1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. kanpur
  5. bikru case latest update police start listing of vikas dubey property for sealing rkt

Kanpur: गैंगस्टर विकास दुबे की संपत्तियों पर योगी सरकार का एक्शन, पुलिस करेगी 50 करोड़ की संपत्ति कुर्क

बिकरु का कांड के मुख्य आरोपी विकास दुबे की करीब 50 करोड़ की संपत्ति की कुर्की होंगी. इसको लेकर बिल्हौर थाना प्रभारी चल अचल संपत्ति की सूची तैयार कर रहे है.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Kanpur
Updated Date
गैंगस्टर विकास दुबे
गैंगस्टर विकास दुबे
प्रभात खबर

Kanpur News: बिकरु का कांड के मुख्य आरोपी विकास दुबे की करीब 50 करोड़ की संपत्ति की कुर्की होंगी. इसको लेकर बिल्हौर थाना प्रभारी चल अचल संपत्ति की सूची तैयार कर रहे है. 15 दिनों के अंदर सूची तैयार कर कुर्की की कार्रवाई की जाएगी. पुलिस की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक बिल्हौर थाना प्रभारी धनेश प्रसाद ने गैंगस्टर विकास दुबे समेत बिकरु कांड के अन्य आरोपियों की चल-अचल संपत्तियों का पीडब्ल्यूडी से मूल्यांकन और चिन्हीकरण बीते दिनों ही शुरू करवाया था. वहीं इस कड़ी में पहले ही विकास दुबे के खजांची जय बाजपेई की लगभग 2.97 करोड़ की संपत्तियों को कुर्क किया जा चुका है.

विकास और जय के अलावा अन्य आरोपियों की संपत्ति चिन्हित

विकास दुबे ओर खचांची जय बाजपेई के साथ मे अन्य आरोपियों की भी संपत्ति चिन्हित कर ली गई है. जिसमें विकास दुबे के करीबी विष्णुपाल सिंह उर्फ जिलेदार की कई संपत्तियों को कुर्क किया गया है. जिसमे करीब 40 लाख की संपत्ति में जिलेदार सिंह का मिनी ट्रक, शिवली टाउन स्थित घर, आटा चक्की, पैतृक मकान का हिस्सा शामिल है.

विकास की ये संपत्ति होगी कुर्क

पुलिस ने विकास दुबे की संपत्ति में से 2 गाड़ी, 2 ट्रैक्टर, बिकरु स्थित पैतृक मकान, गांव की 12 बीघा जमीन, सकरवां की 13 बीघा जमीन और अन्य संपत्तियों को भी चिन्हित किया है. इनकी कीमत करीब 50 करोड़ से बताई जा रही है. वहीं कई बेनामी संपत्तियों का ब्यौरा भी जुटाया जा रहा है.

क्या है पूरा मामला

देश का बहुचर्चित बिकरु कांड जिसने पूरे देश के लोगों को अपनी ओर आकर्षित कर रखा था. इस कांड की देश से लेकर विदेश तक चर्चा हुई थी. बता दें कि 2- 3 जुलाई 2020 को कानपुर के चौबेपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत बिकरु गांव में हिस्ट्रीशीटर को पकड़ने गई पुलिस पर बदमाशों ने ताबड़तोड़ गोलियों से हमला कर दिया था. जिसमें एडिशनल एसपी समेत 8 पुलिस कर्मियों की मौत हो गई थी. जबकि दर्जन भर पुलिस कर्मी घायल हुए थे. बिकरु कांड के बाद यूपी पुलिस ने 3 जुलाई से आरोपियों को पकड़ने के लिए दबिश शुरू की और एनकाउंटर शुरू हुए.

3 जुलाई से 9 जुलाई के बीच ताबड़तोड़ एनकाउंटर हुए जिसमे मुख्य आरोपी विकास दुबे भी सम्मिलित है. बताते चले कि विकास को महाराष्ट्र के उज्जैन से कानपुर लाते समय भौति के पास एनकाउंटर में ढेर कर दिया था. जिसके बाद विपक्ष ने मौजूदा सरकार को जमकर घेरा भी था. बहरहाल बिकरु कांड के 50 से अधिक आरोपी और विकास की मदद करने वाले माती जेल में बंद है. जिसमें विकास दुबे का खचांची जय बाजपेई भी शामिल है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें