1. home Home
  2. state
  3. up
  4. allahabad
  5. prayagraj news the first farmers train between mainpuri and bihara of assam will be able to send fruits and vegetables at half fare know kisan rail facilities acy

Prayagraj News: मैनपुरी और आसाम के बिहारा के बीच चली पहली किसान रेल, आधे भाड़े पर भेज सकेंगे फल और सब्जियां

मैनपुरी और आसाम के बिहारा के बीच मंगलवार को पहली किसान रेल चलायी गई. इस ट्रेन के जरिये किसान आधे भाड़े पर फल और सब्जियों को आसाम भेज सकेंगे.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Prayagraj
Updated Date
Prayagraj News: मैनपुरी और आसाम के बिहारा के बीच चली पहली किसान रेल
Prayagraj News: मैनपुरी और आसाम के बिहारा के बीच चली पहली किसान रेल
प्रभात खबर

Prayagraj News: भारत सरकार की पहल पर उत्तर मध्य रेलवे के प्रयागराज मण्डल द्वारा पहली किसान रेल का संचालन शुरू किया गया. यूपी के मैनपुरी से मंगलवार सुबह 6:25 पर आसाम के बिहारा के लिए किसान रेल आलू लाद कर रवाना हुई. इस रेल के द्वारा किसान आधे भाड़े पर अपनी फसल सब्जियों को मैनपुरी से बिहारा भेज सकेंगे.

प्रथम किसान रेल
प्रथम किसान रेल
प्रभात खबर

सीपीआरओ डाॅ. शिवम शर्मा ने बताया कि उत्तर मध्य रेलवे के प्रयागराज मण्डल ने भारत सरकार की पहल पर किसानों को अपनी फसल को कमी और मांग वाले राज्यों में बेचने की सुविधा प्रदान करने के लिए मैनपुरी स्टेशन से बिहारा के लिए पहली किसान रेल के संचालन आज 19 अक्टूबर को सुबह 6:25 पर रवाना हुई. यह ट्रेन किसानों को उनकी उपज अन्य राज्यों में भेजने हेतु चलाई गई है.

प्रयागराज मण्डल की पहली किसान रेल गाड़ी सं. 00416 आज दिनांक 19.10.2021 को समय प्रातः 06.25 बजे मैनपुरी स्टेशन से चलकर दिनांक 20.10.21 को 24 बजे आसाम के बिहारा स्टेशन पर पहुंचेगी. इस गाड़ी में लगभग 325 टन आलू की लदान किया गया, जिससे लगभग 15.40 लाख रुपये रेल राजस्व प्राप्त हुआ.

किसान रेल का एक विशेष लाभ यह भी है कि इसमें किसानों को प्रभावी पार्सल दरों की तुलना में 50 प्रतिशत कम शुल्क देना पड़ता है. यह योजना भारत सरकार की पहल है, जिसमें किसानों को फल, सब्जी, डेयरी उत्पादों जैसे पेरिशेबल खाद्य पदार्थों की बुकिंग पर 50% की सब्सिडी दी जाती हैं. फलों और सब्जियों के परिवहन के लिए ऑपरेशन ग्रीन टॉप टू टोटल योजना के अंतर्गत शेष 50 % राशि का बहुत खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय द्वारा किया जा रहा है. इस लाभ के अंतर्गत किसानों द्वारा कुल देय शुल्क रु 15,41,392/- का 50% (50% सब्सिडी) रु 7,85 808/- का भुगतान किया गया.

प्रयागराज मण्डल विभिन्न हितधारकों, किसानों और राज्य की एजेंसियों के परामर्श से यह प्रयास कर रहै है कि किसानों को उनकी उपज को पूरे भारत की मंडियों तक ले जाने की जरूरतों की पहचान की जा सके ताकि उन्हें कई अन्य बेहतर सेवाएं उपलब्ध कराई जा सके. प्रयागराज मण्डल आने वाले समय में अन्य मार्गों पर भी और अधिक गाड़ियों का संचालन करने के लिए प्रतिबद्ध है.

प्रयागराज मण्डल से पहली किसान रेल का संचालन मण्डल रेल प्रबन्धक मोहित चन्द्रा के मार्गनिर्देशन में वरिष्ठ मण्डल वाणिज्य प्रबंधक विपिन कुमार सिंह, वरिष्ठ मण्डल परिचालन प्रबन्धक एस.के. शुक्ला एवं मण्डल यातायात प्रबंधक टूण्डला जे. संजय कुमार सहित प्रयागराज मण्डल की टीम के अथक प्रयासों से सम्भव हुआ है.

रिपोर्ट- एस के इलाहाबादी, प्रयागराज

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें