1. home Home
  2. state
  3. mp
  4. mp cm shivraj singh chouhan says cows dung and urine can help strengthen the economy of country if a proper system is put in place smb

मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह बोले- गायों का गोबर और मूत्र देश की अर्थव्यवस्था को मजबूत करने में सक्षम

Madhya Pradesh News मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को भोपाल में भारतीय पशु चिकित्सा संघ की महिला विंग के एक सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि गायों का गोबर और मूत्र राज्य और देश की अर्थव्यवस्था को मजबूत करने में मदद कर सकते हैं.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान
मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान
ट्वीटर

Madhya Pradesh News मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को भोपाल में भारतीय पशु चिकित्सा संघ की महिला विंग के एक सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि गायों का गोबर और मूत्र राज्य और देश की अर्थव्यवस्था को मजबूत करने में मदद कर सकते हैं.

बता दें कि भोपाल स्थित कामधेनु भवन में आयोजित महिला पशु चिकित्सकों के दो दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन 'शक्ति 2021' का केंद्रीय मंत्री पुरुषोत्तम रूपला ने आज शुभारंभ किया. केंद्रीय मंत्री पुरुषोत्तम रूपला ने कहा कि कार्यक्रम में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की उपस्थिति की सराहना करता हूं. वहीं, इस अवसर पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि महिला पशु चिकित्सकों का यह राष्ट्रीय सम्मेलन 'शक्ति 2021' एक अनुकरणीय पहल है. मुझे विश्वास है कि यह सम्मेलन अपने उद्देश्यों को प्राप्त करेगा.

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि गौ-पालन छोटे किसानों और पशुपालकों के लिए फायदे का धंधा कैसे बने, इस पर पशु चिकित्सकों और विशेषज्ञों को परिणाम-मूलक कार्य करना चाहिए. मुख्यमंत्री ने कहा कि गाय और बैल के बिना काम चल नहीं सकता. सरकार ने तो गौशाला बना दी, लेकिन जब तक समाज नहीं जुड़ेगा तब तक सरकारी गौशालाओं से काम नहीं चलेगा. हम मध्य प्रदेश में अलख जगाने की कोशिश कर रहे हैं.

शिवराज सिंह ने आगे कहा कि गाय के गोबर से गोमूत्र से हम चाहे तो खुद की भी अर्थव्यवस्था को सुदृढ़ कर सकते हैं और देश आर्थिक रूप से सक्षम बना सकते हैं. वह हमको स्थापित करना पड़ेगा. मुख्यमंत्री ने कहा कि हमलोग कोशिश कर रहे है कि मध्य प्रदेश के समशान घाटों पर कोशिश कर रहे है कि लकड़ी नहीं जले.

मुख्यमंत्री ने कहा कि दुग्ध उत्पादक पशुओं में अधिक दूध उत्पादन के लिए नस्ल सुधार और पशुओं का आसानी से इलाज हो, ऐसी व्यवस्था करना आवश्यक है. राज्य शासन द्वारा पशुओं की आसान चिकित्सा के लिए 109 नंबर से एम्बुलेंस सुविधा आरंभ की गई है. ताकि, पशुओं को इलाज के लिए अस्पताल न लाना पड़े, बल्कि जहां पशु हैं, एम्बुलेंस वहीं पहुंचकर उनका इलाज करें.

गौरतलब है कि शिवराज ने नवंबर, 2020 में कहा था कि मैं संवेदनशील मुख्यमंत्री हूं और किसानों के प्रति लापरवाही बर्दाश्त नहीं करूंगा. मुरैना के किसान बाजरा की खरीद में लापरवाही से परेशान हैं, ये कैसा प्रशासन है. समय रहते सुधर जाएं, ऐसे सभी अधिकारी बदल दूंगा. मुझे ऐसे अधिकारी नहीं चाहिए, जो संवेदनशील न हों. मुख्यमंत्री ने कहा था कि मैं मौजूदा प्रशासनिक व्यवस्था से संतुष्ट नहीं हूं.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें