1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. gorakhpur
  5. embezzlement of lakhs of rupees in two post offices of gorakhpur nrj

गोरखपुर के दो डाकघरों में लाखों रुपए का गबन, भ्रष्टाचार की खुल रहींं परतें, जानें पूरा मामला

कर्मचारियों ने फर्जीवाड़ा कर सरकारी धन से लाखों रुपए निकाल लिए हैं. दोनों डाकघरों में 75 लाख रुपए से अधिक रकम खाताधारकों के खाते से कर्मचारियों ने निकाल लिया है. बनारस के बाद गोरखपुर के डाकघरों में ये फर्जीवाड़ा सामने आने पर अधिकारियों के होश उड़ गए हैं.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Gorakhpur
Updated Date
कर्मचारियों ने फर्जीवाड़ा कर सरकारी धन से लाखों रुपए निकाल लिए.
कर्मचारियों ने फर्जीवाड़ा कर सरकारी धन से लाखों रुपए निकाल लिए.
Prabhat Khabar

Gorakhpur News: यूपी के गोरखपुर में भ्रष्टाचार की परत-दर-परत खुलती जा रही है. ताजा मामला दो डाकघरों का है. यहां से कर्मचारियों ने फर्जीवाड़ा कर सरकारी धन से लाखों रुपए निकाल लिए हैं. दोनों डाकघरों में 75 लाख रुपए से अधिक रकम खाताधारकों के खाते से कर्मचारियों ने निकाल लिया है. बनारस के बाद गोरखपुर के डाकघरों में ये फर्जीवाड़ा सामने आने पर अधिकारियों के होश उड़ गए हैं. 

सीबीआई से जांच भी कराई गई

गोरखपुर के विश्वविद्यालय उप डाकघर और कूड़ाघाट डाकघर में खाताधारकों के खातों में जमा की गई 75 लाख से अधिक रकम का फर्जीवाड़ा किया गया है. दोनों मामले में कैंट पुलिस ने तीन कर्मचारियों पर केस दर्ज किया है. इनमें दो डाकघर के विभागीय कर्मचारी हैं, जबकि एक संविदा पर तैनात है. इससे पहले वाराणसी में भी मुख्य डाकघर से दर्जनों खाताधारकों का करोड़ों रुपया निकालने का मामला सामने आया था. मामले में कई कर्मचारियों पर कार्रवाई हुई और सीबीआई से जांच भी कराई गई.

डाक सहायक को निलम्बित भी किया गया

गोरखपुर में विश्वविद्यालय उप डाकघर से पैसा निकासी के मामले में सहायक अधीक्षक केन्द्रीय उप मंडल संतोष कुमार सिंह की तहरीर पर पुलिस ने डाक सहायक गितेश कुमार पाण्डेय पर केस दर्ज कराया है. आरोप है कि कर्मचारी गितेश ने 31 दिसम्बर 2018 से 12 मार्च 2022 तक डाक सहायक के रूप में काम करते हुए विभिन्न खातों से 25,29,317 रुपये के सरकारी धन की निकासी कर ली. प्रकरण सामने आने के बाद विभागीय जांच करते हुए डाक सहायक को निलम्बित भी किया गया है.

केस दर्ज किया गया

दूसरी तरफ कूड़ाघाट डाकघर में गबन के मामले में निरीक्षक डाकघर पूर्वी उप मंडल सीबी सिंह की तहरीर पर कर्मचारी शैलेन्द्र कुमार और संविदाकर्मी रोहित कुमार पर केस दर्ज किया गया है. शैलेन्द्र कुमार निवमनीचक मसौढी पटना के निवासी है. जबकि रोहित कुमार चौधरी आवास विकास कालोनी कूड़ाघाट का निवासी हैं. शैलेन्द्र कुमार डाकघर कूड़ाघाट में  एक जुलाई 2019 से 15 जुलाई 2021 तक तैनात रहा है.

रोहित के बैंक खाते में डालकर निकाल लिया

उसे 15 जुलाई 2021 को निलम्बित किया गया है. सीबी सिंह ने अपनी तहरीर में बताया है कि विभिन्न खाताधारकों के पैसे को रोहित चौधरी के सहयोग से शैलेन्द्र कुमार ने 45,26234 रुपए का गबन किया है. शैलेन्द्र कुमार ने यह सभी पैसा रोहित के बैंक खाते में डालकर निकाल लिया है. दोनों मामलों में पुलिस ने धारा 409 यानी अमानत में खयानत का केस दर्ज किया है.

रिपोर्ट : कुमार प्रदीप

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें