1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. saraikela kharsawan
  5. coronavirus in jharkhand 70 beds in sadar hospital of seraikela and 30 beds will be increased in gamharia chc dc gave many instructions smj

Coronavirus in Jharkhand : सरायकेला के सदर हॉस्पिटल में 70 और गम्हरिया CHC में बढ़ेंगे 30 बेड, डीसी ने दिये कई निर्देश

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news : सरायकेला डीसी अरवा राजकमल ने सदर हॉस्पिटल का किया निरीक्षण. दिये कई निर्देश.
Jharkhand news : सरायकेला डीसी अरवा राजकमल ने सदर हॉस्पिटल का किया निरीक्षण. दिये कई निर्देश.
प्रभात खबर.

Coronavirus in Jharkhand (प्रताप मिश्रा-सरायकेला) : झारखंड के सरायकेला- खरसावां जिला अंतर्गत सरायकेला सदर हॉस्पिटल और गम्हरिया CHC में बेड की संख्या में बढ़ोतरी होगी. जिले में कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रसार को देखते हुए सरायकेला डीसी अरवा राजकमल ने जिले में 100 ऑक्सीजन स्पोटेड बेड की संख्या बढ़ाने के लिए सदर हॉस्पिटल, सरायकेला का निरिक्षण किया. निरीक्षण में डीसी ने सदर हॉस्पिटल अंतर्गत तीसरे तल्ले पर महिला वार्ड का भी जायजा लिया. वहीं, तीसरे तल्ले को कोविड वार्ड बनाते हुए 50 ऑक्सीजन स्पोटेड बेड बढ़ाने एवं सदर हॉस्पिटल स्थित कोविड वार्ड में 20 ऑक्सीजन स्पोटेड बेड बढ़ाने का निर्देश दिया.

ऑक्सीजन युक्त होगा हर बेड

निरीक्षण में डीसी ने सभी बेड पर ऑक्सीजन सप्लाई के लिए ऑक्सीजन पाइप लाइन फिटिंग करने को कहा, ताकि सभी बेड ऑक्सीजन स्पोटेड किया जा सके. डीसी ने सीएस को संवेदक के साथ समन्वय स्थापित करते हुए जल्द से जल्द पूर्ण करने के निदेश दिये. डीसी ने कोरोना संक्रमित मरीजों के वार्ड में आने-जाने के लिए अलग रास्ता निर्धारित करने तथा संक्रमित मरीजों के चिकित्सीय परामर्श के लिए टीम गठित कर लेने को कहा.

सीएचसी गम्हरिया में भी 30 ऑक्सीजन

निरीक्षण कें क्रम में डीसी ने सिविल सर्जन डॉ हिमांशु भूषण बरवार को सीएचसी गम्हरिया में 30 ऑक्सीजन स्पॉटेड बेड बढ़ाने के लिए ऑक्सीजन पाइप लाइन सेटिंग कार्य को वर्क टीम के साथ निरीक्षण कर जल्द से जल्द पूर्ण करने के निदेश दिया. डीसी ने कहा कि अस्पताल में गर्भवती महिला एवं ओपीडी वार्ड को सुचारु रूप से चलाते रहे जिससे आम मरीजों को भी स्वास्थ्य सुविधा मिलते रहे.

जिला में 191 ऑक्सीजन युक्त बेड है उपलब्ध: डीसी

डीसी अरवा राजकमल ने बताया कि जिले में सरकारी एवं गैर सरकारी मिलाकर सभी 191 ऑक्सीजन स्पोटेड बेड है, जिसमे 133 सरकारी एवं 58 प्राइवेट अस्पताल में है. डीसी ने बताया कि वर्तमान में 100 मरीज भर्ती हैं. जिले में कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रसार को देखे हुए ऑक्सीजन स्पोटेड बेड कि संख्या बढ़ाया जा रहा है. उन्होंने कहा कि जिला अंतर्गत सरकारी केंद्रों में जितने भी ऑक्सीजन स्पोटेड बेड बनाया गया है वह ऑक्सीजन सिलिंडर के माध्यम से चलाया जा रहा है, जिसमें बार-बार सिलिंडर बदलने एवं लाने- ले जाने जैसे तमाम समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है.

राज्य सरकार ने इसे गंभीरता से लेते हुए ऑक्सीजन पाइप लाइन के माध्यम से कनेक्ट करते हुए ऑक्सीजन स्पोटेड बेड बनाने के निदेश दिये हैं. इसी कड़ी में सदर अस्पताल में 70 बेड एवं सीएचसी गम्हरिया में 30 ऑक्सीजन स्पोटेड बेड बढ़ाने के लिए निरीक्षण कर सिविल सर्जन एवं पाइप लाइन फिटिंग करने के लिए एक निजी कंपनी के प्रतिनिधि को आवश्यक दिशानिर्देश दिया गया है.

कंपनी के प्रतिनिधि को ऑक्सीजन पाइप लाइन फिटिंग एवं सिलिंडर के रख-रखाव के लिए जगह चिह्नित कराते हुए कार्य को जल्द से जल्द पूर्ण करने के निदेश दिए गए है. जिले में 100 ऑक्सीजन युक्त बेड कि संख्या बढ़ने से ऐसे संक्रमित मरीज जिनसे ऑक्सीजन की आवश्यकता हो ससमय ऑक्सीजन दिया जा सकेगा. कोरोना संक्रमण लगातार बढ़ रहा है. ऐसे में ऑक्सीजन युक्त बेड के लिए संक्रमित मरीजों को भाग- दौड़ ना करना पड़े इसके लिए जिला प्रशासन लगातार प्रयासरत है. डीसी के निरीक्षण के दौरान डीडीसी प्रवीण कुमार गागराई, सिविल सर्जन डॉ हिमांशु भूषण बरवार सहित अन्य चिकित्सक उपस्थित थे.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें