1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. kanpur
  5. khushi dubey mother may contest assembly elections know why speculations are being made acy

UP Election 2022: खुशी दुबे की मां लड़ सकती हैं विधानसभा चुनाव, जानें क्यों लगायी जा रही अटकलें

सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव के खास मेजर आशीष चतुर्वेदी ने स्थानीय नेता के कार्यालय में खुशी दुबे की मां गायत्री तिवारी से चुनाव लड़ने के लिए संपर्क किया और आश्वासन दिया है कि अगर सपा सरकार बनती हैं तो एक महीने में खुशी को रिहा करायेंगे.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Kanpur
Updated Date
UP Election 2022: खुशी दुबे की मां लड़ सकती हैं विधानसभा चुनाव
UP Election 2022: खुशी दुबे की मां लड़ सकती हैं विधानसभा चुनाव
प्रभात खबर

UP Election 2022: बिकरू कांड में आरोपी खुशी दुबे की मां विधानसभा चुनाव लड़ सकती हैं. खुशी दुबे की मां गायत्री तिवारी से समाजवादी पार्टी के नेताओं ने मुलाकात करी है. वहीं, खुशी की मां का कहना है कि उनकी पहली प्राथमिकता है खुशी को न्याय दिलाना. उनका कहना है कि सपा न्याय दिलाने का आश्वासन दे रही है और सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव अगर चुनाव लड़ने को कहते हैं तो वो चुनाव लड़ने को तैयार हैं. सपा नेताओं ने गोविंद नगर सीट से चुनाव लड़ने का प्रस्ताव रखा है. हालांकि अब सम्राट विकास को यहां से टिकट दे दिया गया है.

जुलाई 2020 में हुआ बिकरू कांड

बता दें, 2-3 जुलाई 2020 को कानपुर के चौबेपुर थाना क्षेत्र के बिकरू गांव में गैगस्टर विकास दुबे ने अपने गुर्गों के साथ में सीओ समेत आठ पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी थी. वहीं इस हत्या कांड से थर्राई पुलिस ने एक सप्ताह के अंदर मध्यप्रदेश के उज्जैन मन्दिर प्रांगण से विकास को गिरफ्तार किया था, जिसे कानपुर लाते समय सचेंडी थाना क्षेत्र में पुलिस से हुई मुठभेड़ में मार गिराया था.

विकास दुबे एनकाउंटर में ढेर

विकास समेत 6 बदमाशों को पुलिस ने एनकाउंटर में ढेर किया था. इस एनकाउंटर में विकास दुबे का खास गुर्गा और भांजा अमर दुबे भी शामिल था. 30 जून को अमर की शादी कानपुर के पनकी थाना क्षेत्र की रहने वाली खुशी से हुई थी. जिस वक्त खुशी की शादी हुई थी, तब खुशी नाबालिग थी. वहीं, 2 दिन उसकी शादी को हुए थे, जब बिकरू कांड हुआ था. वहीं, पुलिस ने खुशी पर हत्या, लूट व डकैती सहित 17 धाराएं लगाकर जेल भेजा था. उस समय नेताओं ने खुशी पर हुई कार्रवाई पर सवाल खड़े किए थे.

कांग्रेस ने ऋचा दुबे से किया संपर्क

सूत्रों का कहना है कि कांग्रेस ने विकास दुबे की पत्नी ऋचा दुबे से भी चुनाव लड़ने के लिए संपर्क किया था, लेकिन पार्टी ने फैसला बदल दिया. वहीं, सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव के खास मेजर आशीष चतुर्वेदी ने स्थानीय नेता के कार्यालय में खुशी दुबे की मां गायत्री तिवारी से चुनाव लड़ने के लिए संपर्क किया और आश्वासन दिया है कि अगर सपा सरकार बनती हैं तो एक महीने में खुशी को रिहा करायेंगे. इस पर गायत्री का कहना है कि अगर सपा टिकट देती है तो वह चुनाव लड़ेंगी.

रिपोर्ट- आयुष तिवारी, कानपुर

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें