1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. saraikela kharsawan
  5. jharkhand home guard jawan meet with kharswan mla dashrath gagarai requesting facilities like bihar home guard jawans jharkhand news update pwn

विधायक दशरथ गागराई से मिले होम गार्ड वेलफेयर एसोसिएशन के सदस्य, सुविधा बढ़ाने की मांग

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
विधायक दशरथ गागराई के साथ वार्ता करते होम गार्ड वेलफेयर  के सदस्य
विधायक दशरथ गागराई के साथ वार्ता करते होम गार्ड वेलफेयर के सदस्य
Prabhat Khabar

खरसावां (संवाददाता) : झारखंड होमगार्ड वेलफेयर एसोसिएशन के पश्चिमी सिंहभूम जिला इकाई का एक प्रतिनिधि मंडल खरसावां विधायक दशरथ गागराई से मिल कर अपने मांगों के समर्थन में ज्ञापन सौंपा. एसोसिएशन के अध्यक्ष चरण चातर के नेतृत्व में विधायक को सौंपे गये मांग पत्र में बिहार राज्य के होमगार्डों को मिल रहे सुविधाओं के अनुरूप झारखंड के होमगार्डों को भी सुविधा उपलब्ध कराने की मांग की गई है.

खरसावां : झारखंड होमगार्ड वेलफेयर एसोसिएशन के पश्चिमी सिंहभूम जिला इकाई का एक प्रतिनिधि मंडल खरसावां विधायक दशरथ गागराई से मिल कर अपने मांगों के समर्थन में ज्ञापन सौंपा. एसोसिएशन के अध्यक्ष चरण चातर के नेतृत्व में विधायक को सौंपे गये मांग पत्र में बिहार राज्य के होमगार्डों को मिल रहे सुविधाओं के अनुरूप झारखंड के होमगार्डों को भी सुविधा उपलब्ध कराने की मांग की गई है.

बिहार के तर्ज पर झारखंड के होम गार्डों को प्रति दिवस 774 रुपया, कर्मचारी भविष्य निधि की सुविधा, बीमा पेंशन की सुविधा देने की मांग की गई है. बताया गया कि झारखंड में होम गार्डों को प्रति दिवस 500 रुपया का ही भुगतान किया जाता है. बताया गया कि बिहार में ड्यूटी के दौरान होम गार्ड की मृत्यु पर चार लाख रुपये मिलता है, जबकि झारखंड में दो लाख रुपये दिया जाता है.

झारखंड में होम गार्डों को कर्मचारी भविष्य निधि, पेंशन योजना आदि का लाभ नहीं मिलती है. बिहार के होम गार्ड के जवानों के तर्ज पर प्रदि दिवस मानदेय 774 रुपया, कर्मचारी भविष्य निधि, नियमित ड्यूटी दिलाने की मांग की है. साथ ही वैसे होम गार्ड के जवान जिन्हें बगैर किसी जांच पड़ताल व स्पष्ठीकरण जारी किये सेवा मुक्त किया गया है, उन सभी जवानों को सेवा में पुन वापस लाने की मांग की गयी है.

इस पर विधायक दशरथ गागराई ने कहा कि झारखंड होमगार्ड वेलफेयर एसोसिएशन के पश्चिमी सिंहभूम जिला इकाई के मांगों पर कार्रवाई हेतु मुख्यमंत्री के समक्ष रखा जायेगा.

Posted By: Pawan Singh

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें