हथियार बंद अपराधियों ने पत्‍थर खदान में की ताबड़तोड़ फायरिंग, हाइवा को बम से उड़ाया

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

साहिबगंज/ मंडरो / मिर्जाचौकी : मिर्जाचौकी थाना क्षेत्र के छोटा दामिन भीठा मौजा स्थित सीटीएस कम्पनी के पत्थर खदान में अज्ञात अपराधियों ने ताबड़तोड़ फायरिंग की और लाखों के वाहन को बम से उड़ाया.

मिली जानकारी के अनुसार रविवार की रात मिर्जाचौकी थाना क्षेत्र स्थित सीटीएस इंडस्ट्री कम्पनी के पत्थर खदान में 10 से 20 की संख्या में हथियार से लैस नकाबपोश अपराधियों ने ताबड़तोड़ फायरिंग की. अपराधियों ने खदान में कार्यरत सभी कामगारों को उक्त स्थल से भागने को कहा और पोपलेन व एक हाइवा को बम से उड़ा दिया.

घटना की जानकारी मिर्जाचौकी थाना को सीटीएस कम्पनी ने रात में ही दिया गया. घटना की जानकारी मिलते ही साहिबगंज एसडीपीओ राजा मित्रा, सदर इंस्पेक्टर धर्मपाल सिंह, मुफ्फसिल थाना प्रभारी कैलाश साह, नगर थाना, जिरवाबाडी थाना व मिर्जाचौकी थाना प्रभारी दलबल के साथ घटना स्थल पर पहुंच कर घटना की जानकारी ली.

अपराधियों की ओर से न तो किसी फिरौती की मांग की गयी है और न ही किसी प्रकार की कोई धमकी दी गयी है. पुलिस पूरे मामले की जांच में जुट गयी है. एसपी अमन कुमार ने भी घटना स्थल पर पहुंचकर मामले की जानकारी ली.

* सीटीएस के प्रोपराटर भगवान अग्रवाल ने अपराधियों की गिरफ्तारी की मांग की

घटना के बारे में सीटीएस कंपनी के प्रोपराइटर भगवान अग्रवाल ने बताया, अपराधियों ने घटना को क्‍यों अंजाम दिया यह समझ से परे है, जबकि हमारी किसी से कोई दुश्मनी भी नहीं है.

उन्‍होंने कहा, माइनंस पर अपराधियों की ओर से फायरिंग करने और बम से वाहनों को उड़ाने की घटना से हमलोग व हमारे सभी कर्मी सदमे में है. उन्‍होंने पुलिस सुरक्षा की मांग की साथ ही पन्द्रह दिनों तक पुलिस कैंप की भी मांग की. उन्‍होंने जल्द से जल्द अपराधियों की गिरफ्तारी की मांग की.

* क्या कहते हैं एसपी अमन कुमार

सीटीएस कम्पनी का एक पोपलेन व एक हाइवा अज्ञात लोगों के द्वारा जलाया गया है. असामाजिक तत्व के द्वारा इस तरह की घटना को अंजाम दिया गया है. हालांकि इस घटना में किसी भी व्‍यक्ति को कोई नुकसान नहीं हुआ है. घटना स्थल से पुलिस ने दो खोखा बरामद किया है.

* कम्पनी के एक कर्मी ने बतायी आंखो देखी

सीटीएस कम्पनी के एक कर्मी अजय तुरी ने बताया की हमलोग एक झोपड़ी में बैठे थे, तभी अचानक रात करीब 12.30 बजे 25 से 30 की संख्या में नकाबपोश व हथियार से लैस अपराधियों ने फायरिंग करते हुए सभी को वहां से भागने को कहा.

हमसभी अपनी जान बचाने के लिए वहां से भागे. भागने के क्रम में खदान के एक कर्मी खाई मे गीर कर बेहोश हो गया और एक गड्ढे में करीब दो घंटे तक पडा रहा.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें