1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. varanasi
  5. policemen removed from duty who committed indecency with women devotees in kashi vishwanath temple rkt

Varanasi: काशी विश्वनाथ मंदिर में पुलिसकर्मी ने की महिला श्रद्धालुओं संग अभद्रता, पुलिस ने लिया ये एक्शन

उधर गर्भगृह समेत मंदिर क्षेत्र में तैनात पुलिसकर्मियों के साथ बैठक में अधिकारियों ने श्रद्धालुओं से सलीके से पेश आने का निर्देश दिया . दरअसल मंदिर में न्यास परिषद की अनुमति से सुबह और शाम की आरती से पहले श्रद्धालुओं को गर्भगृह में जा कर दर्शन-पूजन की अनुमति मिली है.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Varanasi
Updated Date
काशी विश्वनाथ मंदिर
काशी विश्वनाथ मंदिर
प्रभात खबर

Varanasi News: काशी विश्वनाथ मंदिर के गर्भगृह में महिला श्रद्धालुओं के साथ अभद्रता का मामला सामने आया है. घटना शनिवार का है. महिला श्रद्धालुओं के अनुसार स्पर्श दर्शन के दौरान कांस्टेबल और गर्भगृह में ही तैनात महिला सिपाही द्वारा उनके साथ धक्का -मुक्की की गई. इस बात को गंभीरता से लेते हुए सिपाही कुलदीप समेत महिला सिपाहियों को ड्यूटी प्वाइंट से हटा दिया है. सिपाही कुलदीप के खिलाफ उनके तैनाती जनपद में भी रिपोर्ट भेजी जा रही है. संबंधित जनपद की पुलिस कार्रवाई करेगी.

उधर गर्भगृह समेत मंदिर क्षेत्र में तैनात पुलिसकर्मियों के साथ बैठक में अधिकारियों ने श्रद्धालुओं से सलीके से पेश आने का निर्देश दिया . दरअसल मंदिर में न्यास परिषद की अनुमति से सुबह और शाम की आरती से पहले श्रद्धालुओं को गर्भगृह में जा कर दर्शन-पूजन की अनुमति मिली है. बता दें कि काशी विश्वनाथ गर्भगृह में कुछ महिला श्रद्धालु स्पर्श दर्शन के लिए आ रही थी, लेकिन गर्भगृह में महिला कांस्टेबल के रहने के बावजूद पुरुष पुलिसकर्मी महिलाओं को जबरदस्ती बाहर धक्का देकर निकाल रहा था.

इस बात की शिकायत महिला श्रद्धालुओं ने मन्दिर प्रशासन से की. यही नहीं महिला सिपाही भी वहांअभद्रता से पेश आ रही थी. इसको लेकर श्रद्धालुओं से पुलिसकर्मियों की बहस भी हुई. इस बात को लेकर काशी विश्वनाथ मंदिर गर्भगृह समेत मंदिर क्षेत्र में तैनात सभी पुलिसकर्मियों को सख्ती का सन्देश देते हुए अधिकारियों ने बैठक कर श्रद्धालुओं के साथ सलीके से पेश आने का निर्देश दिया. खासतौर से महिला श्रद्धालुओं के साथ किसी भी तरह से अभद्रता नहीं होने की हिदायत दी गई. महिला श्रद्धालु हैं तो अन्य को रोककर उन्हें दर्शन कराने को कहा गया है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें