1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. kanpur
  5. action against doctors for not treating the child kanpur district hospital viral video rkt

Kanpur: गोद में बेहोश बच्चा, स्ट्रेचर के लिए भटकती बेबस मां...इलाज न मिलने पर डिप्टी CM ने लिया ये एक्शन

कानपुर डीएम नेहा शर्मा ने मामले को संज्ञान में लेते हुए प्रकरण में जांच के लिए कमेटी का गठन किया है. उर्सला में लगे टीम द्वारा सीसीटीवी फुटेज की जांच की गई, जिसमें कई लोगों की लापरवाही सामने आई है.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Kanpur
Updated Date
6 साल की मासूम को इधर-उधर भटकती रही मां
6 साल की मासूम को इधर-उधर भटकती रही मां
Social media

Kanpur News: कानपुर के उर्सला अस्पताल में एक बेबस मां अपने मासूम बच्चे को गोद में लेकर इलाज के लिए भटक रही थी,लेकिन बच्चे को अस्पताल में न तो इलाज मिला था और न ही स्ट्रेचर. वहीं बेबस का माँ का इधर उधर दौड़ने का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हुआ. बेबस मां का मासूम को गोद मे लेकर इधर से उधर दौड़ने का वीडियो जब डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक के संज्ञान में आया तो उन्होंने तुरंत इस मामले में रिपोर्ट मांग ली. शुक्रवार को डीएम ने जांच की और 2 वार्ड ब्वॉय को सस्पेंड कर दिया. वहीं, 2 डॉक्टरों और 2 फार्मासिस्ट के खिलाफ सख्त कार्रवाई के लिए महानिदेशक स्वास्थ्य को पत्र भेजा गया.

जांच के लिए गठित की टीम

कानपुर डीएम नेहा शर्मा ने मामले को संज्ञान में लेते हुए प्रकरण में जांच के लिए कमेटी का गठन किया है. उर्सला में लगे टीम द्वारा सीसीटीवी फुटेज की जांच की गई, जिसमें कई लोगों की लापरवाही सामने आई है. ड्यूटी पर उपस्थित डॉक्टर केएन कटियार, डॉ. प्रवीण कुमार सक्सेना के विरुद्ध महानिदेशक चिकित्सा एवं स्वास्थ्य को कार्रवाई के लेटर लिखा है. हालांकि 2 वार्ड बॉय को सस्पेंड कर दिया है फार्मासिस्ट सत्येंद्र सिंह, संजय यादव के खिलाफ भी कार्रवाई के लिए लेटर लिखा गया है. वहीं वार्ड ब्वॉय धीरेंद्र धर, श्यामसुंदर तिवारी को सस्पेंड कर दिया गया है. वहीं डीएम ने सभी डॉक्टरों और कर्मचारियों को स्पष्ट रूप से निर्देश दिए हैं कि किसी भी मरीज के इलाज में भविष्य में लापरवाही हुई तो कड़ी कार्रवाई के लिए तैयार रहे.

डिप्टी सीएम ने मांगी रिपोर्ट

उर्सला अस्पताल में बेबस माँ के मासूम को इलाज ओर स्ट्रेचर नही मिला जिसके बाद बेबस मा का बच्चे को गोद मे लेकर इलाज के लिए इधर उधर दौड़ने का वीडियो वायरल हुआ जिसके बाद डिप्टी सीएम ने मामले को संज्ञान में लिया और रिपोर्ट मांगी वही डिप्टी सीएम ने मामले को ट्वीट कर कहा कि उर्सला अस्पताल,कानपुर में बच्चे को गोद मे लेकर भटक रही माँ से संबंधित मीडिया रिपोर्ट का संज्ञान लेते हुए मैंने उक्त प्रकरण के संबंध में एक सप्ताह के अंदर स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने तथा भविष्य में ऐसी पुनरावृति न हो,सुनिश्चित किये जाने के आदेश दिए हैं.

क्या है पूरा मामला

बीते बुधवार को उर्सला अस्पताल की ओपीडी के रिकार्ड के अनुसार दादा नगर निवासी चार वर्षीय अनुभव को लेकर उसकी मां इमरजेंसी में पहुंची थीं. अलमारी गिरने से बच्चे की रीढ़ की हड्डी में चोट लगी थी, वह दर्द से बेहाल था. वायरल वीडियो में वह इमरजेंसी से बच्चे को गोद में लेकर सड़क पार करके इनडोर ब्लाक की तरफ एक्सरे जांच कराने के लिए जाती नजर आ रही है. उसके कुछ देर बाद वह फिर से इमरजेंसी पहुंची. उसके कुछ देर बाद फिर से वह बच्चे को गोद में लेकर बाहर जाती हुई नजर आई थी.इलाज न देने के बाद उसे बेहतर इलाज के लिए एलएलआर अस्पताल रेफर कर दिया था.

हैलट में चल रहा बच्चे का इलाज

रोती-बिलखती मां बच्चे को गोद में लेकर निराश बाहर निकली और किसी तरह हैलट अस्पताल पहुंची. जहां बाल रोग विभागाध्यक्ष डॉ. यशवंत राव ने उसे भर्ती कर इलाज शुरू किया.उन्होंने बताया कि बच्चे की हालत में फिलहाल सुधार है.

रिपोर्ट - आय़ुष तिवारी

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें