1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. lucknow
  5. vikas dubey encounter uttar pradesh policemen tested covid 19 positive who travel to ujjain from kanpur in same vehicle with vikas dubey

Vikas Dubey Encounter : विकास दुबे को उज्जैन से लेकर आ रहे वाहन पर सवार कांस्टेबल कोरोना पॉजिटिव

By Agency
Updated Date
विकास दुबे को उज्जैन से लाने वाली टीम का हिस्सा था सिपाही, साथी पुलिसकर्मियों के संक्रमण की आशंका.
विकास दुबे को उज्जैन से लाने वाली टीम का हिस्सा था सिपाही, साथी पुलिसकर्मियों के संक्रमण की आशंका.
PTI FILE PIC

Vikas Dubey Encounter, UP Police Cop Found Covid-19 Positive उज्जैन/कानपुर : कुख्यात गैंगस्टर विकास दुबे को उज्जैन से लेकर आ रहे वाहन पर सवार एक कांस्टेबल को कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया है. जीएसवीएम कॉलेज के कार्यवाहक प्रधानाध्यापक आरबी कमल ने रविवार को बताया कि कांस्टेबल के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की खबर शनिवार देर रात मिली. उसे उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है. कमल ने बताया कि उसी वाहन में चार और पुलिसकर्मी सवार थे और उनके संक्रमित नहीं होने की पुष्टि हुई है.

विकास को उज्जैन से लेकर आ रहा वाहन कानपुर के निकट अचानक अनियंत्रित होकर पलट गया था. इसके बाद, कथित तौर पर भागने की कोशिश कर रहे विकास को पुलिस ने मार गिराया. कोरोना वायरस से संक्रमित कांस्टेबल को भी मुठभेड़ के दौरान चोटें आयी थीं. एक स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि कांस्टेबल के संपर्क में आये लोगों का पता लगाया जा रहा है.

विकास दुबे प्रकरण की जांच के लिए आयोग गठित करने का फैसला

उत्तर प्रदेश सरकार ने कुख्यात अपराधी विकास दुबे प्रकरण की जांच के लिए एकल सदस्यीय आयोग गठित करने का निर्णय किया है. राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने रविवार को बताया कि सेवानिवृत्त न्यायमूर्ति शशि कांत अग्रवाल के नेतृत्व में एकल सदस्यीय जांच आयोग गठित करने का निर्णय लिया गया है. आयोग का मुख्यालय कानपुर में होगा. उन्होंने बताया कि आयोग विकास दुबे तथा उसके सहयोगियों द्वारा दो-तीन जुलाई, 2020 की रात्रि में की गयी घटना की गहनतापूर्वक जांच करेगा.

प्रवक्ता ने बताया कि आयोग दस जुलाई, 2020 को पुलिस एवं विकास दुबे के मध्य हुई मुठभेड़ की गहनतापूर्वक जांच करेगा. साथ ही दो-तीन जुलाई, 2020 और दस जुलाई, 2020 के मध्य पुलिस और इस प्रकरण से संबंधित अपराधियों की बीच हुई प्रत्येक मुठभेड़ की गहनतापूर्वक जांच करेगा. प्रवक्ता के अनुसार यह आयोग अधिसूचना जारी किए जाने की तारीख से दो माह की अवधि के भीतर अपनी जांच पूर्ण कर लेगा.

Upload By Samir Kumar

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें