1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. singhbhum west
  5. chakradharpur urban and rural area available 22 hours electricity proposed hunger strike assurance of officers smj

चक्रधरपुर शहरी- ग्रामीण क्षेत्र में 22 घंटे मिलेगी बिजली, अधिकारियों के आश्वासन पर प्रस्तावित भूख हड़ताल टला

By Samir Ranjan
Updated Date
विधायक सुखराम उरांव से मिल कर नियमित बिजली आपूर्ति का आश्वासन देते बिजली विभाग के अधिकारी.
विधायक सुखराम उरांव से मिल कर नियमित बिजली आपूर्ति का आश्वासन देते बिजली विभाग के अधिकारी.
प्रभात खबर.

Jharkhand News (चक्रधरपुर, पश्चिमी सिंहभूम) : आगामी मंगलवार (20 जुलाई, 2021) से चक्रधरपुर विद्युत विभाग में विधायक सुखराम उरांव का प्रस्तावित भूख हड़ताल की घोषणा के बाद राज्य सरकार गंभीर हो गयी है. जिसके बाद बिजली विभाग के उच्च अधिकारियों का दरबार रविवार को विधायक के चक्रधरपुर स्थित बनमालीपुर आवास में लगा.

मालूम हो कि चक्रधरपुर शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्र में बिजली की लचर व्यवस्था और बेलगाम अधिकारियों के आदूरदर्शी कार्य प्रणालियों को देखते हुए विधायक सुखराम उरांव ने मंगलवार से विद्युत विभाग, चक्रधरपुर में भूख हड़ताल करने की घोषणा की थी. रविवार की सुबह समाचार पत्रों में यह खबर प्रकाशित होने के बाद बिजली विभाग से लेकर राज्य सरकार के महकमे एवं नेताओं में एक करंट-सी दौड़ गयी. जिसके बाद सैकड़ों फोन की घंटियां विधायक एवं उनसे संबंधित लोगों के पास बजने लगी.

सुबह करीब 11:30 बजे विद्युत विभाग के महाप्रबंधक परितोष कुमार जमशेदपुर से, अधीक्षण अभियंता सुप्रीटेंडेंट इंजीनियर डीके सिंह चाईबासा से, ट्रांसमिशन महाप्रबंधक एसके चौधरी, एग्जक्यूटिव इंजीनियर पवन कुमार मिश्रा चाईबासा से और असिस्टेंड इलेक्ट्रिकल इंजीनियर मनोज कुमार निराला चक्रधरपुर से विधायक सुखराम उरांव के आवास में पहुंचे. करीब ढ़ाई घंटे की मैराथन बैठक में विधायक और विद्युत अधिकारियों के बीच काफी बातें हुई. विधायक ने बिजली अधिकारियों को खरी-खोटी सुनाया.

आखिरकार इस बैठक में तय हुआ कि जुलाई माह के अंत तक कुरुलिया ग्रिड को चालू कर दिया जायेगा. इस ग्रिड में केवल ट्रांसमिशन का काम शेष रह गया है. रविवार से ही ग्रिड में तार खींचने का काम शुरू कर दिया गया है. लांडूपोदा ग्रिड का निर्माण कार्य सितंबर माह तक पूरा कर लिये जाने का इकरार हुआ. शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में 20 से 22 घंटे बिजली आपूर्ति करने पर सहमति बनी. जिसके बाद विधायक श्री उरांव ने सितंबर माह तक के लिए भूख हड़ताल को स्थगित कर दिया.

अब बिजली कटौती नहीं होगी : महाप्रबंधक

जमशेदपुर से आये विद्युत विभाग के महाप्रबंधक परितोष कुमार ने कहा कि चक्रधरपुर के देहाती क्षेत्र में बिजली की कटौती हो रही थी. ग्रिड को कम पावर मिल रहा था. इसलिए यह परेशानी आ रही थी. राज्य सरकार से वार्ता के बाद अब चक्रधरपुर में बिजली की कमी नहीं होगी. पूरी खपत की बिजली हमें मिलेगी. इसलिए शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में भी 20 से 22 घंटे प्रतिदिन बिजली आपूर्ति की जायेगी. कुरुलिया ग्रिड को जुलाई माह के अंत तक चालू कर दिया जायेगा और लांडूपोदा ग्रिड को सितंबर माह तक चालू किया जायेगा. विधायक जी से बात हो गयी है. अब चक्रधरपुर विधानसभा क्षेत्र में बिजली की कमी नहीं रहेगी.

सितंबर माह तक भूख हड़ताल स्थगित रहेगी : सुखराम उरांव

चक्रधरपुर विधायक सुखराम उरांव ने कहा कि बिजली विभाग के उच्च अधिकारियों की बातों पर यकीन करते हुए सितंबर माह तक भूख हड़ताल स्थगित कर दिया हूं. यदि दी गयी अवधि में दोनों ग्रिड चालू नहीं होते हैं और चक्रधरपुर की विद्युत आपूर्ति का नियमितीकरण नहीं होता है, तो सितंबर माह के बाद बिजली विभाग के खिलाफ आंदोलन होगा. उन्होंने कहा कि कल तक बिजली उपलब्ध नहीं होने की बात विभाग के द्वारा कहा जा रहा था. लेकिन, आंदोलन की घोषणा के बाद से नियमित बिजली आपूर्ति की जा रही है. इससे पता चलता है कि कहीं ना कहीं बिजली का वारा-न्यारा हो रहा है.

उन्होंने कहा कि बिजली विभाग में कुछ उच्च अधिकारी राज्य सरकार को बदनाम करना चाहते हैं. ऐसे अधिकारियों को चिह्नित किया जा रहा है. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन इस मामले में गंभीर हैं. उन्होंने बिजली विभाग के अधिकारियों को कड़े शब्दों में भी कहा, जिसका प्रणाम है कि विभाग की ओर से त्वरित कार्रवाई की जा रही है.

उन्होंने कहा कि आंदोलन की घोषणा के मात्र 7 घंटे के अंदर विभाग की पूरी व्यवस्था चुस्त-दुरुस्त हो गयी. पहले कानों में जूं तक नहीं रेंग रही थी. दोनों ग्रिड चालू हो जाने से शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्र की बिजली समस्या का समाधान निकल आयेगा. इसके साथ ही विधानसभा क्षेत्र में खराब पड़े सभी ट्रांसफार्मर को बदला जायेगा. इसकी सूची तैयार करने को कहा गया है. बिजली अधिकारियों ने इस पर सहमति दी है. जनहित के लिए हमारा आंदोलन आगे भी जारी रहेगा.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें