1. home Home
  2. state
  3. up
  4. gorakhpur
  5. crook asked ransom from doctor in gorakhpur after death these patients in up avi

Gorakhpur News: इलाज के दौरान परिजन की मौत, अब फोन कर डॉक्टर से मांगी 2 करोड़ की रंगदारी

एसएसपी गोरखपुर विपिन टाडा ने बताया कि रंगदारी के मामले में केस दर्ज कर लिया गया है. शशांक मिश्रा और डॉक्टर के बीच में पहले से विवाद चल रहा था. जिसके बाद शशांक ने डॉक्टर को फोन कर के दो करोड़ रुपए मांगी और जान-माल से मारने की धमकी दी.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Gorakhpur
Updated Date
गोरखपुर के पुलिस अधीक्षक जानकारी देते हुए
गोरखपुर के पुलिस अधीक्षक जानकारी देते हुए
प्रभात खबर

गोरखपुर के मोहद्दीपुर में स्थित टाइमनियर हॉस्पिटल के संचालक शशांक दीक्षित से फोन पर 2 करोड़ की रंगदारी मांगी गई और पैसे ना देने पर डॉक्टर को जानमाल की धमकी दी गई. जिसके बाद डॉक्टर ने मोबाइल नंबर के आधार और शक के आधार पर शशांक मिश्रा नाम के एक युवक के ऊपर कैंट थाने में मुकदमा दर्ज कराया.

जानकारी के अनुसार मरीज को हार्ट अटैक आया. और आनन-फानन में उनका इलाज शुरू हुआ. लेकिन उनकी जान चली गई. इसके बाद से गुस्साए परिजनों ने हॉस्पिटल में हंगामा काट दिया. इमरजेंसी वार्ड में तोड़फोड़ किया. इस मामले पर हॉस्पिटल के संचालक शशांक दीक्षित ने कहा की परिजनों के तोड़फोड़ की वजह से लाखों का नुकसान हुआ है. जबकि उनके मरीज की मौत हार्ट अटैक की वजह से हुई है.

इसके बाद कल देर शाम 6:00 बजे के आसपास डॉक्टर के मोबाइल नंबर पर एक फोन आया. जिसके बाद उनसे दो करोड़ रुपए की रंगदारी मांगी गई. रंगदारी ना देने पर उन्हें जानमाल से मार देने की धमकी भी दी गई. डॉक्टर ने मोबाइल नंबर और शक के आधार पर शशांक मिश्रा नाम के एक युवक के ऊपर गोरखपुर के कैंट थाने में मुकदमा दर्ज कराया

डॉक्टर से रंगदारी की सूचना मिलने के बाद मौके पर पुलिस टीम पहुंची. और जिस नंबर से फोन आया था उसकी छानबीन में जुट गई. यह मोबाइल नंबर शशांक मिश्रा का था. शशांक वर्तमान में गोरखपुर के महदीपुर में ही रहता है. जबकि मूल रूप से वह सेमराराजे सुल्तानपुर अंबेडकर नगर का निवासी है. शशांक के मरीज बृहस्पतिवार को इसी हॉस्पिटल में मौत हो गई थी. जिसके बाद से शशांक और डॉक्टर के बीच पर विवाद चल रहा था

एसएसपी गोरखपुर विपिन टाडा ने बताया कि रंगदारी के मामले में केस दर्ज कर लिया गया है. शशांक मिश्रा और डॉक्टर के बीच में पहले से विवाद चल रहा था. जिसके बाद शशांक ने डॉक्टर को फोन कर के दो करोड़ रुपए मांगी और जान-माल से मारने की धमकी दी. डॉक्टर और उनके परिवार को सुरक्षा मुहैया करा दी गई.

बताते चलें कि टाइमनियर हॉस्पिटल के संचालक शशिकांत दीक्षित से 4 साल पहले भी रंगदारी मांगी गई थी. 4 साल पहले डॉक्टर शशीकांत दिक्षित से चंदन सिंह नाम के कुख्यात अपराधी ने गौतमबुद्ध नगर जेल से 20 लाख रुपए की रंगदारी मांगी गई थी. इस मामले में पुलिस ने केस दर्ज कर लिया था. और मामले की जांच चल रही है

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें