के कटेसर क्षेत्र में लगभग 500 हेक्टेयर में तंबुओं का शहर बसाया जाएगा. जो जरूरत के मुताबिक बढ़ाया जा सकता है.

सांस्कृतिक कार्यक्रम का ले सकेंगे आनंद

यहां धर्म, अध्यात्म और संस्कृति का अनोखा संगम है. टेंट सिटी में हर वह सुविधा होगी जो किसी पर्यटन स्थल पर होती है. यहां ठेठ बनारसी खान पान के साथ पारम्परिक सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी आनंद खुली हवा में ले सकेंगे. ग़ुजरात के रन ऑफ कच्छ और जैसलमेर के सेंड ड्यून्स के तर्ज पर होगा यह काशी का टेंट सिटी. वाराणसी विकास प्राधिकरण इसके लिए एक्सप्रेशन ऑफ़ इंटरेस्ट जारी कर चुकी है, जिसकी अंतिम तिथि 15 मई 2022 रखी गई है.

टेंट सिटी में मिलेंगी ये सुविधाएं

काशी के कायाकल्प के बाद इसके बदलते स्वरूप को निहारने के लिए वाराणसी में लगातार पर्यटकों की संख्या बढ़ती जा रही है. ऐसे में योगी सरकार पर्यटकों को बेहतर सुविधा देने के लिए गंगा के किनारे टेंट सिटी बनाने का प्रस्ताव ला रही है. इसके साथ ही वाटर एडवेंचर स्पोर्ट्स (जेट स्की, बनाना बोट पैरासेलिंग ,कैमल और हॉर्स राइडिंग ,फिसिंग ) का लुफ़्त भी पर्यटक ले सकेंगे. टेंट सिटी में रहकर पर्यटक निर्मल और अविरल गंगा के कोलाहल के बीच टेंट में घर जैसे माहौल पाएंगे. योग, मेडिटेशन, लाइब्रेरी और आर्ट गैलरी के लिए शांत जगह होगी.

पर्यटकों के पैकेज टूर में शामिल होगी टेंट सिटी

पर्यटकों के पैकेज टूर में भी टेंट सिटी नजर आएगी. देशी विदेशी पर्यटकों को उनके मनपसंद का व्यंजन भी उपलब्ध होगा. सुबहे-ऐ-बनारस के साथ ही गंगा किनारे सुबह और शाम मां गंगा की आरती होगी. टेंट सिटी नवरात्री के आस-पास शुरू होकर शिवरात्री के आस-पास तक रहेगा. गंगा में बाढ़ के समय रेत पर पानी आने के कारण तम्बुओं का हटा दिया जायेगा.

वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट भी होंगे शामिल

टेंट सिटी एनएच -19 से महज 4 किलोमीटर, रामनगर फोर्ट 1 किलोमीटर, वाराणसी रेलवे स्टेशन 10 किमी, पंडित दीनदयाल उपाध्याय रेलवे स्टेशन से 13 किलो और वाराणसी एयरपोर्ट से 33 किलोमीटर की दूरी पर होगा. तम्बुओं के इस शहर में पूरी दुनिया में मशहूर वाराणसी साड़ी, बनारसी ब्रोकेड, लकड़ी के ख़िलौने, गुलाबी मीनाकारी स्टोन कार्विंग के साथ ही जी.आई. उत्पाद और वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट भी शामिल होंगे.

रिपोर्ट- विपिन सिंह

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें