1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. saraikela kharsawan
  5. wild elephant killed villager mahuldih in seraikela district of jharkhand mtj

सरायकेला के महुलडीह गांव में जंगली हाथी ने एक को कुचला

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
मृतक के परिजन को वनरक्षी ने दाह संस्कार के लिए 25 हजार रुपये दिये.
मृतक के परिजन को वनरक्षी ने दाह संस्कार के लिए 25 हजार रुपये दिये.
Prabhat Khabar

सरायकेला : सरायकेला वन क्षेत्र अंर्तगत महुलडीह गांव में जंगली हाथी के हमले से एक व्यक्ति दामू सोय (55) की मौत हो गयी, जबकि प्रकाश पुर्ति (18) घायल हो गया. घटना शनिवार देर रात की है. जानकारी के अनुसार, मृतक ओझा था और वह पूजा करता था. बगल के गांव से प्रकाश पुर्ति नामक युवक के साथ रात के करीब साढ़े आठ बजे अपने घर लौट रहा था.

गांव पहुंचने से कुछ देर पहले ही जंगली हाथीयों ने इन दोनों पर हमला कर दिया. दामू सोय को हाथी ने सूंढ़ से उठाकर पटक दिया. घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गयी. प्रकाश पुर्ति किसी तरह अपनी जान बचाकर वहां से भागा और घायल अवस्था में गांव पहुंचा. उसने हाथी के हमले के बारे में लोगों को जानकारी दी.

गांव में जंगली हाथी के आने की सूचना मिलते ही मशाल, पटाखा से लैस होकर ग्रामीण बाहर निकले और हाथयों को वहां से खदेड़ा. घटना की सूचना वन विभाग को दी गयी. साथ ही ग्रामीणों ने किसी तरह दो जंगली हाथियों को भगाया. हाथी के हमले में मौत की सूचना वन विभाग के साथ स्थानीय थाना को भी दी गयी.

स्थानीय थाना से पुलिस पहुंची और शव को अपने कब्जे में लेते हुए पोस्टमार्टम के लिए सरायकेला ले आयी. यहां शव का पोस्टमार्टम कराने के बाद बॉडी परिजनों को सौंप दी गयी. उधर, जंगली हाथी द्वारा महुलडीह गांव में ग्रामीण को पटककर मार देने के पश्चात वन विभाग ने अंतिम संस्कार के लिए 25 हजार रुपये का मुआवजा दिया गया.

वन रक्षी ने गांव में जाकर मृतक के परिजनों को मुआवजा की राशि दी, ताकि लोग मृतक का आंतिम संस्कार कर सकें. हाथी के हमले में मारे जाने पर मृतक के परिजन को वन विभाग की ओर से चार लाख रुपये का मुआवजा देने का प्रावधान है. वनरक्षी ने कहा कि 3.75 लाख रुपये बाद में दिये जायेंगे.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें