1. home Home
  2. state
  3. up
  4. varanasi
  5. bjp no ticket to the leaders who circle lucknow delhi in up chunav 2022 bl santosh statement varanasi avi

लखनऊ-दिल्ली की परिक्रमा लगाने वाले नेताओं को टिकट नहीं, बीएल संतोष ने काशी में नेताओं को दी नसीहत

राष्ट्रीय महामंत्री बीएल संतोष ने साफ लहजे में कहा कि संगठन में सक्रियता और जनता के बीच कामकाज ही टिकट पाने का अधिकार होगा. जनता के बीच किये कार्यो पर ही दावेदारो का प्रदर्शन ही अहम होगा

By Prabhat Khabar Digital Desk, Varanasi
Updated Date
बीएल संतोष ने काशी में नेताओं को दी नसीहत
बीएल संतोष ने काशी में नेताओं को दी नसीहत
Social Media

2022 यूपी विधानसभा चुनाव में पूर्वांचल साधने के लिए कार्यकर्ताओ को जीत का मंत्र देने पहुंचे बीजेपी राष्ट्रीय महामंत्री बीएल संतोष ने बीजेपी कार्यालय में काशी प्रांत संगठन से जुड़े पदाधिकारियों के साथ अलग-अलग बैठक कर सभी तैयारियों का जायजा लिया. इस दौरान उन्होंने कहा कि अहंकार और अति आत्मविश्वास जनप्रतिनिधियों के लिए घातक होता है.

बीजेपी कार्यकर्ताओ को बीएल संतोष ने निर्देश दिया कि वे जनता के बीच जाये और जनता के काम को प्राथमिकता दे. साथ ही पुराने कार्यकर्ताओ का सम्मान करें. पार्षदों, पंचायत सदस्य और ब्लॉक प्रमुख पार्टी कार्यकर्ताओं से समन्वय और संवाद बनाये रखे. जनता के बीच सक्रिय होकर यह देखें की कहीं कोई नाराजगी तो नही है.

बीजेपी (BJP) राष्ट्रीय महामंत्री बीएल संतोष (BL Santosh) ने संगठन में महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने के भी निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि महिलाओं से सम्पर्क के दौरान महिला कार्यकर्ताओ की अगुआई में ही सम्पर्क अभियान की शुरुआत करे. राष्ट्रीय महामंत्री ने कार्यकर्ताओं से कहा कि विपक्षी द्वारा जनता में फैलाये जा रहे भ्रम को सार्थक तरीके से बेनकाब करे और सरल भाषा मे अपनी बात जनता तक पहुंचाए.

लखनऊ और दिल्ली का चक्कर लगाने से नहीं मिलेगा टिकट- काशी प्रांत की समीक्षा बैठक में बीएल संतोष ने कहा कि नेता दिल्ली- लखनऊ की परिक्रमा छोड़ दे और अपने -अपने क्षेत्र में जनता से संवाद बनाएं. हफ्ते में 4 से 5 दिन अपने विधानसभा में समय बिताए और हर छोटी से बड़ी घटना पर नजर रखे बूथ स्तर तक कमेटियों का गठन करे और यह सुनिश्चित करे कि संगठन में सभी जातियों का भागीदारी दिखाई दें.

बता दें बीजेपी के लिए काशी क्षेत्र विधानसभा चुनाव के लिए बहुत महत्वपूर्ण है. यहां से बीजेपी ने 2017 में 71 में से 55 सीट जीती थी. इस बार पार्टी ने 65 सीट जीत का लक्ष्य तय किया है. राष्ट्रीय महामंत्री ने साफ लहजे में कहा कि संगठन में सक्रियता और जनता के बीच कामकाज ही टिकट पाने का अधिकार होगा. जनता के बीच किये कार्यो पर ही दावेदारो का प्रदर्शन ही अहम होगा. टिकट उनको ही मिलेगा जिनका कार्य जनता के बीच मे अच्छा होगा और जनता जनार्दन ही सब कुछ होती है. इसलिए जनता ही तय करेगी उनके दावेदारी की वो योग्य है कि नही.

इनपुट : विपिन कुमार

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें