1. home Home
  2. state
  3. mp
  4. madhya pradesh bjp chief vd sharma writes to union home minister amit shah demands nia investigation into the activities of congress leader digvijaya singh smb

दिग्विजय सिंह के लीक क्लबहाउस चैट पर सियासी बवाल, बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष ने अमित शाह को लिखा पत्र, एनआईए जांच की मांग

Congress Leader Digvijaya Singh MP Politics News मध्‍य प्रदेश के पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह के लीक क्लबहाउस चैट मामले को लेकर मध्य प्रदेश में सियासी पारा चढ़ने लगा है. कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह के बयान पर नाराजगी जाहिर करते हुए भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को पत्र लिखा है. अपने पत्र में वीडी शर्मा ने गृह मंत्री से दिग्विजय सिंह की गतिविधियों की जांच एनआई (NIA) से कराने की मांग की है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
दिग्विजय सिंह
दिग्विजय सिंह
फाइल फोटो

Congress Leader Digvijaya Singh MP Politics News मध्‍य प्रदेश के पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह के लीक क्लबहाउस चैट मामले को लेकर मध्य प्रदेश में सियासी पारा चढ़ने लगा है. कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह के बयान पर नाराजगी जाहिर करते हुए भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को पत्र लिखा है. अपने पत्र में वीडी शर्मा ने गृह मंत्री से दिग्विजय सिंह की गतिविधियों की जांच एनआई (NIA) से कराने की मांग की है.

क्‍लबहाउस ऐप पर चर्चा में कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने कथित रूप से अनुच्‍छेद 370 रद्द करने के फैसले पर पुनर्विचार की बात कही है. मध्य प्रदेश भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने इस मामले को लेकर गृह मंत्री अमित शाह को लिख अपने शिकायती पत्र दिग्विजय सिंह की भारत विरोधी गतिविधियों में संलिप्तता होने की आशंका जताई है. वीडी शर्मा ने अमित शाह को पत्र में लिखा कि दिग्विजय सिंह ने एक क्लब हाउस चैट में जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाने पर दुख जताया. जबकि, फिर से उसकी बहाली की बात भी कही है. उनके राष्ट्र विरोधी इस कथन की जांच होनी चाहिए. साथ ही वीडी शर्मा ने दिग्विजय सिंह के मोबाइल की कॉल रिकॉर्ड की जांच कराए जाने की मांग की है.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह जिस क्लब हाउस चैट में मौजूद थे, उसमें पाकिस्तानी पत्रकार भी जुड़े हुए हैं. इस दौरान एक पाकिस्तानी पत्रकार के सवाल का जवाब देते हुए दिग्विजय सिंह कहा कि जब कश्मीर से आर्टिकल 370 को हटाया गया तो वहां लोकतंत्र नहीं था. वहां इंसानियत भी नहीं थी, क्योंकि लोगों को जेल में डाला गया. कश्मीरियत अपने आप में लोकतंत्र का आधार है, क्योंकि एक मुस्लिम बहुल राज्य में एक हिंदू राजा था. दोनों मिलकर साथ काम करते थे. यहां तक कि राज्य की सरकारी सेवाओं में कश्मीरी पंडितों को आरक्षण दिया गया था. इसलिए आर्टिकल 370 हटाने का फैसला और राज्य का दर्जा छीनना एक दुखी करने वाला फैसला है. कांग्रेस पार्टी सत्ता में आने पर इस फैसले पर जरूर विचार करेगी.

आर्टिकल 370 पर दिए गए बयान को लेकर केंद्रीय स्तर के कई नेताओं ने भी मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह पर निशाना साधा है. केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने एक ट्वीट में कहा कि कांग्रेस का पहला प्यार पाकिस्तान है. दिग्विजय सिंह ने पाकिस्तान को राहुल गांधी का संदेश दिया. कांग्रेस कश्मीर को हथियाने में पाकिस्तान की मदद करेगी.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें