1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. varanasi
  5. karni sena state president rakesh singh raghuvanshi said that yogi government not try to underestimate rajputs in up slt

UP में राजपूतों को कम आंकने की कोशिश न करें सरकार, करणी सेना के प्रदेश अध्यक्ष ने योगी पर साधा निशाना

करणी सेना के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह रघुवंशी गुरुवार को वाराणसी पहुंचे. इस दौरान उन्होंने यूपी में राजपूतों के कम जनसंख्या बताने पर आक्रोश व्यक्त किया साथ ही कहा कि यूपी में राजपूतों की संख्या 14 प्रतिशत है, तो राजपूतों को कम आंकने की कोशिश न की जाए.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Varanasi
Updated Date
करणी सेना के प्रदेश अध्यक्ष ने योगी पर साधा निशाना
करणी सेना के प्रदेश अध्यक्ष ने योगी पर साधा निशाना
Prabhat Khabar

राजपूत समाज की आवाज उठाने वाली करणी सेना के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह रघुवंशी गुरुवार को वाराणसी पहुंचे. यहां उन्होंने मीडिया के सामने महाराजा सुहेलदेव को राजभर जाति का बताये जाने पर आपत्ति दर्ज करते हुए राजनीतिक दलों पर इतिहास के साथ छेड़छाड़ करने का आरोप लगाया. राकेश सिंह ने महाराजा सुहेलदेव को क्षत्रिय वंशावली का बताते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ पर राजपूत समाज के साथ ज्यादती करने की बात कही. वहीं ईडब्ल्यूएस में राजपूतों को अधिकार नहीं देने पर भी आक्रोश भी जताया.

वहीं जब मीडिया ने उनसे यूपी विधानसभा को लेकर सवाल किया कि आखिर इश विधानसभा चुनाव में करणी सेना किसका समर्थन कर रही है, इसके जवाब से वे बचते हुए दिखे. उन्होंने कहा कि करणी सेना कोई राजनीतिक दल नहीं एक सामाजिक संस्था है. उन्होंने कहा कि महाराजा सुहेलदेव राजभर और पारसी नहीं थे, वे क्षत्रिय थे, मेरी इस बात के लिए आप पुरातत्व विभाग से जांच करा लें, यदि मैं गलत होता हुं, तो आप जो कहेंगे मैं वो बात मानने को तैयार हो जाऊंगा.

उन्होंने कहा कि लोग जाति की राजनीति करने के लिए किसी की जाति ही बदल दे, ये तो गलत है. जब महाराजा राणा प्रताप ने युद्ध किया था, तो सर्वसमाज का सहयोग उन्हें मिला था. किसी एक जाति के सहयोग से कभी किसी ने कोई लड़ाई नहीं जीती. महाराजा सुहेलदेव को राजनीति के लिए राजभर जाति से जोड़ना गलत है. चंदेल वंश की राजकुमारी से उनकी शादी हुई थी. तब लव मैरिज नहीं होती थी, आप इतिहास पलटकर देखेंगे तो पाएंगे कि महाराजा सुहेलदेव की जाती से राजनीति के लिए छेड़छाड़ की गई है.

राकेश सिंह रघुवंशी ने कहा कि सुहेलदेव सिर्फ ओमप्रकाश राजभर के नहीं, बल्कि पूरे समाज के लिए वीर थें. ओपी राजभर और ओवैसी के गठबंधन पर उन्होंने कहा कि जो मसूद गाजी इस देश को लूटने आया था, जिसे सुहेलदेव ने मारा था, उसी के मजार पर ओपी राजभर ने ओवैसी के साथ जाकर चद्दर चढ़ाया था, और वे कहते हैं कि वे महाराजा सुहेलदेव के वंशज हैं.

उन्होंने कहा किनकरणी सेना कोई राजनीतिक दल नहीं है, ये किसी पार्टी का समर्थन नहीं करती हैं. ये उसी के साथ है, जो समाज और देश के विकास और भले के लिए कार्य करेंगी. केंद्र में मोदी सरकार है, उसके सामने कोई मजबूत दल नहीं खड़ा दिख रहा है. इसलिए सरकार उन्हीं की रहेगी. वहीं हाल यूपी में योगी सरकार का है, जिन्होंने सबसे ज्यादा राजपूतों का नुकसान किया है. हमे ईडब्ल्यूएस में अधिकार नहीं मिल रहा है. आर्थिक आधार पर भेदभाव किया जा रहा है. इसलिए आने वाले समय में हम मीडिया के साथ एक प्रेस कांफ्रेंस कर इसकी घोषणा करेंगे कि हम किसके साथ जा रहे हैं.

भीम आर्मी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चंद्रशेखर रावण पर बोलते हुए राकेश सिंह रघुवंशी ने कहा कि सवर्णों के खिलाफ चंद्रशेखर की जो अग्रेसिव राजनीति है, मैं उसका समर्थन नहीं करता. एक समाज की राजनीत करने वाले आगे नहीं बढ़ सकते, जब तक हम सर्वसमाज की बात न करें.

रिपोर्ट- विपिन सिंह, वाराणसी

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें