1. home Hindi News
  2. state
  3. mp
  4. now congress has demanded registration of fir against chief minister shivraj singh chauhan said give the correct figure of death aml

अब कांग्रेस ने की मुख्यमंत्री शिवराज पर एफआईआर दर्ज करने की मांग, कहा- कब्रिस्तान-श्मशान के शवों के आंकड़े बताइये

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान.
मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान.
twitter

MP Corona Update भोपाल : मध्य प्रदेश में भाजपा (BJP) और कांग्रेस (Congress) के बीच विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है. कमलनाथ (Kamal Nath) के बयान पर जहां भाजपा ने उनपर प्राथमिकी दर्ज करवायी है, वहीं अब कांग्रेस प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) पर भी एफआईआर दर्ज करने की मांग कर रही है. कोरोनावायरस को लेकर विवादित बयान के बाद पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पर भोपाल के अपराध शाखा में मामला दर्ज कराया गया है. कमलनाथ ने कोरोना के नये स्ट्रेन को भारतीय वेरिएंट कहा है.

कांग्रेस ने एक लिखित आवेदन देकर अब शिवराज सिंह चौहान पर मामला दर्ज करने का आग्रह किया है. कांग्रेस का आरोप है प्रदेश में मौत के आंकड़े छुपाये जा रहे हैं इसलिए मुख्यमंत्री पर गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज किया जाना चाहिए. कमलनाथ शुरू से आरोप लगा रहे हैं कि शिवराज सरकार मौत के आंकड़े छुपा रही है. मार्च और अप्रैल के बीच 1 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हुई है.

कांग्रेस ने कहा कि शिवराज जी, प्रदेश के श्मशान और कब्रिस्तान के शवों के आंकड़े सार्वजनिक करिये, सच्चाई बताने से डर क्यों रहे हैं. जनता को सच्चाई जानने का हक है. कमलनाथ ने सोमवार को कहा था कि जो लोग कहते थे कि मेरा भारत महान बनायेंगे. उनके नकारापन के कारण हमारा देश दुनिया भर में बदनाम हो रहा है और हम इसपर चिंता भी व्यक्त न करें. हमने सच कह दिया तो हम पर एफआईआर हो गया.

कांग्रेस की ओर से प्रदेश के कार्यकारी अध्यक्ष जीतू पटवारी ने पुलिस को दी शिकायत में लिखा कि मुख्यमंत्री शिवराज के आदेश पर राज्य में कोरोना से मौत का आंकड़ा छुपाया जा रहा है. श्मशान घाट और कब्रिस्तानों में हजारों शव आ रहे हैं. उसका भी सही आंकड़ा नहीं बताया जा रहा है. लोगों के इलाज की समुचित व्यवस्था नहीं है. भोपाल में ही ब्लैक फंगस के सैंकड़ों मरीज हैं और इलाज के लिए दर-दर भटक रहे हैं.

कांग्रेस ने मांग की है कि मध्य प्रदेश में कोविड के कारण अब तक हुई मौतों पर शिवराज सरकार को व्हाइट पेपर जारी करना चाहिए. अपराध शाखा के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (भोपाल मुख्यालय) रामजी श्रीवास्तव ने पीटीआई-भाषा को बताया कि कांग्रेस की ओर से हमें एक आवेदन प्राप्त हुआ है. आवेदन की जांच की जा रही है. अब तक कोई प्राथमिकी दर्ज नहीं की गयी है.

इससे पहले मुख्यमंत्री शिवराज ने कमलनाथ के बयान को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी पर निशाना साधा था और कहा था कि कमलनाथ का बयान कांग्रेस की सोच को दर्शाता है. कांग्रेस के राज्यसभा सांसद और वरिष्ठ वकील विवेक तन्खा ने कहा कि भाजपा कमलनाथ के खिलाफ दर्ज की गयी प्राथमिकी वापस ले या मानहानि का नोटिस प्राप्त करने और उसका जवाब देने के लिए तैयार रहे.

Posted By: Amlesh Nandan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें