1. home Hindi News
  2. state
  3. maharashtra
  4. suspended mumbai police officer sachin waze being taken from chhatrapati shivaji maharaj terminus by nia antilia case maharashtra news updates rkt

Sachin Waze Case: सचिन वाजे को CST रेलवे स्टेशन लेकर पहुंची NIA की टीम, सीन किया रिक्रिएट, जांच एजेन्सी को इस बात का शक

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
वाजे को CST रेलवे स्टेशन लेकर पहुंची NIA की टीम
वाजे को CST रेलवे स्टेशन लेकर पहुंची NIA की टीम
फोटो - ANI

Sachin Waze Case: उद्योगपति मुकेश अंबानी के घर के पास खड़ी एक स्कॉर्पियो में विस्फोटक मिलने के मामले में आरोपी सचिन वाजे को एनआईए की टीम देर रात तो मुंबई रेलवे स्टेशन लेकर पहुंची. सचिन वाजे को एनआईए की टीम सोमवार देर रात मुंबई के सीएसटी रेलवे स्टेशन लेकर पहुंची. कारोबारी मनसुख हिरेन की कथित हत्या की जांच कर रही एनआई की टीम आरोपी वाजे रेलवे स्टेशन ले जाकर सीन रीक्रिएट किया है.

NIA ने स्टेशन पर सीन किया रीक्रिएट

बता दें कि मिली जानकारी के मुताबिक यहां एनआई की टीम ने सीसीटीवी फुटेज के साथ ही सबूतों को पुख्ता करने के लिए वाजे को प्लेटफार्म नंबर प्लेटफॉर्म चार और पांच ले गई. मालूम हो कि एनआईए को शक है कि स्टेशन के पास दिखी एक व्यक्ति सचिन वाजे ही है. सीन रीक्रिएट करने के बाद एनआई की टीम सचिन वाजे को गाड़ी में बैठाकर वापस चली गई.

7 अप्रैल तक बढ़ी वाजे की हिरासत 

वहीं विशेष अदालत ने मुंबई पुलिस के निलंबित अधिकारी सचिन वाजे की एनआईए हिरासत की अवधि सात अप्रैल तक बढ़ा दी है. एंटीलिया के बाहर खड़ी लावारिस कार के राजनीतिक रंग लेते ही पांच मार्च को विपक्षी नेता द्वारा मनसुख हीरेन को सुरक्षा देने की मांग उठायी गयी़ उनका कहना था कि चूंकि हीरेन इस मामले में मुख्य गवाह हैं, इसलिए उन्हें सुरक्षा देनी चाहिए़ कुछ ही घंटे बाद हीरेन का शव मुंबई-रेती बंदर रोड पर, जो ठाणे के नजदीक है, एक नहर में पाया गया़

कैसे हुई मनसुख हीरेन की मौत

पुलिस का कहना है कि चार मार्च की शाम को हीरेन अपनी दुकान से घर वापस आ गये थे़ लेकिन घर पहुंचने के बाद करीब रात आठ बजे कांदिवली अपराध शाखा से किसी तावड़े नामक अधिकारी का फोन आया और वे उससे मिलने के लिए चले गये. लेकिन जब वे आधी रात तक घर नहीं लौटे, तो उनके परिवार ने पुलिस थाने में इसकी शिकायत दर्ज करायी़ परिवार का कहना है कि रात 10 बजे के करीब जब हीरेन को फोन किया गया तो उनका फोन बंद आ रहा था़ पुलिस की मानें तो, हीरेन के पोस्टमार्टम रिपोर्ट में शरीर पर बाहरी चोट के कोई निशान नहीं पाये गये हैं. अधिकारी ने हीरने के डूबकर मरने की आशंका जतायी थी. फिलहाल एंटीलिया प्रकरण की जांच कर रही एनआइए मनसुख हीरेन की मौत की जांच भी कर रही है. सचिन वाजे से एनआईए की टीम पूछ्ताछ करने तथा Hindi News से अपडेट के लिए बने रहें हमारे साथ.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें