1. home Hindi News
  2. state
  3. rajasthan
  4. monsoon 2022 in rajasthan monsoon may enter a week earlier imd alert amh

राजस्थान में तय समय से पहले मानसून पहुंचने की उम्मीद, जानें कब से होगी झमाझम बारिश

Monsoon 2022 IN Rajasthan ; केरल में मानसून 27 मई तक पहुंच जाएगा. मौसम विशेषज्ञों के अनुसार केरल में मानसून के आने के बाद राजस्थान तक इसे पहुंचने में औसतन 20 या 22 दिन का वक्‍त लगता है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Monsoon 2022 IN Rajasthan
Monsoon 2022 IN Rajasthan
pti

Monsoon Entry IN Rajasthan: राजस्थान के अधिकतर शहरों में सोमवार को अधिकतम तापमान में दो से पांच डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की गई जिससे लोगों को भीषण गर्मी से थोड़ी राहत मिली. मौसम विभाग की मानें तो राज्य के अधिकांश स्थानों का तापमान 44 डिग्री सेल्सियस से नीचे दर्ज किया गया जिससे लोगों को ‘लू' (गर्म हवाएं) से राहत मिली है. इस बीच राजस्थान में मानसून को लेकर एक अच्‍छी खबर आ रही है.

राजस्थान में कब पहुंचेगा मानसून

राजस्थान में हर कोई मानसून का इंतजार कर रहा है. इस बार सूबे में मानसून के समय से पूर्व पहुंचने की संभावना जतायी जा रही है. आइएमडी ने भारत में दक्षिणी पश्चिमी मानसून के केरल में आने की संभावित तारीख घोषित कर दी है. केरल में यह 27 मई तक पहुंच जाएगा. मौसम विशेषज्ञों के अनुसार केरल में मानसून के आने के बाद राजस्थान तक इसे पहुंचने में औसतन 20 या 22 दिन का वक्‍त लगता है. यानी राजस्थान में मानसून के समय से एक सप्‍ताह पहले 16 से 20 जून के बीच पहुंचने की संभावना है.

राजस्थान का मौसम

मौसम विभाग के अनुसार सोमवार को धौलपुर 46.1 डिग्री तापमान के साथ राज्य का सबसे गर्म स्थान रहा. वहीं, अलवर में 44.2 डिग्री, चूरू में 44 डिग्री, करौली -पिलानी में 43.9 डिग्री, जैसलमेर में 43.5 डिग्री, कोटा-फलौदी में 43.4 डिग्री, चित्तौड़गढ़-बाड़मेर में 43 डिग्री सेल्सियस अधिकतम तापमान दर्ज किया गया. राज्य के अन्य प्रमुख शहरों के अधिकतम तापमान 42.6 डिग्री सेल्सियस से लेकर 39.6 डिग्री सेल्सियस के बीच दर्ज किया गया. विभाग ने आगामी 24 घंटों के दौरान झुंझुनूं, अलवर, भरतपुर, धौलपुर, श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़, चूरू जिलो में में मेघगर्जन, धूलभरी आंधी और अचानक 30 से 40 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से हवाएं चलने की संभावना जताई है.

अभी कहां है मानसून

मौसम कार्यालय ने कहा कि अंडमान निकोबार द्वीप समूह और आसपास के इलाकों में क्षोभमंडल के निचले स्तरों में दक्षिण-पश्चिमी हवाओं के मजबूत होने के कारण बारिश हो रही है. अंडमान निकोबार द्वीपों पर मानसून की शुरुआत एक दिन देरी से हुई. आईएमडी ने पहले कहा था कि 15 मई को इस क्षेत्र में मौसमी बारिश होगी.

भाषा इनपुट के साथ

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें