1. home Home
  2. state
  3. up
  4. gorakhpur
  5. sp leader rajpal kashyap attacks pm modi on farm laws abk

कृषि कानूनों को वापस लेने पर समाजवादी पार्टी का सवाल- क्या 700 किसानों को मिलेगा शहीद का दर्जा?

सर्किट हाउस में प्रेस वार्ता में विधान परिषद सदस्य राजपाल कश्यप ने तीन कृषि कानूनों पर कहा कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार क्या 700 किसानों की मौत के बाद उन्हें शहीद का दर्जा देगी?

By Prabhat Khabar Digital Desk, Gorakhpur
Updated Date
कृषि कानूनों को वापस लेने पर समाजवादी पार्टी का सवाल
कृषि कानूनों को वापस लेने पर समाजवादी पार्टी का सवाल
प्रभात खबर

Gorakhpur News: समाजवादी पार्टी के पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष और विधान परिषद सदस्य राजपाल कश्यप ने शुक्रवार को बीजेपी पर खूब निशाना साधा. उन्होंने बीजेपी को झूठ की फैक्ट्री करार दिया. सर्किट हाउस में प्रेस वार्ता में विधान परिषद सदस्य राजपाल कश्यप ने तीन कृषि कानूनों पर कहा कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार क्या 700 किसानों की मौत के बाद उन्हें शहीद का दर्जा देगी?

सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने पहले ही इसकी संभावना व्यक्त कर दी थी कि पंजाब और उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव को देखते हुए केंद्र सरकार कृषि कानून वापस लेगी, उनका अनुमान सही साबित हुआ.
राजपाल कश्यप, सपा नेता

निषादों के कद्दावर नेता जमुना निषाद की पुण्यतिथि में शामिल होने सपा के पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष और विधान परिषद सदस्य डॉ. राजपाल कश्यप गोरखपुर पहुंचे थे. इस दौरान राजपाल कश्यप ने सर्किट हाउस पत्रकारों से बातचीत के दौरान केंद्र और राज्य सरकार पर तीखा हमला किया. उन्होंने तीन किसी कानून वापस लिए जाने के फैसले के बाद सरकार पर निशाना साधते हुए सवाल पूछा कि क्या नरेंद्र मोदी सरकार 700 किसानों की मौत के बाद उन्हें शहीद का दर्जा देना चाहेगी?

सपा के प्रवक्ता और विधान परिषद के सदस्य राजपाल कश्यप ने कहा भाजपा झूठ की फैक्ट्री है, जहां से झूठ ही सिखाया जाता है. भाजपा के लोगों को झूठ बोलने और सिखाने के लिए राष्ट्रपति के द्वारा पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित किया जाना चाहिए. विशेष तौर पर प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री को. राजपाल कश्यप ने प्रदेश की बेरोजगारी की बात करते हुए मुख्यमंत्री पर निशाना साधा और कहा कि मुख्यमंत्री खुद योग्य नहीं हैं और जनता 2022 विधानसभा चुनाव में इसका जवाब देखी.

(रिपोर्ट: अभिषेक पांडेय, गोरखपुर)

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें