1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. saraikela kharsawan
  5. former district bar association president vn rath passed away governor and jharkhand transport minister champai soren expressed grief sam

जिला बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष वीएन रथ का निधन, राज्यपाल एवं परिवहन मंत्री चंपई सोरेन ने जताया शोक

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news : सरायकेला- खरसावां जिला बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष वीएन रथ के निधन पर अधिवक्ताओं ने जताया शोक.
Jharkhand news : सरायकेला- खरसावां जिला बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष वीएन रथ के निधन पर अधिवक्ताओं ने जताया शोक.
प्रताप मिश्रा.

Jharkhand news, Saraikela news : सरायकेला : सरायकेला-खरसावां जिला के वरिष्ठ अधिवक्ता सह राज्य अल्पसंख्यक आयोग के पूर्व उपाध्यक्ष एवं जिला बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष विश्वनाथ रथ (वीएन रथ) का बुधवार तड़के साढे पांच बजे निधन हो गया. स्वर्गीय रथ अपने अावास में ही अंतिम सांस लिये. पिछले एक- दो दिनों से वे अस्वस्थ्य चल रहे थे. राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू समेत राज्य के आदिवासी कल्याण सह परिवहन मंत्री चंपाई सोरेन ने शोक प्रकट किया है.

राज्यपाल ने वीएन रथ के निधन को विधिक क्षेत्र के साथ सामाजिक क्षेत्र के लिए भी अपूरणीय क्षति बताया है. राज्यपाल ने उनकी पत्नी गायित्री रथ से दूरभाष पर बातकर कहा कि इस पीड़ादायक क्षण में हम सभी आपके साथ हैं. उन्होंने कहा कि ईश्वर दिवंगत आत्मा को चिरशांति प्रदान करें.

वहीं, सरायकेला- खरसावां बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष वीएन रथ के निधन पर राज्य के आदिवासी कल्याण सह परिवहन मंत्री चंपाई सोरेन ने शोक प्रकट किया है. मंत्री श्री सोरेन ने कहा कि अधिवक्ता वीएन रथ का निधन सरायकेला के लिए अपूरणीय क्षति है. उनसे मेरा व्यक्तिगत संबंध था. जब भी किसी काम से न्यायालय आना हाेता था, तो उनसे मिलना जरूर होता था. स्वर्गीय रथ एक अच्छे अधिवक्ता के साथ- साथ अच्छे नेतृत्वकर्त्ता भी थे. इनकी कमी सरायकेला में सदैव खलेगी. इधर, वरिष्ठ अधिवक्ता वीएन रथ के निधन पर सरायकेला में शोक की लहर दौड़ पड़ी. व्यवहार न्यायालय के कई अधिवक्ता सहित स्थानीय लोग उनके घर में जुटने लगे एवं पार्थिव शरीर का अंतिम दर्शन किये.

स्वर्गीय रथ सरायकेला- खरसावां जिला बार एसोसिएशन के 7 बार अध्यक्ष रह चुके हैं. स्वर्गीय रथ अपने पीछे भरा-पूरा परिवार छोड़ गये हैं. परिवार में पत्नी के अलावा एक पुत्र और एक पुत्री है. पुत्र अमेरिका में रहता है, जबकि पुत्री जमशेदपुर में रहती थी. निधन की खबर सुन कर समाजसेवी सह अधिवक्ता जलेश कवि, निर्मल आचार्य, देवाशीष ज्योतिषी सहित कई अधिवक्ता उनके अवास पर पहुंचे और पार्थिव शरीर का अंतिम दर्शन किये.

बार चुनाव में एकतरफा निर्वाचित होते थे वीएन रथ


क्षेत्र में लोकप्रिय होने के कारण सरायकेला- खरसावां बार एसोशिएसन में एक तरफा मुकाबले में हमेशा अध्यक्ष निर्वाचित होते थे. वीएन रथ 7 बार अध्यक्ष रह चुके हैं. इसके अलावा वर्ष 2005- 06 में ओड़िया भाषा में राज्य अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष भी रहे हैं. स्व रथ काफी अच्छे अधिवक्ता माने जाते थे. उनका निधन बार के लिए अपूरणीय क्षति है. स्व रथ अधिवक्ता होने के साथ- साथ खेल, कला संस्कृति के विकास एवं बढ़ावा देने में भी बढ़- चढ़ कर हिस्सा लेते थे. जिला स्पोर्ट्स एसोसिएशन में पदाधिकारी, राजकीय छऊ कला केंद्र द्वारा आयोजित छऊ महोत्सव में सदस्य भी रह चुके हैं.

बार एसोसिएशन में शोक सभा का आयोजन, निधन पर जताया शोक

जिला बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष विश्वनाथ रथ के आकस्मिक निधन पर सरायकेला बार एसोसिएशन ने शोक प्रकट किया है. एसोसिएशन की बैठक उपाध्यक्ष प्रभात कुमार की अध्यक्षता में हुई, जिसमें दिवंगत आत्मा की शांति के लिए 2 मिनट का मौन रखा गया. उपाध्यक्ष प्रभात कुमार ने कहा कि स्वर्गीय रथ का निधन सरायकेला- खरसावां जिला बार एसोसिएशन के लिए अपूरणीय क्षति है. सचिव देवाशीष ज्योतिषी ने कहा कि उनके निधन से बार ने एक अच्छे अधिवक्ता के साथ- साथ एक मिलनसार व्यक्ति को खो दिया है. उन्होंने कहा कि वे अस्वस्थ होने के बाद भी काम के प्रति सर्मपण के कारण जिला बार आते थे और जरूरी काम को निपटाते थे. जिला बार को एक परिवार की तरह चलाते थे. उनके निधन से सरायकेला- खरसावां जिला बार में एक अच्छे अधिवक्ता एवं मुखर व्यक्ति को खो दिया है. मौके पर अधिवक्ता निर्मल आचार्य, मधुसुदन आचार्य, केदार अग्रवाल, असीत षाड़ंगी, प्रणव प्रताप सिंहदेव, अरुण सिंह सहित अन्य ने भी संबोधित करते हुए शोक प्रकट किया. मौके पर राधेश्याम साह, अरविंद तिवारी, सच्चिदानंद प्रधान, राजकुमार साहु, अनिल षाड़ंगी. नयना पहाड़ी, संदीप पति, तापस लायक, सुशील सिंहदेव, प्रकाश आचार्य, लखिंद्र के अलावे कई अधिवक्ता उपस्थित थे.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें