बच्चों को चीटिंग का तरीका सिखाते प्रबंधक का वीडियो वायरल, बोले- जवाब लिख के 100 का नोट डाल देना, टीचर आंख मूंद के नंबर देगा

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

लखनऊ: भारत में शिक्षा व्यवस्था में फैली अराजकता की बात हमेशा की जाती है. बोर्ड परीक्षा के दौरान यूपी-बिहार के स्कूलों की खिड़कियों से नकल कराते अभिभावकों की तस्वीरें हर साल सुर्खियां बटोरती हैं. हर साल कदाचार मुक्त परीक्षा के सैकड़ों दावे किए जाते हैं लेकिन यूपी के मऊ जिले से सामने आए एक वीडियो ने पूरी व्यवस्था की पोल-पट्टी खोल कर रख दी है. वीडियो में एक कॉलेज का प्रबंधक छात्रों को नकल करने की तरकीबें बताता दिख रहा है.

प्रबंधक ने बच्चों को सिखाया नकल का पाठ

वायरल वीडियो उत्तर प्रदेश के मऊ जिला स्थित हरिवंश मेमोरियल इंटर कॉलेज की है. वीडियो में स्कूल का प्रबंधक छात्र-छात्राओं को नकल करने की तरकीबें बताता दिख रहा है. इस वीडियो में शिक्षक-शिक्षिकाएं और बच्चे बड़ी संख्या में दिख रहे हैं. प्रबंधक उन्हें बता रहा है कि परीक्षा के दौरान बिना शोरगुल मचाए कैसे अनुशासन के साथ चीटिंग की जा सकती है.

कैसे जांच अधिकारी की आंखों में सफाई से धूल झोंका जा सकता है. प्रबंधक वीडियो में छात्रों को परीक्षा में मार्क्स लाने के लिए रिश्वत देने की बात भी कहता नजर आ रहा है.

जानिए प्रबंधक ने वीडियो में क्या कुछ कहा

वीडियो में प्रबंधक कहता नजर आ रहा है. आगे-पीछे एक दूसरे की उत्तर पुस्तिका देख कर लिख लेना. एक-दो नंबर वाला सवाल आपस में मिला कर लिख लेना. लेकिन ज्यादा शोरगुल मत मचाना. अनुशासन बनाए रखना. यदि जांच अधिकारी तुम्हारा चिट पकड़ लें और थप्पड़ मारें तो बर्दाश्त कर लेना. बोलना, सर एक थप्पड़ और मार लीजिए. अकड़ के उनके सामने नहीं खड़ा होना. उनको लगेगा यहां उद्दण्ड किस्म के बच्चे हैं. तन के खड़े रहोगे तो वो पूरे स्कूल का नुकसान कर देगा.

प्रबंधक यहीं नहीं रूकते. आगे कहते हैं कि कोई भी प्रश्न छोड़ना मत. जितना तक हो सके लिखना. स्टेप मार्किंग होता है तो पांच-छह नंबर वाले सवाल में तीन नंबर तो गारंटी मिलेगा. सवाल का उत्तर लिखना और उसमें 100 रुपया का नोट रख देना. टीचर आंख मूंद के नंबर देगा. अरे, कोई जांचता थोड़े है कि क्या लिखा है. यदि उत्तर गलत भी हुआ तो लिखने का नंबर मिलेगा. 10 दिन बचा है परीक्षा में. ठीक से परीक्षा देना.

जय हिन्द-जय भारत कहना भी नहीं भूले

प्रबंधक वीडियो के आखिर में छात्र-छात्राओं से माफी भी मांगते नजर आते हैं. वो कहते हैं कि कभी किसी को मारा-पीटा हो, बस्ता फेंक दिया हो. डांटा हो,तो माफ कर देना. मन में कोई नाराजगी नहीं रखना. मेहनत से धैर्य के साथ परीक्षा देना. हरिवंश मेमोरियल इंटर कॉलेज का नाम रोशन करना. सबको शुभकामनाएं, प्रबंधक अंत में जय हिंद-जय भारत कहना नहीं भूले.

डिस्ट्रिक मजिस्ट्रेट ने दिया जांच का आदेश

अब वीडियो वायरल होने के बाद यूपी के शिक्षा महकमें में हड़कंप मचा हुआ है. मऊ जिला के उपायुक्त और शिक्षा अधिकारी सकते में हैं. मऊ के जिला मजिस्ट्रेट ज्ञान प्रकाश त्रिपाठी ने वायरल वीडियो के संबंध में पूछे जाने पर कहा कि हमने घटना का संज्ञान लिया है. जांच के बाद दोषी पर सख्त कार्रवाई की जाएगी.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें