1. home Home
  2. state
  3. up
  4. bareilly
  5. bareilly triple murder case four accused sent to life imprisonment in businessman sudhir agarwal and two family members killed read the history of heinous crime abk

Bareilly Triple Murder Case: छह साल पहले उद्योगपति परिवार के तीन सदस्यों की हत्या, चारों आरोपियों को उम्रकैद

24 अक्टूबर 2015 की सुबह सुधीर अग्रवाल, उनकी पत्नी और नौकरानी की हत्या की गई थी. इस खौफनाक वारदात की जांच के बाद पुलिस ने सीबीगंज खड़ौआ निवासी नौकरानी अंशु के प्रेमी देवेंद्र, उसके दोस्त अजय कश्यप के साथ एटा के बंधा निवासी ओमकार और संजू को भी गिरफ्तार किया था.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Bareilly
Updated Date
Bareilly Triple Murder Case: छह साल पहले उद्योगपति परिवार के तीन लोगों की हत्या
Bareilly Triple Murder Case: छह साल पहले उद्योगपति परिवार के तीन लोगों की हत्या
प्रभात खबर ग्राफिक्स

Bareilly Triple Murder Case: बरेली की अदालत ने परसाखेड़ा इंडस्ट्रियल एरिया में छह साल पहले उद्योगपति सुधीर अग्रवाल, उनकी पत्नी मधुलिका और नौकरानी अंशु की हत्या के मामले चारों आरोपियों को उम्रकैद की सजा सुनाई है. सुधीर अग्रवाल अपनी फैक्ट्री में बनी कोठी में रहते थे. 24 अक्टूबर 2015 की सुबह सुधीर अग्रवाल, उनकी पत्नी और नौकरानी की हत्या की गई थी. इस खौफनाक वारदात की जांच के बाद पुलिस ने सीबीगंज खड़ौआ निवासी नौकरानी अंशु के प्रेमी देवेंद्र, उसके दोस्त अजय कश्यप के साथ एटा के बंधा निवासी ओमकार और संजू को भी गिरफ्तार किया था.

ट्रिपल मर्डर का केस किराएदार जयप्रकाश ने दर्ज कराया गया था. उधोगपति सुधीर अग्रवाल की हत्या ने समूचे बरेली को झकझोर दिया था. इस मामले की सुनवाई के दौरान अदालत में 11 लोगों की गवाही कराई गई. जयप्रकाश ने पुलिस को बताया था दोपहर को सफाईकर्मी अजय ने मैडम मधुलिका और नौकरानी अंशु को फोन किया. कोई जबाव नहीं मिला. नौकर के साथ जाकर कोठी में देखा तो दरवाजा खुला था. बेड पर सुधीर अग्रवाल का शव पड़ा था. अलमारी का सामान बिखरा था. मकान के ऊपरी हिस्से के बरामदे में मधुलिका और अंशु की खून से सनी लाश थी. तीनों की लूटपाट के बाद हत्या की गई थी.

पहले पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ दर्ज किया केस

पुलिस ने किराएदार की तहरीर पर अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था. पुलिस की जांच में देवेंद्र के नौकरानी अंशु के साथ प्रेम संबधो का खुलासा हुआ था. इसके बाद पुलिस ने देवेंद्र को हिरासत में लेकर पूछताछ की. पूछताछ में घटनास्थल से एक मोबाइल और 40 हजार रुपये लूटने की बात का खुलासा हुआ.

ट्रिपल मर्डर केस रिश्तेदारों ने गवाही से काट ली कन्नी

अदालत में सुनवाई के दौरान अधिकतर गवाहों ने तथ्यों का समर्थन नहीं किया. इनमें मृतक सुधीर अग्रवाल के रिश्तेदार गवाही से कन्नी काटने लगे. नौकरानी अंशु की मां शकुंतला देवी की गवाही ने मामला साफ कर दिया. वो बोलीं आरोपी देवेंद्र ने उनकी बेटी को प्रेमजाल में फंसा लिया था.उसने हत्याकांड को अंजाम दिया.

(इनपुट: मो. साजिद, बरेली)

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें