1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. train coming from bihar is bringing corona to jharkhand trains from bihar will not come from july 13 on the request of cm hemant soren

'बिहार से आ रही ट्रेन झारखंड में ला रही कोरोना' सीएम हेमंत सोरेन के आग्रह पर 13 जुलाई से नहीं आयेंगी बिहार से ट्रेनें

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के आग्रह पर रेल मंत्रालय ने 13 जुलाई से बिहार से आनेवाली ट्रेनों का परिचालन किया बंद
मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के आग्रह पर रेल मंत्रालय ने 13 जुलाई से बिहार से आनेवाली ट्रेनों का परिचालन किया बंद
फाइल फोटो

रांची : झारखंड में कोरोना (coronavirus in jharkhand) का संक्रमण बिहार (Bihar) से चलनेवाली ट्रेनों की वजह से बढ़ रहा है. ट्रेनों के जरिये बिहार से झारखंड आनेवाले कोरोना संक्रमित लोगों के कारण राज्य के विभिन्न इलाकों में मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (CM Hemant Soren) ने इसी वजह से रेल मंत्री को पत्र लिख कर बिहार से झारखंड आनेवाली ट्रेनों को बंद करने का आग्रह किया है. श्री सोरेन ने कहा है कि झारखंड में संक्रमण रोकने के लिए बिहार से आनेवाली ट्रेनों (Trains) का परिचालन बंद किया जाना जरूरी है. रेलवे ने आग्रह स्वीकार करते हुए 13 जुलाई से ट्रेनों का परिचालन बंद करने का आदेश जारी कर दिया है. पढ़िए विवेक चंद्र की रिपोर्ट.

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के आग्रह पर रेल मंत्रालय ने बिहार से ट्रेनों का परिचालन बंद करने का फैसला किया है. 13 जुलाई से बिहार से झारखंड के लिए चलनेवाली दोनों ट्रेनों का परिचालन बंद कर दिया जायेगा. रेल मंत्रालय ने इससे संबंधित आदेश जारी कर दिया है. अगले आदेश तक बिहार से झारखंड के लिए कोई ट्रेन नहीं चलेगी. फिलहाल पटना से जनशताब्दी व दानापुर-टाटानगर ट्रेन चल रही है.

जमशेदपुर में दानापुर-टाटा सुपर एक्सप्रेस के 110 यात्रियों को कोरेंटिन किया गया. गुरुवार शाम को पूर्वी सिंहभूम जिला प्रशासन ने बिहार से पहुंची दानापुर-टाटा सुपर एक्सप्रेस के 350 यात्रियों में से 110 को उनकी सहमति से कोरेंटिन किया. उन्हें सिदगोड़ा स्थित प्रोफेशनल कॉलेज में बनाये गये कोरेंटिन आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है.

सीमा पर बिना पास प्रवेश की अनुमति नहीं है. अन्य राज्यों से झारखंड में प्रवेश के लिए पास अनिवार्य है. बिना पास के राज्य में प्रवेश की अनुमति नहीं दी गयी है. मुख्य सचिव सुखदेव सिंह ने सीमावर्ती इलाकों में इस नियम का सख्ती से पालन करने को कहा है. उन्होंने उपायुक्तों से सीमा पर सुरक्षा बढ़ाने और बिना पास के किसी को भी राज्य में प्रवेश की अनुमति नहीं देने का निर्देश दिया है.

बढ़ते संक्रमण के कारण कई जिलों में सख्ती बढ़ा दी गयी है. झारखंड में कोरोना के मामले बढ़ते जा रहे हैं. इसे देखते हुए प्रभावित जिलों में अब सख्ती बढ़ायी जा रही है. साथ ही धारा-144 लागू की जा रही है. रामगढ़, हजारीबाग, पलामू और जमशेदपुर में इसे और सख्त करने के आदेश दिये गये हैं. रामगढ़ में तो झारखंड के बाहर से आनेवालों की कोरोना जांच अनिवार्य कर दी गयी है. हजारीबाग के कैदी वार्ड में भर्ती एक कोरोना मरीज के फरार होने के बाद पूरे शहर में हाई अलर्ट घोषित कर दिया गया है.

Posted By : Guru Swarup Mishra

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें