1. home Home
  2. state
  3. up
  4. varanasi
  5. varanasi dev deepawali 2021 preparations almost done abk

Varanasi News: देव दीपावली पर काशी में भव्य आयोजन, मां गंगा की स्वच्छता की दिलाई जाएगी शपथ

तीन दशक से भी ज्यादा समय से आध्यात्मिकता और राष्ट्रवाद को संकल्पित विश्व प्रसिद्ध भव्य देव दीपावली महोत्सव मनाया जा रहा है. इस साल भी वाराणसी का देव दीपावली भारत के अमर वीर योद्वाओं को समर्पित रहेगी.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Varanasi
Updated Date
देव दीपावली पर काशी में भव्य आयोजन
देव दीपावली पर काशी में भव्य आयोजन
प्रभात खबर

Varanasi News: वाराणसी में 19 नवंबर को मनाए जाने वाले देव दीपावली की तैयारियां तेज हो चुकी हैं. दशाश्वमेध घाट स्थित गंगा सेवा निधि कार्यालय में आयोजित पत्रकार वार्ता में संस्था के अध्यक्ष सुशांत मिश्र ने देव दीपावली की तैयारियों की जानकारी दी. उन्होंने बताया कि तीन दशक से भी ज्यादा समय से आध्यात्मिकता और राष्ट्रवाद को संकल्पित विश्व प्रसिद्ध भव्य देव दीपावली महोत्सव मनाया जा रहा है. इस साल भी वाराणसी का देव दीपावली भारत के अमर वीर योद्वाओं को समर्पित रहेगी.

देव दीपावली के अवसर पर मां गंगा को स्वच्छ और निर्मल बनाने, पर्यावरण और जल संरक्षण का संदेश देंगे. देव दीपावली महोत्सव में देश-विदेश से आए लाखों श्रद्धालुओं और पर्यटकों को मां गंगा के तट पर संकल्प दिलाया जाएगा.
सुशांत मिश्र, अध्यक्ष, गंगा सेवा निधि

गंगा सेवा निधि के पदाधिकारियों ने बताया कि साल 1999 के करगिल विजय में शहीद जवानों की स्मृति में दीपक जलाएं जाने की स्मृति में सम्पूर्ण कार्तिक मास आकाश दीप जलाया जाता है. देव दीपावली महोत्सव के साथ आकाशदीप का समापन किया जाता है. भारत के अमर वीर योद्धाओं को भगीरथ शौर्य सम्मान से सम्मानित किया जाता है. महोत्सव में गंगा की महाआरती में नारी शक्ति की झलक दिखेगी.

वाराणसी की विश्व प्रसिद्ध देव दीपावली महोत्सव-2021 में मुख्य अतिथि के रूप में लेफ्टिनेंट जनरल राना एवीएसएम, वीएसएम, 137 गंगा टास्क फोर्स उपस्थित रहेंगे. लॉरेल गेस्ट के रूप में सिंगर अनुराधा पौडवाल मौजूद रहेंगी. कार्यक्रम में प्रो. चंद्रमौली उपाध्याय, पं. श्रीधर पांडेय, गंगा सेवा निधि के प्रमुख अर्चक्र आचार्य रणधीर के नेतृत्व में 21 ब्राह्मणों द्वारा भगवती मां गंगा का वैदिक रीति से पूजन किया जाएगा.

इसके अलावा गंगा सेवा निधि के 21 ब्राह्मणों, दुर्गा चरण इंटर कॉलेज की 42 कन्याओं (जो रिद्धि-सिद्धि के रूप में ब्राह्मणों के साथ होंगी) और काशी विश्वनाथ डमरु दल के पांच स्वयं सेवकों की मां भगवती की भव्य महाआरती आरंभ होगी और 51 हजार दीपों से घाट-घाटों के भवनों का कोना-कोना जगमग हो उठेगा.

  • श्रद्धालुओं की सुरक्षा का खास ख्याल

  • सीसीटीवी से कार्यक्रम की निगरानी

  • 200 वॉलंटियर्स की तैनाती

  • चिकित्सकों की टीम और एंबुलेंस की मौजूदगी

(रिपोर्ट: विपिन सिंह, वाराणसी)

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें