1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. bareilly
  5. imc chief maulana tauqir raza said akhilesh yadav silent due to fear of rss ed and cbi nrj

Bareilly News: आईएमसी प्रमुख मौलाना तौकीर रजा बोले, अखिलेश यादव आरएसएस, ईडी और सीबीआई के डर से खामोश

आईएमसी प्रमुख अपने सौदागरान स्थित आवास पर पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे. उन्होंने सफा सपा मुखिया अखिलेश यादव पर आरोप लगाते हुए कहा कि वह आरएसएस, ईडी और सीबीआई के डर से खामोश हैं. मुसलमानों पर जुल्म पर उनके मुंह से हमदर्दी का एक भी शब्द नहीं निकल रहा है.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Bareilly
Updated Date
इत्तेहाद-ए-मिल्लत काउंसिल (आईएमसी) प्रमुख एवं नवीरे आला हजरत मौलाना तौकीर रजा खान.
इत्तेहाद-ए-मिल्लत काउंसिल (आईएमसी) प्रमुख एवं नवीरे आला हजरत मौलाना तौकीर रजा खान.
Prabhat Khabar

Bareilly News: इत्तेहाद-ए-मिल्लत काउंसिल (आईएमसी) प्रमुख एवं नवीरे आला हजरत मौलाना तौकीर रजा खान ने गुरुवार को सेकुलर सियासत का चोला ओढ़कर सियासत करने वाली सियासी पार्टियों पर जमकर हमला बोला. मौलाना ने कहा की हिंदू-मुस्लिम के बीच नफरत फैलाने वालों के हौसले लगातार बुलंद होते जा रहे हैं क्योंकि, सरकार एकतरफा कार्रवाई कर रही है. धार्मिक जुलूस में अवैध हथियार लहराने वाले अपने आकाओं के कंट्रोल से भी बाहर हो गए हैं. अब वह किसी की नहीं सुनते.इसीलिए देश के हालात लगातार बिगड़ते जा रहे हैं. मौलाना में पीएम नरेंद्र मोदी को देश के बिगड़ते हालातों पर चुप्पी तोड़कर बोलने की सलाह दी.

'अखिलेश यादव के असली चेहरे को पहचानना चाहिए''

आईएमसी प्रमुख अपने सौदागरान स्थित आवास पर पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे. उन्होंने सफा सपा मुखिया अखिलेश यादव पर आरोप लगाते हुए कहा कि वह आरएसएस, ईडी और सीबीआई के डर से खामोश हैं. मुसलमानों पर जुल्म पर उनके मुंह से हमदर्दी का एक भी शब्द नहीं निकल रहा है. मुसलमानों को अखिलेश यादव के असली चेहरे को पहचानना चाहिए. उनके जितने भी विधायक जीते हैं.वह मुसलमानों के वोट से जीते.मगर, उनको मुसलमानों से कोई हमदर्दी नहीं. मुसलमानों को भी सपा और अखिलेश यादव से दूरी बना लेनी चाहिए.

'बच्चों को अवैध हथियार थमा दिए'

इससे पहले बरेली के ही मौलाना शहाबुद्दीन ने सपा से मुसलमानों के दूरी बनाने की बात कही थी. मौलाना तौकीर रजा ने जल्द मोहम्मद आजम खान समेत प्रमुख नेताओं से बात कर रणनीति बनाने की बात कही. मौलाना ने कहा मुसलमानों के खिलाफ नफरत का माहौल बनाया जा रहा है. धार्मिक जुलूस के नाम पर छोटे-छोटे बच्चों को अवैध हथियार थमा दिए गए हैं. मस्जिदों पर जबरदस्ती भगवा झंडा लगाया जा रहा है. मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्रों में जुलूस निकाले जा रहे हैं. सरकार खामोश है, दंगाइयों पर कार्रवाई करने के बजाय मुसलमानों पर फर्जी मुकदमें लिखे जाते हैं. मुसलमानों की संपत्ति और व्यापार पर बुलडोजर चलाया जाता है.यह कैसा सबका साथ और सबका विश्वास या इंसाफ है.

हिंदू धर्म में हनुमान चालीसा का बड़ा महत्व

मौलाना ने कहा हिंदू धर्म में हनुमान चालीसा का बहुत बड़ा महत्व है. हिंदू भाई हनुमान चालीसा पाठ करें.इस पर किसी को आपत्ति नहीं हो सकती. मगर अफसोस की बात है.अपने राजनीतिक स्वार्थ के लिए कुछ लोग हनुमान चालीसा का पाठ भी मुसलमानों को परेशान करने के लिए कर रहे हैं.ऐसे लोग अपने धर्म का नुकसान कर रहे हैं. देश के साथ धर्म को बदनाम कर रहे हैं.

मुस्लिम बच्चों के मुस्तकबिल पर सोचें

ईएमसी प्रमुख ने कहा कि मुसलमानों के वोट से अपना वजूद बनाने वाली पार्टियां मुसलमानों पर हो रहे जुल्म पर खामोश है.मगर, अब वक्त आ गया है.मुसलमानों को अपने बच्चों के मुस्तकबिल के बारे में सोचना होगा.वर्ना आने वाली नस्ल हमें माफ नहीं करेंगी. मौलाना ने सेकुलर और मुस्लिम सांसद-विधायकों से मुसलमानों के खिलाफ होने वाले जुल्म पर बोलने की बात कही.बोले, अगर वह पार्टी एजेंडे से बंधे हैं, तो इस्तीफा देकर संवैधानिक आधार पर सड़क पर उतरें. खामोश बैठ कर तमाशा ना देखें. इससे देश और कौम का नुकसान हो रहा है.

'ईद के बाद एक बड़ा आंदोलन'

ईद बाद आंदोलन की चेतावनी मौलाना ने कहां की ईद के बाद एक बड़ा आंदोलन शुरू किया जाएगा. क्योंकि, देश के हालात सुधर नहीं रहे हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी एकतरफा जुल्म पर कोई एक्शन नहीं ले रहे हैं. उनको देश के हालातों पर चुप्पी तोड़कर बोलना चाहिए. मगर, उनकी तरफ से कोई भी बात नहीं कही गई है. यह काफी शर्मिंदा होने वाली बात है.

मस्जिद दरगाह पर लगाए सीसीटीवी कैमरे

मौलाना ने कहा कि मुसलमान अपनी मस्जिदों और दरगाह की हिफाजत को सीसीटीवी कैमरे लगाए. इससे कोई भी खुराफाती किसी भी तरह की हरकत करता है, तो यह सीसीटीवी कैमरे में कैद हो जाएगी. इसके साथ ही हम अपनी मस्जिद और दरगाह की हिफाजत कर सकेंगे. इस दौरान नदीम खां, डॉ. नफ़ीस खां और मुनीर इदरीश आदि मौजूद थे.

रिपोर्ट : मुहम्मद साजिद

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें