1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. senior leader of jharkhand mukti morcha and former minister simon marandi died in kolkata of west bengal in hospital cm hemant soren expressed grief read how the journey from the politics of student life to the minister mp from jharkhand grj

झामुमो के वरिष्ठ नेता व पूर्व मंत्री साइमन मरांडी का कोलकाता में निधन, सीएम हेमंत सोरेन ने जताया शोक, पढ़िए छात्र जीवन की राजनीति से कैसे मंत्री-सांसद तक का तय किया सफर

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
JMM News : झामुमो के वरिष्ठ नेता व पूर्व मंत्री साइमन मरांडी का निधन
JMM News : झामुमो के वरिष्ठ नेता व पूर्व मंत्री साइमन मरांडी का निधन
सोशल मीडिया

Jharkhand News, रांची न्यूज : झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के कद्दावर नेता व पूर्व मंत्री साइमन मरांडी का निधन हो गया. अब वो हमारे बीच नहीं रहे. कोलकाता के प्राइवेट हॉस्पिटल में उन्होंने आखिरी सांस ली. वे 74 वर्ष के थे. तबीयत खराब होने के बाद उन्हें कोलकाता के अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां सोमवार की देर रात उन्होंने अंतिम सांस ली. वे पाकुड़ जिले के लिट्टीपाड़ा विधानसभा से विधायक रहे थे और मंत्री पद को भी सुशोभित किया था. झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन व स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता समेत अन्य ने उनके निधन पर शोक जताया है.

झामुमो के केंद्रीय उपाध्यक्ष साइमन मरांडी पिछले कुछ दिनों से बीमार चल रहे थे. तबीयत बिगड़ने पर उन्हें कोलकाता के आरएन टैगोर अस्पताल में भर्ती कराया गया था. वहां उनकी स्थिति नाजुक बनी हुई थी. सोमवार की देर रात अस्पताल में उन्होंने आखिरी सांस ली.

झामुमो के वरिष्ठ नेता रहे साइमन मरांडी ने छात्र जीवन से ही राजनीति की शुरुआत की थी.
साइमन मरांडी ने पहली बार 1977 में चुनाव लड़ा था और निर्दलीय प्रत्याशी मरांग मुर्मू को 149 वोटों से हराकर लिट्टीपाड़ा के विधायक बने थे. जानकारी के अनुसार साइमन मरांडी ने झामुमो सुप्रीमो एवं पूर्व सीएम शिबू सोरेन के साथ मिलकर झामुमो (झारखंड मुक्ति मोर्चा) पार्टी बनायी थी. लिट्टीपाड़ा विधानसभा से उन्होंने पांच बार जीत हासिल की थी. 1989 में लोकसभा सांसद बनने के कारण यह सीट अपनी पत्नी सुशीला हांसदा को सौंप दी थी. वर्तमान में इस लिट्टीपाड़ा सीट से उनके पुत्र दिनेश विलियम मरांडी विधायक हैं.

लिट्टीपाड़ा विधानसभा से साइमन मरांडी पांच बार विधायक रहे. 1977, 1980, 1985, 2009 एवं 2017 में विधायक रहे. 2014 के विधानसभा चुनाव में भाजपा के टिकट से चुनाव लड़े थे और हार का सामना करना पड़ा था. साइमन मरांडी झामुमो के टिकट पर राजमहल सीट से 1989 और 1991 में सांसद भी रह चुके हैं. इतना ही नहीं, हेमंत सोरेन की सरकार में वर्ष 2013 में मंत्री भी थे.

Posted By : Guru Swarup Mishra

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें