1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. varanasi
  5. former mla kapil mishra reached varanasi said bangladeshi and rohingya are cancer in country acy

वाराणसी पहुंचे पूर्व विधायक कपिल मिश्रा, बोले- देश में कैंसर के समान हैं बांग्लादेशी और रोहिंग्या

पूर्व विधायक कपिल मिश्रा ने कहा कि मैं यह मानता हूं कि रोहिंग्या और बांग्लादेशी हमारे देश में कैंसर के समान हैं. इनका भी इलाज कैंसर की तरह ही समूल हटाकर यानी जड़ से मिटाकर करना होगा.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Varanasi
Updated Date
वाराणसी पहुंचे पूर्व विधायक कपिल मिश्रा
वाराणसी पहुंचे पूर्व विधायक कपिल मिश्रा
सोशल मीडिया

Varanasi News: भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) नेता और पूर्व विधायक कपिल मिश्रा बुधवार को काशी पहुंचे. यहां उन्होंने मीडिया से बातचीत करते हुए लव जिहाद व बांग्लादेशी-रोहिग्या मामले पर खुलकर अपनी बात रखी.

कपिल मिश्रा ने कहा कि लव जिहाद एक बहुत ही संवेदनशील विषय है. देश की बेटियों के साथ बहुत ही अत्याचार हो रहा है. मैं परसों ग्वालियर में था. वहां पर लव जिहाद का मामला सामने आया. जिन्होंने यह अपराध किया, उनको कानून सजा भी दे रही है. ऐसे मामले पूरे देश में आ रहे हैं. केरल हाईकोर्ट ने भी अपने आदेश में लिखा है कि लव जिहाद होता है. यूपी की सरकार ने भी इस सम्बंध में कानून बनाये हैं तो ये फ़िल्म बनाने का उद्देश्य ये है कि लव जिहाद के विषय पर जागरूकता अभियान हो. 'सेव अवर डॉटर्स' के बारे में घर-घर चर्चा हो.

कपिल मिश्रा ने कहा कि झूठ बोलकर बेटियों से जबर्दस्ती शादी करना, उसके बाद धर्म परिवर्तन करना, कई मामलो में तो हत्या तक हो जाती हैं, मुझे लगता है कि यह गम्भीर विषय है. समाज को संवेदनशील होकर इस बारे में सोचना होगा. लव जिहाद से लड़कियों को बचाने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी है जागरूकता और लड़कियों से संवाद स्थापित करना. लोग इसपर चर्चा करने से बचते आये हैं. हम चाहते हैं कि लोग अब इसके पक्ष व विपक्ष दोनों पर स्कूल, कॉलेज, घर, समाज में खुलकर बात करें. इससे जागरूकता भी बढ़ेगी और बेटियां शैतानों से बचेंगी भी.

पूर्व विधायक कपिल मिश्रा ने कहा कि रात में 10 बजे बुलडोजर का ऑर्डर आता है और देश के सबसे बड़े वकील कपिल सिब्बल, प्रशान्त भूषण जैसे लोग बांग्लादेशियों के पक्ष में हो जाते हैं. जमीयत उलेमा हिन्द वही संस्था है, जो आतंकवादियों का केस लड़ती है. अहमदाबाद बम ब्लास्ट केस में जो लोग आतंकवादियों का केस लड़ रहे हैं, वही लोग बांग्लादेशी घुसपैठियों का केस लड़ रहे हैं. इस बात को बहुत गम्भीरता से सोचना होगा और मेरा यह मानना है कि दिल्ली में केवल जहांगीरपुरी में ही नहीं, बल्कि शाहीन बाग, जामिया नगर, खुरेजी, इंद्रलोक, सीमापुरी में, जहां-जहां रोहिंग्या की बस्ती है, उन सब पर बुलडोजर चलाना दिल्ली की मांग है.

कपिल मिश्रा ने कहा कि मैं यह मानता हूं कि रोहिंग्या और बांग्लादेशी हमारे देश में कैंसर के समान हैं. इनका भी इलाज कैंसर की तरह ही समूल हटाकर यानी जड़ से मिटाकर करना होगा. ये जो कुछ लोग विपक्ष के, देश विरोधी ताकतों के साथ खड़े नजर आते हैं, उन्हें जनता अच्छी तरह से पहचान चुकी हैं. ये अब अमेठी से निकलकर केरल पहुंचे है. अब इनके लिए हिन्द महासागर में भी जगह नहीं बचेगी.

रिपोर्ट- विपिन सिंह

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें