1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. lucknow
  5. up government will provide free coaching to students chief minister yogi adityanath inaugurated abhyudaya yojana said will be a milestone for youth of state aml

प्रतियोगी छात्रों को मुफ्त कोचिंग करायेगी यूपी सरकार, योगी ने कहा- युवाओं के लिए मील का पत्‍थर साबित होगा

By Agency
Updated Date
Yogi Adityanath
Yogi Adityanath
पीटीआई
  • उत्तर प्रदेश सरकार ने युवाओं को मुफ्त कोचिंग देने के लिए शुरू किया अभ्युदय योजना

  • मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, युवाओं के लिए मील का पत्थर साबित होगा

  • छात्रों को उनके जिले में ही मिलेगी मुफ्त कोचिंग की सुविधा, होगा वर्चुअल क्लास

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ (Yogi Adityanath) ने सोमवार को प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्‍वाकांक्षी मुफ्त कोचिंग परियोजना 'अभ्‍युदय योजना' का शुभारंभ किया और पंजीकृत अभ्‍यर्थियों से संवाद किया. अपने सरकारी आवास पर योजना की शुरुआत करते हुए मुख्‍यमंत्री ने कहा, 'अभ्युदय योजना प्रदेश के युवाओं के उत्कर्ष का मार्ग प्रशस्त करने की राज्य सरकार की एक अभिनव योजना है और यह योजना प्रदेश के युवाओं के लिए समर्पित है जो मील का पत्थर साबित होगी.'

सरकारी बयान के अनुसार अभ्युदय योजना को पहले चरण में कल मंगलवार से 18 मंडल मुख्यालयों में प्रारंभ किया जा रहा है और आने वाले समय में इसका विस्तार जिलों में भी किया जायेगा. इस योजना में साप्ताहिक, मासिक परीक्षाएं होंगी, जिसके आधार पर स्क्रीनिंग की जायेगी. उल्‍लेखनीय है कि युवाओं को प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए निःशुल्क कोचिंग प्रदान करने के उद्देश्य से उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा अभ्‍युदय योजना प्रारम्भ की गयी है.

मुख्‍यमंत्री ने कहा, 'जब बड़ी-बड़ी प्रतियोगी परीक्षाओं में प्रदेश का प्रतिनिधित्व बढ़ेगा, तो उसका लाभ भी उत्‍तर प्रदेश को होगा.' योगी ने कहा, 'अभ्युदय योजना के अंतर्गत 16 फरवरी, 2021 (बसंत पंचमी) से प्रदेश में कक्षा शुरू होंगी और जिन युवाओं का परीक्षण के जरिए चयन हुआ है, उन्हें मंडल मुख्यालय में साक्षात कक्षाओं में शामिल होने का अवसर मिलेगा जबकि बाकी अभ्यर्थी वर्चुअल माध्यम से ऑनलाइन कक्षा से जुड़ सकेंगे.'

उन्होंने कहा कि युवाओं को जिस भी क्षेत्र में जाना हो, उसकी शुरुआत अच्छे से करें. मजबूत बुनियाद ही मजबूत इमारत का आधार होती है और अभ्युदय योजना को लेकर यही भाव रखा गया है. मुख्यमंत्री ने कहा कि 50 लाख से अधिक लोगों ने इस योजना में रुचि दिखायी है और पांच लाख से अधिक लोगों ने पंजीकरण कराया, जो योजना की लोकप्रियता को स्वतः दर्शाता है.

अभ्युदय योजना के माध्यम से प्रतियोगी युवाओं को आईएएस, आईपीएस, आईएफएस, पीसीएस सहित मेडिकल, आईआईटी के विशेषज्ञों का मार्गदर्शन प्राप्त होगा. अभ्युदय योजना को सफल बनाने के उद्देश्य से बेहतर फैकल्टी की व्यवस्था की जा रही है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें