1. home Home
  2. state
  3. up
  4. allahabad
  5. bharat darshan train leave from prayagraj sangam station know the route chart fare and seat availability abk

Bharat Darshan Train: 10 रात 11 दिन के सफर पर निकली भारत दर्शन ट्रेन, 95% सीट फुल, पहला पड़ाव उदयपुर

प्रयागराज संगम स्टेशन अधीक्षक अवधेश मणि पाठक ने विधिवत पूजा-पाठ करके यात्रियों का ढोल नगाड़ों के साथ ट्रेन में स्वागत किया. यात्री भी खासा उत्साहित नजर आए. ढोल-नगाड़ों पर थिरकते यात्रियों ने सरकार के भारत दर्शन ट्रेन की जमकर तारीफ भी की.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Prayagraj
Updated Date
Bharat Darshan Train: 10 रात 11 दिन के सफर पर निकली भारत दर्शन ट्रेन
Bharat Darshan Train: 10 रात 11 दिन के सफर पर निकली भारत दर्शन ट्रेन
सोशल मीडिया
  • प्रयागराज संगम से पहली बार रवाना हुई भारत दर्शन ट्रेन

  • भारत दर्शन ट्रेन को लेकर यात्रियों में दिखा गजब का उत्साह

  • महाकालेश्वर, ओंकारेश्वर, सोमनाथ ज्योतिर्लिंग के साथ स्टेचू ऑफ यूनिटी भी देखेंगे यात्री

Bharat Darshan Train: केंद्र सरकार के श्रद्धालुओं के भ्रमण के लिए चलाई गई भारत दर्शन ट्रेन प्रयागराज (संगम) से गुरुवार को पहली बार रवाना हुई. ट्रेन को गुरुवार सुबह 6.50 बजे प्लेटफॉर्म नंबर चार से हरी झंडी दिखाई गई. प्रयागराज संगम स्टेशन अधीक्षक अवधेश मणि पाठक ने विधिवत पूजा-पाठ करके यात्रियों का ढोल नगाड़ों के साथ ट्रेन में स्वागत किया. यात्री भी खासा उत्साहित नजर आए. ढोल-नगाड़ों पर थिरकते यात्रियों ने सरकार के भारत दर्शन ट्रेन की जमकर तारीफ भी की.

आईआरसीटीसी के मुख्य परिरक्षक अभय कांत मिश्रा के मुताबिक भारत दर्शन ट्रेन प्रयागराज संगम से गुरूवार सुबह 6.50 पर रवाना होकर प्रतापगढ़, रायबरेली, लखनऊ, कानपुर स्टेशन होते हुए अपने पहले पड़ाव उदयपुर में ठहरेगी. यात्रियों को सबसे पहले सहेलियों की बावड़ी, महाराणा प्रताप स्मारक नाथद्वारा में श्रीनाथ मंदिर का भ्रमण कराया जाएगा. उदयपुर से रवाना होकर 24 अक्टूबर को भारत दर्शन स्पेशल ट्रेन अहमदाबाद पहुंचेगी. गुजरात के अहमदाबाद में ठहराव विश्वामित्र स्टेशन पर होगा.

स्टेशन से यात्रियों को नॉन एसी बसों के जरिए स्टेचू ऑफ यूनिटी और साबरमती आश्रम का भ्रमण कराया जाएगा. 26 अक्टूबर को यात्रियों को सोमनाथ ज्योतिर्लिंग और 27 अक्टूबर को द्वारकाधीश के साथ नागेश्वर ज्योतिर्लिंग का दर्शन कराया जाएगा. भारत दर्शन ट्रेन का आखिरी पड़ाव 29 और 30 तारीख को उज्जैन में होगा. उज्जैन में भारत की स्पेशल टीम के यात्रियों को महाकालेश्वर और ओमकालेश्वर ज्योतिर्लिंग का दर्शन कराया जाएगा. भारत दर्शन ट्रेन से तमाम धार्मिक जगहों का भ्रमण करने में 10 रात और 11 दिन लगेंगे. यात्रियों की सुविधाओं को देखते हुए आईआरसीटीसी ने कई इंतजाम किए हैं.

ट्रेन में चाय से लेकर खाने तक की व्यवस्था

आईआरसीटीसी ने भारत दर्शन ट्रेन में यात्रियों की सुविधाओं के लिहाज से सुबह चाय और नाश्ते के साथ दोपहर और रात में खाने का इंतजाम किया है. यात्रियों को तीन जगह रात्रि विश्राम के लिए धर्मशाला की भी व्यवस्था की गई है. स्टेशन से धार्मिक और पर्यटन स्थलों तक जाने के लिए नॉन एसी बसों का इंतजाम है.

प्रयागराज संगम स्टेशन अधीक्षक अवधेश मणि पाठक के मुताबिक ज्योतिर्लिंग यात्रा ट्रेन में बुधवार को 720 यात्रियों ने अपना रिजर्वेशन करवाया है. कोविड प्रोटोकॉल के तहत भारत दर्शन ट्रेन को सैनेटाइज करने के बाद यात्रियों का स्वागत किया गया. यात्रा में किसी को समस्या होती है तो उनका नंबर ट्रेन में मौजूद कर्मचारियों के पास है. वो सीधे किसी भी समस्या की शिकायत स्टेशन अधीक्षक से कर सकते हैं. समस्या की जानकारी होने पर तत्काल उस का संज्ञान लेते हुए समाधान किया जाएगा.

आईआरसीटीसी के मुख्य क्षेत्रीय प्रबंधक अजीत कुमार सिन्हा के मुताबिक ज्योतिर्लिंग दर्शन ट्रेन का प्रति यात्री किराया 10,395 रुपए निर्धारित किया गया है. आईआरसीटीसी के इस पैकेज में ट्रेन के यात्रियों को 31 अक्तूबर तक महाकालेश्वर, ओंकारेश्वर, सोमनाथ एवं नागेश्वर ज्योर्तिलिंग के दर्शन कराए जाएंगे. द्वारिका में द्वारिकाधीश मंदिर, भेंट द्वारिका मंदिर, अहमदाबाद में साबरमती आश्रम और स्टैच्यू ऑफ यूनिटी, राजस्थान के उदयपुर आदि शहरों के पर्यटक स्थलों पर भी लोगों को भ्रमण कराया जाएगा.

(रिपोर्ट: एसके इलाहाबादी, प्रयागराज)

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें