बैरिया तहसील मोड़ पर अधिवक्ताओं ने रोकी एनएच की रफ्तार

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

बैरिया : बैरिया के तहसीलदार न्यायाल में करीब 20 दिन पहले अधिवक्ता अरविंद सिंह के साथ कतिपय लोगों द्वारा मारपीट करने, कागजात फाड़ने सहित अन्य आरोपों में आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग को लेकेर बैरिया तहसील के अधिवक्ताओं ने एनएच 31 को तहसील मोड़ के पास सोमवार को घंटों जाम रखा. घंटों बाद उपजिलाधिकारी द्वारा उचित कार्रवाई के आश्वासन के बाद अधिवक्ताओं ने चक्का जाम समाप्त कर दिया.

जाम से एनएच 31 पर जाम की समस्या उत्पन्न हो गयी. वहीं लोगों को अवागमन में असुविधा का सामना करना पड़ा. एसोसिएशन के अध्यक्ष चंद्रशेखर यादव के नेतृत्व में अधिवक्ता सड़क पर उतरे थे. अधिवक्ता से मारपीट की घटना के बाद पूरे जनपद की न्यायिक प्रक्रिया अधिवक्ताओं के हड़ताल के कारण ठप हो गयी है. अधिवक्ता लगातार धरना दे रहे हैं लेकिन प्रशासनिक अधिकारी व पुलिस वाले उनके मांगों को नजर अंदाज करते आ रहे हैं.
जिसके पीछे अधिवक्ता राजनैतिक हस्तक्षेप का आरोप लगाते हुए सोमवार को बैरिया तहसील मोड़ के पास चक्का जाम कर दिया. एसडीएम अशोक चौधरी व बैरिया के कोतवाल संजय त्रिपाठी के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे लगाये. मौके पर अधिवक्ताओं से बात करने पहुंचे एसडीएम को अधिवक्ताओं के प्रतिरोध का सामना करना पड़ा.
चक्का जाम करने वालों में अजीत सिंह, गौरीशंकर पांडेय, हरिशंकर प्रसाद, रमेश सिंह, अभय भारती, अजय सिंह, कृष्णनंद सिंह, शत्रुघ्न सिंह, देवेंद्र मिश्र, यशवंत सिंह, शिवनारायण पांडेय, संजय सिंह, विनय सिंह, मनोज कुमार, मनोज कुमार गुप्ता, अशोक कुमार तिवारी, ददन यादव, जाकिर हुसैन, ब्रजेश सिंह, विनोद कुमार यादव, राजकुमार सिंह, श्याम बिहारी उपाध्याय, उमेश सिंह, राजेंद्र यादव तहसील बार अध्यक्ष चन्द्रशेखर यादव सहित दर्जनों अधिवक्ता शामिल थे.
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें