1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. saraikela kharsawan
  5. jharkhand news road divisional seraikela junior engineer ss prasad commits suicide citing health reasons in suicide note smj

पथ प्रमंडल सरायकेला के जूनियर इंजीनियर ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में स्वास्थ्य कारणों का दिया हवाला

पथ प्रमंडल विभाग, सरायकेला के जूनियर इंजीनियर श्याम सुंदर प्रसाद ने अपने कमरे में फांसी लगा कर आत्महत्या कर ली है. मौके से पुलिस को सुसाइड नोट मिला है. इस सुसाइड नोट में स्वास्थ्य कारणों का हवाला देकर आत्महत्या करने का जिक्र किया गया है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
पथ प्रमंडल, सरायकेला के जूनियर इंजीनियर श्याम सुंदर प्रसाद ने की आत्महत्या.
पथ प्रमंडल, सरायकेला के जूनियर इंजीनियर श्याम सुंदर प्रसाद ने की आत्महत्या.
फाइल फोटो.

Jharkhand News (सरायकेला) : सरायकेला जिले में रोड डिवीजन (पथ प्रमंडल) RCD में जूनियर इंजीनियर श्याम सुंदर प्रसाद (50 वर्ष) फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है. मंगलवार सुबह को काफी देर तक दरवाजा नहीं खुलने पर मकान मालिक ने पुलिस को सूचित किया. पुलि ने रस्सी के सहारे झूलते श्याम सुंदर के शव को कमरे से बरामद किया. पलामू जिला अंतर्गत विश्रामपुर के रहने वाले श्याम सुंदर बिरसा मुंडा स्टेडियम के पास एक किराये के मकान में रहते थे.

घटना के संबंध में बताया कि मंगलवार सुबह करीब 7:30 बजे तक उनके कमरे का दरवाजा नहीं खुला, तो मकान मालिक को कुछ संदेह हुआ. उन्होंने तुरंत सरायकेला थाना को इसकी जानकारी दी. पुलिस करीब 8 बजे घटनास्थल पर पहुंची तथा खिड़की के ग्रिल काटकर अंदर प्रवेश करने पर जूनियर इंजीनियर श्याम सुंदर प्रसाद को पंखे के सहारे झूलते हुए पाया.

पुलिस द्वारा कमरे की तलाशी के क्रम में बेड पर सुसाइड नोट भी बरामद किया गया है. वहीं, पूरे कमरे की वीडियोग्राफी भी की गयी. पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. मृतक के परिजनों को भी इसकी सूचना दी गयी. सूचना मिलने पर दोपहर करीब तीन बजे मृतक के भाई सुदीप कुमार, भागीना ऋषि रंजन व अरुण देव कुमार यहां पहुंचे. इधर, पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करने के बाद परिजनों को सौंप दिया. घटना पर थाना प्रभारी मनोहर कुमार ने बताया कि पुलिस मामले पर सन्हा दर्ज करते हुए अनुसंधान में जुट गयी है.

सुसाइड नोट में लिखा : मुझे माफ कर दो अनिता, बच्चों को खूब पढ़ाना

कमरे के जांच के दौरान पुलिस ने मृतक श्याम सुंदर का सुसाइड नोट बरामद किया है. सुसाइड नोट में अपने स्वास्थ्य कारणों का हवाला देते हुए कहा कि अब शरीर साथ नहीं दे रहा है. वहीं, पत्नी से क्षमा मांगते हुए कहा कि इतने दिनों तक का ही साथ था. शरीर ही साथ नहीं दे रहा है. अक्सर सर्दी-खांसी लगी रहती है. तबीयत भी ठीक नहीं रहता है. बच्चों को खूब पढ़ाना.

जूनियर इंजीनियर के सुसाइड करने पर परिवार हतप्रभ

मृतक का भागीना अरुण कुमार देव ने कहा कि मामा सुंदर श्याम के सुसाइड पर पूरा परिवार हतप्रभ है. हाल में वो घूमने के लिए गये हुए थे. उनसे काफी देर तक ऑनलाइन बात भी हुई थी. वे काफी मजबूत दिल के साथ खुश मिजाज इंसान थे. उनके आत्महत्या की खबर से पूरा परिवार अचंभित है.

1995 बैच के इंजीनियर थे श्याम सुंदर

पथ प्रमंडल विभाग के एग्जिक्यूटिव इंजीनियर ने बताया कि मृतक श्याम सुंदर 1995 बेच के इंजीनियर थे. वर्ष 2019 में सरायकेला पथ प्रमंडल में बतौर जूनियर इंजीनियर के रूप में पदस्थापित किये गये थे. उन्होंने बताया कि वे काम के प्रति काफी सजग व मिलनसार व्यक्ति थे. उनके निधन से सरायकेला पथ प्रमंडल को अपूरणीय क्षति हुई है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें