1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. jharkhand weather forecast weather will change heavy rain till july 22 monsoon 2021 latest update grj

झारखंड में बदलेगा मौसम का मिजाज, कब तक होगी भारी बारिश, ये है मौसम वैज्ञानिकों का पूर्वानुमान

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Monsoon In Jharkhand : 22 जुलाई तक  हो सकती है भारी बारिश
Monsoon In Jharkhand : 22 जुलाई तक हो सकती है भारी बारिश
फाइल फोटो

Jharkhand Weather Forecast, रांची न्यूज : झारखंड में मौसम का मिजाज बदलने वाला है. राज्य के कई इलाकों में अगले चार दिनों तक भारी बारिश हो सकती है. मौसम वैज्ञानिकों की मानें तो आज 19 जुलाई से लेकर 22 जुलाई तक भारी बारिश हो सकती है.

मौसम विभाग के अनुसार झारखंड के दक्षिणी-पश्चिमी हिस्से में 19, 20, 21 और 22 जुलाई को कहीं कहीं भारी बारिश हो सकती है. 20 जुलाई को राज्य के उत्तरी भाग में कहीं-कहीं भारी बारिश हो सकती है. राजधानी रांची में रविवार को कहीं-कहीं हल्की बारिश हुई. अगले कुछ दिनों तक राजधानी रांची और आसपास मानसून की हल्की बारिश होगी.

झारखंड में मानसून सामान्य रहा. रविवार को राज्य के लगभग सभी स्थानों पर हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश हुई. कहीं-कहीं भारी बारिश भी हुई. सबसे अधिक वर्षा दुमका के खुशीयारी में हुई. पाकुड़िया में 66, तिलैया में 49, मसानजोर में 45.4 मिमी के आसपास बारिश हुई.

मौसम विभाग के अनुसार राज्य में प्रत्येक वर्ष जून में अच्छी बारिश हुई है. झारखंड में जून के महीने में वर्ष 2012 में 108.5 मिमी, वर्ष 2013 में 360 मिमी, वर्ष 2014 में 175.8 मिमी, वर्ष 2015 में 281.7 मिमी, वर्ष 2016 में 158.2 मिमी, वर्ष 2017 में 172.3 मिमी, वर्ष 2018 में 110.6 मिमी, वर्ष 2019 में 124 मिमी, 2020 में 311.1 मिमी वर्षा हुई थी.

मौसम विभाग के आंकड़ों पर गौर करें तो वर्ष 2020 में रांची में पूरे जून माह में 311.1 मिमी बारिश हुई थी. वर्ष 2013 में जून माह में 360.7 मिमी बारिश हुई थी. वर्ष 2011 में 588 मिमी बारिश हुई थी. 2019 में 124 मिमी, 2018 में 110.6 मिमी, 2017 में 172.3 मिमी, 2016 में 158.2 मिमी, 2015 में 281.7 मिमी, 2014 में 175.8 मिमी बारिश हुई थी.

मौसम विभाग के अनुसार, रांची में जुलाई में हर वर्ष अच्छी बारिश हुई है. 2017 में पूरे माह 666.4 मिमी वर्षा हुई. इसके अलावा वर्ष 2010 में 224.3 मिमी, 2011 में 211.3 मिमी, 2012 में 279.8 मिमी, 2013 में 268.3 मिमी, 2014 में 325 मिमी, 2015 में 356.8 मिमी, 2016 में 609.4 मिमी, 2018 में 389.7 मिमी व 2019 में 213.8 मिमी बारिश हुई.

Posted By : Guru Swarup Mishra

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें