शहरी वोटर सुस्त, गांवों में रहा उत्साह

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
  • नक्सल प्रभावित बूथों पर भयमुक्त वातावरण में पड़े वोट
पश्चिमी सिंहभूम जिले की पांच और सरायकेला-खरसावां जिले की दो विधानसभा सीटों पर शनिवार को कड़ी सुरक्षा में वोट डाले गये. दोनों जिले नक्सल प्रभावित होने के कारण केंद्रीय बलों को सुरक्षा में लगाया गया था. प्रशासनिक तैयारी के कारण नक्सल प्रभावित बूथों पर सुबह से लंबी कतार लगी रही. सारंडा के कई गांवों से लोग 10-12 किमी पैदल चलकर वोट करने बूथ पर पहुंचे. जिले के शहरी क्षेत्रों की तुलना में गांवों में वोटिंग के प्रति अधिक क्रेज दिखा.
चाईबासा : नक्सल पस्त, बूथों पर उमड़े वोटर
चाईबासा : पश्चिमी सिंहभूम जिले के सदर चाईबासा विधानसभा क्षेत्र में मतदान पूरी तरह शांतिपूर्ण रहा. दोपहर तीन बजे तक 62.68 प्रतिशत मतदान हुआ. मतदान को लेकर मतदाताओं में काफी उत्साह रहा. अधिकांश मतदान केंद्रों पर सुबह सात बजे से पहले ही मतदाता पहुंचने लगे थे.
शहर की अपेक्षा ग्रामीण इलाकों के मतदाताओं में ज्यादा उत्साह देखने को मिला. बुजुर्ग व दिव्यांग मतदाताओं में भी उत्साह रहा. चाईबासा सदर विधानसभा के टोंटो व सदर प्रखंड नक्सल प्रभावित होने के बावजूद यहां महिलाओं ने खुलकर मताधिकार का इस्तेमाल किया.
बूथों पर महिलाओं की संख्या अधिक देखी गयी. इस विधानसभा के सबसे ज्यादा नक्सल प्रभावित 6 बूथों पर खूब वोट पड़े. शांतिपूर्ण व भयमुक्त वातावरण में मतदान संपन्न कराने के लिए प्रशासन ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किया था. संवेदनशील व अतिसंवेदनशील बूथों सहित सभी प्रमुख मार्गों पर सुरक्षा कर्मी तैनात थे. सदर विधानसभा के 284 बूथों में मतदाताओं ने वोट डाले.

वोटिंग ट्रेंड

9 बजे 14.46%
11 बजे 32.56%
1 बजे 42.72%
3 बजे 65.09%
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें