1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. bareilly
  5. police mock drill in bareilly riot control equipment operated during exercise rkt

बरेली पुलिस ने बलवाइयों पर किया लाठीचार्ज-छोड़े आंसू गैस के गोले, मॉक ड्रिल में किया बलवा परेड का प्रदर्शन

बरेली पुलिस लाइन ग्राउंड में दंगा नियंत्रण को मॉक ड्रिल की गई.इसमें सभी अफसर समय से पहुंच गए थे. भीड़ को तितर-बितर करने के लिए फायर बिग्रेड की गाड़ी से पानी की बौछारें भी बलवाइयों को मारी गई.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Bareilly
Updated Date
Bareilly News
Bareilly News
प्रभात खबर

Bareilly News: बरेली में 'दंगा नियंत्रण को बलवाइयों पर लाठीचार्ज किया गया, तो वहीं आंसू गैस के गोले भी छोड़े गए' मगर यह हकीकत में नहीं, बल्कि अचानक बलवा होने पर किस तरह से हालात को नियंत्रित किया जाए. इन बिंदुओं में ध्यान में रखकर बरेली पुलिस लाइन में मॉक ड्रिल का आयोजन किया था.इस मॉक ड्रिल में एसएसपी, एडिशनल एसपी, सीओ, इंस्पेक्टर अपनी पुलिस टीम के साथ मौजूद थे.पुलिसकर्मियों ने रिहर्सल के दौरान एक दूसरे पर आंसू गैस के गोले, टियर गैस, हैंड ग्रेनेड का भी इस्तेमाल किया.

बरेली पुलिस लाइन ग्राउंड में दंगा नियंत्रण को मॉक ड्रिल की गई.इसमें सभी अफसर समय से पहुंच गए थे.एडिशनल एसपी, सीओ और इंस्पेक्टर अपनी दंगा रोधक टीम के साथ मौजूद थे. भीड़ को तितर-बितर करने के लिए फायर बिग्रेड की गाड़ी से पानी की बौछारें भी बलवाइयों को मारी गई. इसके बाद पुलिस टीम धड़ों में बट गई.एक तरफ दंगा करने वाले खुराफाती थे, तो वहीं दूसरी तरफ बलवाईयों को नियंत्रण करने वाली पुलिस थी. दंगे को नियंत्रित करने वाली पुलिस टीम ने बलवाइयों के ऊपर लाठीचार्ज किया.

आंसू गैस के गोले छोड़े, रबड़ के गोले छोड़े, एंटी राइट गन, रबर बुलेट गन, टियर गैस गन, हैंड ग्रेनेड का इस्तेमाल किया गया.इसके बाद एसएसपी रोहित सिंह सजवाण ने सभी पुलिसकर्मियों को दंगा नियंत्रण के बारे में विस्तार से बताया.उन्होंने अचानक बलवा होने पर किस तरह से हालात को नियंत्रित करना है.इसको मॉक ड्रिल में समझाया.इस दौरान एसपी सिटी रविंद्र सिंह,एसपीआरए राजकुमार अग्रवाल, एसपी क्राइम मुकेश प्रताप सिंह, एसपी ट्रैफिक राम मोहन सिंह,शहर के सभी सीओ और इंस्पेक्टर मौजूद थे.

एसएसपी ने पढ़ाया जिम्मेदारी का पाठ

एसएसपी ने रिजर्व पुलिस लाइन सभागार में शहर के सभी चौकी इंचार्ज की मीटिंग कर ऑपरेशन दस्तक का शत प्रतिशत सफल क्रियान्वयन करने, 05 वर्षों के अपराधियों का सत्यापन कराने, विवेचना व गुणवत्ता पूर्वक निस्तारण, प्रतिदिन सार्वजनिक और भीड़ भाड़ वाले स्थानों पर रात्रि पैदल गश्त, अवैध ऑटो, बस स्टैंड को हटाने की कार्रवाई,अपने-अपने कार्यक्षेत्र में सीटों का सत्यापन और त्योहारों को सकुशल संपन्न कराने के निर्देश दिए गए.

रिपोर्ट : मुहम्मद साजिद

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें