1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. singhbhum west
  5. corona positive patient dead in west singhbhum toto driver came out of icu fell and died on verandah of covid19 hospital at chakradharpur in jharkhand

चक्रधरपुर के कोविड19 हॉस्पिटल में तड़पकर कोरोना संक्रमित मरीज की मौत, ICU से निकला कोरोना संक्रमित मरीज बरामदे पर गिरा, हो गयी मौत

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
बुधवार की देर रात टोटो ड्राइवर को चाईबासा से चक्रधरपुर के कोविड19 अस्पताल शिफ्ट किया गया था.
बुधवार की देर रात टोटो ड्राइवर को चाईबासा से चक्रधरपुर के कोविड19 अस्पताल शिफ्ट किया गया था.
Prabhat Khabar

चाईबासा : झारखंड के पश्चिमी सिंहभूम जिला में कोरोना के बेकाबू होते हालात के बीच गुरुवार तड़के कोविड19 से पीड़ित एक मरीज की मौत हो गयी. कोरोना से जिला में यह तीसरा मौत है. 45 वर्षीय मृतक टोटो चालक था, जो चक्रधरपुर के टोकलो थाना क्षेत्र के वार्ड नंबर-8 स्थित वनवासी कल्याण केंद्र के समीप रहता था. टोटो चालक में कोरोना के संक्रमण की पुष्टि के बाद उसे बुधवार देर रात 12:45 बजे चक्रधरपुर स्थित दक्षिण पूर्व रेलवे अस्पताल के डेडिकेटेड कोविड-19 हॉस्पिटल के आइसीयू में भर्ती किया गया था.

अस्पताल में एडमिट करने के कुछ घंटे बाद ही तड़प-तड़पकर युवक की मौत हो गयी. अस्पताल के स्वास्थ्यकर्मी (प्रत्यक्षदर्शी) की मानें, तो मृत टोटो चालक को अजीब किस्म के अटैक आ रहे थे. वह बेचैनी महसूस कर रहा था, छटपटा रहा था. इसलिए तड़प भी रहा था. एकाएक यह शख्स आइसीयू से छटपटाते हुए निकला और अस्पताल के बरामदे में रिसेप्शन के पास मुंह के बल जमीन पर गिर पड़ा. मरीज के सीर में चोट लगी और वहीं उसकी मौत हो गयी.

मृतक के परिजनों ने अस्पताल में तैनात चिकित्सकों पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाते हुए जमकर बवाल काटा. परिजनों का आरोप है कि रात के वक्त कोई भी चिकित्सक अस्पताल में मौजूद नहीं था. उनका आरोप है कि अस्पताल ने मरीज के इलाज में लापरवाही बरती और इसलिए उसकी मौत हो गयी. हालांकि, पूरे मामले को लेकर जिला स्वास्थ्य विभाग या प्रशासन फिलहाल कुछ भी कहने को तैयार नहीं है.

सर्दी-खांसी के साथ सांस लेने में थी दिक्कत

बताया गया है कि मृतक कोरोना के लक्षण से ग्रसित था. उसे सर्दी-खांसी के साथ सांस लेने में भी दिक्कत हो रही थी. बुधवार की शाम मरीज की परेशानी बढ़ने पर उसे परिजन कोरोना जांच के लिए चाईबासा सदर अस्पताल ले गये. यहां ट्रूनेट से कोरोना जांच के लिए मरीज का सैंपल लेने के बाद उसे अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में कुछ घंटों के लिए कोरेंटिन कर दिया गया था.

ट्रूनेट मशीन से जांच में मरीज की रिपोर्ट पॉजिटिव आयी. इसके बाद देर रात को उसे चक्रधरपुर के कोविड-19 हॉस्पिटल शिफ्ट किया गया. वहां मरीज की गंभीर हालत को देखते हुए उसे हॉस्पिटल के आइसीयू वार्ड में रखा गया था. वहीं, अजीब-ओ-गरीब परिस्थिति में उसकी मौत हो गयी. गौरतलब है कि इससे पहले जमशेदपुर के टाटा मेन हॉस्पिटल (टीएमएच) में इलाजरत जिले के अन्य दो कोरोना मरीज 83 वर्षीय वृद्धा की 16 जुलाई को और 71 वर्षीय बुजुर्ग की 18 जुलाई को मौत हो चुकी है.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें